1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. jharkhand crime news in manikpur at deoghar criminals looted around 10 lakh rupees from petrol pump workers in broad daylight shot and injured smj

Jharkhand Crime News : देवघर के मानिकपुर में दिनदहाड़े पेट्रोल पंप कर्मी से अपराधियों ने लूटे करीब 10 लाख, गोली मार कर किया घायल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : अपराधियों ने पेट्रोल पंप कर्मी को गोली मार कर किया घायल. लूटे करीब 10 लाख रुपये.
Jharkhand news : अपराधियों ने पेट्रोल पंप कर्मी को गोली मार कर किया घायल. लूटे करीब 10 लाख रुपये.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jharkhand Crime News, Deoghar News, देवघर (आशीष कुंदन) : देवघर के जसीडीह थाना क्षेत्र स्थित मानिकपुर रेलवे ओवरब्रिज पर दिनदहाड़े एक सफेद रंग की बाइक पर सवार 3 अपराधियों ने जुबली पेट्रोल पंप, मानिकपुर के एकाउंटेंट किंशु सामंता को गोली मारकर 9.61 लाख रुपये से भरे थैला लूट लिया. घटना के बाद अपराधियों की बिना नंबर की बाइक में ही चाबी टूट गयी, तो उनलोगों ने गाड़ी वहीं छोड़ दी और पेट्रोल पंप कर्मियों की बाइक (JH 15M 0557) से वे लोग भाग निकले. बाद में घटना की सूचना पाकर जसीडीह थाने की पुलिस घटनास्थल पहुंची और घायल पेट्रोल पंप कर्मी को इलाज के लिये सदर अस्पताल पहुंचाया. घटनास्थल से जसीडीह थाने की पुलिस अपराधियों की छूटी हुई बाइक बरामद कर थाना ले गयी. घटना के बाद से ही पुलिस अपराधियों की तलाश में छापेमारी करने में जुटी है.

पेट्रोल पंप, मानिकपुर के एकाउंटेंट की गोली मार रुपये से भरे थैले को लूट कर ले जाने के मामले में पुलिस जांच- पड़ताल तेज कर दी है. घटना की जानकारी पाकर SDPO विकास चंद्र श्रीवास्तव व नगर थाना प्रभारी रतन कुमार सिंह घायल पेट्रोल पंप के एकाउंटेंट का हालचाल लेने सदर अस्पताल पहुंचे. घायल एकाउंटेंट और पेट्रोल पंप के मैनेजर महावीर प्रसाद यादव से SDPO ने घटना के बारे में जानकारी ली.

घायल पेट्रोल पंप एकाउंटेंट किंशु के प्राथमिक उपचार के बाद ऑन ड्यूटी सर्जन डॉ रवि कुमार ने बाएं जांघ में हड्डी छेद करते हुए गोली फंसे होने की बात कही. वहीं, उसके सिर में भी तीन जगह जख्म पाया गया. इस बारे में किंशु ने डॉक्टर को बताया कि अपराधियों ने उसके सिर पर पिस्टल के बट से मारकर घायल किया है. डॉक्टर ने उसकी गंभीर हालत देखते हुए बेहतर इलाज के लिये रांची रेफर कर दिया.

क्या है मामला

घटना दिन के करीब 12 बजे की है. पुलिस को दिये बयान में बताया गया है कि जुबली पेट्रोल पंप से मैनेजर (कोडरमा जिले के झुमरीतिलैया निवासी) महावीर प्रसाद यादव एवं एकाउंटेंट (पश्चिम बंगाल के पूर्वी मेदनीपुर जिले के कोलाघाट थाना क्षेत्र के बरहाबरन निवासी) किंशु सामंता बाइक से शनिवार और रविवार की बिक्री का 9,61,000 रुपया लेकर बैंक में जमा करने के लिए निकले थे. रुपये से भरा बैग किंशु के पास था और बाइक भी वही चला रहा था. रास्ते में उनलोगों की बाइक से एक सफेद बिना नंबर की बाइक आगे-पीछे करने लगी, जिस पर 3 युवक सवार थे. उनलोगों की हरकत से पेट्रोल पंप कर्मियों को शंका हुई, तो रेलवे ओवरब्रिज पर अपनी बाइक धीमी कर दिया. इस बीच ट्रिपल लोड बाइक सवार आगे बढ़ गया. यह देख पेट्रोल पंप कर्मियों ने अपनी बाइक घुमाने की कोशिश की. इसी बीच आगे निकल बाइक से 2 अपराधी उतरकर पिस्तौल लहराते पीछे दौड़े व उनलोगों के एक साथी ने एकाउंटेंट की गाड़ी के पास लाकर अपनी बाइक खड़ी कर दी.

अपराधियों ने पिस्तौल का भय दिखाते हुए रुपयों से भरे बैग किंशु से देने को कहा. रुपये से भरा बैग नहीं देने पर उससे एक अपराधी ने छीना-झपटी भी किया. इस बीच बाइक से उतरकर पेट्रोल पंप मैनेजर ने आने-जाने वालों को हाथ देते हुए मदद मांगा, किंतु कोई नहीं रुके. रुपये से भरा बैग किंशु नहीं देना चाह रहा था, तो अपराधी ने पहले पिस्टल के बट से उसके सिर पर मारा. फिर उसके पैर पर निशाना कर एक गोली चलाया. गोली किंशु के बाएं जांघ में लग गयी. इस बीच अपराधियों की बाइक में चाबी फंसकर टूट गया और बंद हो गया. घटना के बाद अपराधियों ने अपनी बाइक वहीं छोड़ दिया और पेट्रोल पंप कर्मियों की बाइक लेकर भाग निकले.

अपराधियों के भागने के बाद पेट्रोल पंप कर्मियों ने मोबाइल पर कॉल कर घटना की सूचना जसीडीह थाने की पुलिस को दिया. इसके बाद जसीडीह थाना प्रभारी विक्रम प्रताप सिंह पदाधिकारी पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी लेकर छापेमारी में जुटे हैं. आसपास के लोगों से पहले पुलिस को पता चला था कि घटना के वक्त एक यात्री बस घटनास्थल होकर चकाई की तरफ जा रही थी. उसी को रोककर अपराधी सवार हुए और भागे. जिस बाइक से मैनेजर व एकाउंटेंट रुपये जमा करने जा रहे थे वह सुपरवाइजर पिंकू कुमार चौधरी (गिरिडीह जिले के देवरी थाना क्षेत्र के घसकरीडीह गांव निवासी) की थी.

सामान्य कद का था अपराधी, बोल रहा था हिंदी

पुलिस को दिये बयान में पेट्रोल पंप कर्मियों ने बताया है कि तीनों अपराधी सामान्य कद के थे. उनलोगों की उम्र करीब 25 से 30 वर्ष रही होगी. आपस में वे लोग हिंदी में ही बातचीत कर रहे थे. अपराधियों ने फुलपेंट, कमीज व टी-शर्ट पहन रखा था. बाद में देखने से वे लोग अपराधियों को पहचान भी सकते हैं. देवघर के मानिकपुर में दिनदहाड़े पेट्रोल पंप पर लूटपाट तथा Breaking News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

2000, 500, 200 व 100 रुपये के थे नोट

पेट्रोल पंप कर्मियों से मिली जानकारी के अनुसार, वे लोग 2 दिन की बिक्री का रुपया जमा करने जसीडीह एसबीआई जा रहे थे. रुपयों में 2000 के 25 नोट, 500 के 1702 नोट, 200 के 117 नोट, बाकी 100 रुपये व अन्य नोट शामिल थे.

मोटी रकम बैंक ले जाने के लिए नहीं मांगी थी सुरक्षा

पेट्रोल पंप कर्मी इतनी मोटी रकम बैंक जमा करने जा रहे थे, इसके लिए उनलोगों ने पुलिस से सुरक्षा नहीं मांगी थी. लगातार पुलिस बैंक, पेट्रोल पंप कर्मियों के साथ बैठक कर कहती रही है कि 50,000 रुपये से अधिक रकम बैंक जमा करने ले जाने के लिए उनलोगों से सुरक्षा ले सकते हैं. पुलिस वैसे लोगों को मुफ्त में सुरक्षा मुहैया करायेगी, लेकिन पेट्रोल पंप कर्मियों ने इसका पालन ही नहीं किया.

पंप कर्मियों ने लापरवाही बरती : एसपी

देवघर एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने कहा कि इंसीडेंट हुआ है. पप्पू सरदार की हत्या के बाद यह दूसरी बड़ी घटना है. पुलिस टीम मेहनत कर रही है. उम्मीद है कि जल्द ही घटना डिटेक्ट करने में सफलता हासिल होगी. घटना में पंप कर्मियों ने भी लापरवाही बरती है. मोटी रकम बैंक ले जाने के लिए उनलोगों को पुलिस की सुरक्षा लेनी चाहिए थी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें