1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. music teachers of dumka sahibganj and jamtara were not paid salaries after jharkhand high court order grj

हाइकोर्ट के आदेश के बाद भी दुमका, साहिबगंज और जामताड़ा के संगीत शिक्षकों का नहीं हुआ वेतन भुगतान, ये है वजह

झारखंड हाइकोर्ट के आदेश के चार सप्ताह बीतने के बाद भी संताल परगना के संगीत शिक्षकों के लंबित वेतन के भुगतान की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है. साहिबगंज में 5, जामताड़ा में 2 और दुमका में 1 शिक्षक को छोड़ सभी जिले में समान केटेगरी के संगीत शिक्षकों का वेतन चालू है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
झारखंड हाईकोर्ट
झारखंड हाईकोर्ट
फाइल फोटो

Jharkhand News, देवघर न्यूज : झारखंड हाइकोर्ट के आदेश के चार सप्ताह बीतने के बाद भी संताल परगना के संगीत शिक्षकों के लंबित वेतन के भुगतान की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है. साहिबगंज में 5, जामताड़ा में 2 और दुमका में 1 शिक्षक को छोड़ सभी जिले में समान केटेगरी के संगीत शिक्षकों का वेतन चालू है.

सभी जिले के डीइओ कह रहे हैं कि अभी तक माध्यमिक शिक्षा निदेशालय (Directorate of Secondary Education) से कोई आदेश नहीं आया है. जबकि आरडीडीइ का कहना है कि संगीत शिक्षकों (Music teachers) के वेतन भुगतान को लेकर निदेशालय से सभी डीइओ को पत्र भेज दिया है. निदेशालय ने वैसे संगीत शिक्षकों की सूची मांगी है जिनका वेतन भुगतान (salary payment) लंबित है. लेकिन कोर्ट ने 4 सप्ताह का समय दिया था, एक माह से भी अधिक हो गये, कहीं कोई प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है.

उधर, संताल परगना के सभी संगीत शिक्षक जिन्हें विगत डेढ़ साल से वेतन नहीं मिल रहा है, उनकी आर्थिक स्थिति दयनीय हो गयी है. लगातार ये लोग अपने अपने डीइओ से गुहार लगा रहे हैं लेकिन कुछ नहीं हो रहा है. संगीत शिक्षकों ने हाइकोर्ट के आदेश की अवहेलना कर वेतन भुगतान नहीं करने को लेकर सीएमओ और सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) के अलावा शिक्षा मंत्री से भी संज्ञान लेने की गुहार लगायी है.

संगीत शिक्षकों के वेतन भुगतान संबंधी आदेश कहां अटका है, सभी संशय में हैं. आरडीडीइ की मानें तो निदेशालय का पत्र सभी डीइओ को भेज दिया गया है. सभी डीइओ को सूची तैयार करने को कहा गया है, जिन्हें भुगतान होना है. वहीं साहिबगंज, जामताड़ा और दुमका जिले के डीइओ का कहना है कि आदेश का इंतजार कर रहे हैं. अब निदेशालय से आया आदेश आरडीडीइ कार्यालय में अटका है या सभी डीइओ के कार्यालय में, यह चिंता का विषय है.

कोर्ट ने चार सप्ताह का समय दिया था, लेकिन अभी तक वेतन का भुगतान नहीं किया गया है. परेशान संगीत शिक्षक कांटेम्प्ट ऑफ कोर्ट (Contempt of Court) की तैयारी में हैं. ज्ञात हो कि आरडीडीइ रजनी देवी खुद ही पाकुड़ और गोड्डा जिले की डीइओ के प्रभार में हैं. जहां की प्रभार में स्वयं आरडीडीइ हैं, दोनों ही जिले में समान केटेगरी के सभी संगीत शिक्षकों को वेतन का भुगतान हो रहा है. लेकिन दुमका और साहिबगंज जिला ही स्पेशल जिला है जहां भुगतान बंद है.

दुमका के डीइओ मसुदी टुडू ने कहा कि निदेशालय से मार्गदर्शन प्राप्त होते ही इस दिशा में अग्रेतर कार्रवाई की जायेगी.

साहिबगंज के प्रभारी डीइओ मिथिलेश झा ने कहा कि जिले में पांच संगीत शिक्षक हैं. आरडीडी के द्वारा अभी तक में कोई जानकारी नहीं मिली है लेकिन हमें जो जानकारी है कि निदेशालय को हाइकोर्ट ने कहा है कि कागजात की जांच कर लें और उस जांच उसके बाद जो भी पत्र हमारे यहां आयेगा तब वेतन भुगतान करने की प्रक्रिया की जायेगी. अभी तक सरकार और विभाग के द्वारा कोई पत्र हमें नहीं मिला है.

जामताड़ा के डीइओ अभय शंकर ने बताया कि संगीत शिक्षक के वेतन भुगतान को लेकर निदेशालय से डायरेक्टर का आदेश प्राप्त नहीं हुआ है. आदेश प्राप्त होते ही वेतन भुगतान की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी जायेगी. जिले भर में दो संगीत शिक्षक है. एक बालिका उच्च विद्यालय जामताड़ा व दूसरा उच्च विद्यालय खजुरी में पदस्थापित हैं.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें