1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. case of cheating on the pretext of cashback and app install is not stopping in deoghar 15 cyber criminals arrested smj

देवघर में नहीं रुक रहा कैशबैक व ऐप इंस्टॉल का झांसा देकर ठगी करने का मामला, 15 साइबर क्रिमिनल्स गिरफ्तार

देवघर के साइबर पुलिस ने कैशबैक और ऐप इंस्टॉल से ठगी करने के आरोप में 15 साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इन आरोपियों के पास से 28 मोबाइल, 42 सिम कार्ड तथा एक पासबुक बरामद किया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
साइबर पुलिस ने लोगों से ठगी करने के आरोप में 15 साइबर क्रिमिनल्स को किया गिरफ्तार.
साइबर पुलिस ने लोगों से ठगी करने के आरोप में 15 साइबर क्रिमिनल्स को किया गिरफ्तार.
प्रभात खबर.

Jharkhand Cyber Crime News (देवघर) : झारखंड के देवघर जिले में साइबर क्रिमिनल्स काफी सक्रिय हैं. हर दिन किसी ना किसी को ठगी का शिकार बना रहे हैं. वहीं, साइबर क्रिमिनल्स की गिरफ्तारी भी हो रही है. इसी कड़ी में साइबर पुलिस ने फर्जी बैंक अधिकारी बनकर, कैशबैक का ऑफर देकर, ऐप इंस्टाॅल कराकर तथा ATM का OTP प्राप्त कर ठगी करने वाले 15 साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. इनके पास से पुलिस ने 28 मोबाइल, 42 सिम कार्ड व एक पासबुक भी बरामद किया है. साइबर थाने में मुख्यालय डीएसपी मंगल सिंह जामुदा व साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद ने संयुक्त रूप से पत्रकारों को जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि एसपी को मिली गुप्त सूचना पर जिले के चार थाना क्षेत्र करौं, पथरौल, मधुपुर व देवीपुर में छापेमारी कर 15 साइबर क्रिमिनल्स को पकड़ा गया. गिरफ्तार साइबर क्रिमिनल्स में से 7 सहोदर भाई हैं. इसमें से मुकेश मंडल का आपराधिक रिकॉर्ड है और साइबर अपराध में दो बार जेल जा चुका है. दोनों मामले साइबर थाने में ही दर्ज हैं. जिसमें पहला मामला वर्ष 2017 का तथा दूसरा मामला मई 2020 का है.

बताया गया कि विभिन्न थाना क्षेत्रों में इलेक्ट्रॉनिक ऐप पर रिवॉर्ड देने व कैशबेक का ऑफर देकर लोगों को ठग रहे थे. सभी ने अपराध को कबूल भी किया है. कई आरोपी तो बैंक अधिकारी बनकर व एटीएम का ओटीपी लेकर लोगों से ठगी कर रहे थे.

गिरफ्तार 7 आरोपी हैं सगे भाई

साइबर ठगी के आरोप में गिरफ्तार 7 आरोपी आपस में भाई हैं. पकड़े गये सभी साइबर क्रिमिनल्स की उम्र 19 वर्ष से लेकर 32 वर्ष तक है. इसमें करौं थाना क्षेत्र से पकड़े गये 5 आरोपियों में नूर आलम, रियासत अंसारी, तबारक अंसारी, इस्राइल अंसारी व इकरार अंसारी शामिल हैं. इसमें इस्राइल व इकरार सगे भाई हैं. मारगोमुंडा थाना क्षेत्र का रहने वाला तथा वर्तमान में जामताड़ा के करमाटांड़ थाना क्षेत्र के तरकजोरी गांव में रह रहा फैयाज अंसारी को भी पुलिस ने पकड़ा है.

वहीं, पथरौल के ठेंगाडीह का रहने वाला मुकेश मंडल दो बार जेल भी जा चुका है. इसके अलावा मधुपुर थाना क्षेत्र का दीपक दास, शिबू कुमार दास, टिकैत दास तथा सगा भाई गौतम दास व प्रतीम दास के अलावा देवीपुर महुआटांड़ निवासी आपस में तीन सगे भाई रोहित रवानी, मिथुन रवानी व पिंटू रवानी को गिरफ्तार किया गया है.

छापेमारी दल में ये थे शामिल

छापेमारी टीम में साइबर थानेदार सुधीर कुमार पोद्दार, पुलिस निरीक्षक संगीता कुमारी, सब इंस्पेक्टर रुपेश कुमार, अतिश कुमार, पंकज कुमार निषाद, मनोज कुमार मुर्मू, अमित कुमार, स्वरूप भंडारी, मो अफरोज व सर्जेंट प्रतीक कुमार शामिल थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें