1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. before shravani mela new control room in baba mandir and search for options forshigradharshanam started smj

श्रावणी मेला से पहले बाबा मंदिर में नया कंट्रोल रूम और शीघ्रदशर्नम के विकल्पों की तलाश शुरू

श्रावणी मेला में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए नये विकल्पों की तलाश शुरू कर दी है. इसको लेकर देवघर डीसी ने इंजीनियर्स और अधिकारियों संग बाबा मंदिर परिसर का निरीक्षण किया. इस दौरान कई मुद्दों पर चर्चा भी हुई.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: बाबा मंदिर में नया कंट्रोल रूम और शीघ्रदशर्नम के नये विकल्पों की तलाश शुरू.
Jharkhand news: बाबा मंदिर में नया कंट्रोल रूम और शीघ्रदशर्नम के नये विकल्पों की तलाश शुरू.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: देवघर जिला प्रशासन इस बार श्रावणी मेला में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए नये विकल्पों की तलाश शुरू कर दी है. बाबा मंदिर में कुछ व्यवस्था में सुधार करने की तैयारी है, तो कुछ नयी व्यवस्था को धरातल पर उतारने को लेकर प्रशासन एक्सरसाइज कर रहा है. इसी क्रम में डीसी मंजूनाथ भजंत्री ने इंजीनियर्स और अधिकारियों की टीम के साथ बाबा मंदिर का निरीक्षण कर नया कंट्रोल रूम और शीघ्रदशर्नम का वैकल्पिक रूट तैयार करने की संभावनाओं को तलाशा.

श्रद्धालुओं को मिले अच्छी सुविधा

इस दौरान उन्होंने सभी वैसे स्थलों को देखा जहां से वैकल्पिक रूट पर काम हो सकता है. निरीक्षण के क्रम में डीसी ने कहा कि बाबा मंदिर आने वाले भक्तों को अच्छी सुविधा मिले, इसको लेकर श्रावणी मेला से पहले ही सभी कार्यों को दुरुस्त कर लिया जायेगा. कहा कि शीघ्रदशर्नम में भक्तों की संख्या बढ़ रही है. उन्हें भी बेहतर सुविधा देना प्राथमिकता में है. इसलिए मंदिर प्रशासन इस बार शीघ्रदर्शनम पर विशेष फोकस कर रहा है क्योंकि पिछले दिनों से शीघ्रदर्शनम की भीड़ ही प्रशासन के लिए परेशानी का सबब बन रही है.

शीघ्रदर्शनम के भक्तों को मिलेगी नयी व्यवस्था

पहली योजना : बाबा मंदिर में श्रावणी मेले में इस बार भक्तों को शीघ्रदशर्नम में पूजा करने की नयी सुविधा देने की तैयारी प्रशासन कर रहा है. नयी व्यवस्था को जल्द ही प्रशासन धरातल पर उतारेगा. डीसी के निरीक्षण के दौरान जिन बातों पर विचार किया गया, उसमें महाकाल भैरव मंदिर के गली से फुटओवर ब्रिज को जोड़ते हुए एक नया रूट प्रांगण में लाया जायेगा. इस रूट से केवल शीघ्रदर्शनम ही प्रवेश कराये जायेंगे. इस वैकल्पिक रूट के तैयार हो जाने से शीघ्रदर्शनम के भक्तों की यह शिकायत दूर हो जायेगी कि पैसा देकर कूपन लेने के बाद भी उन्हें विशेष सुविधा नहीं दिया जाता है.

सुविधा केंद्र के सामने खाली पड़ी जमीन का होगा उपयोग

दूसरी योजना : बाबा मंदिर के लिए दूसरी योजना जो बन रही है उसके तहत सुविधा केंद्र के सामने वाले खाली पड़ी जमीन पर संस्कार भवन की तरह एक फ्लोर का भवन बनाने पर भी विचार हो रहा है. यहां से सीधे प्रशासनिक भवन लाकर पूर्व के कतार में शामिल कर दिया जायेगा. इस योजना पर अभी विचार हो रहा है. सहमति बनने के बाद जल्द ही इसका प्राक्कलन तैयार करवाया जायेगा और काम शुरू होगा.

भीड़ नियंत्रण के लिए प्रशासनिक भवन के ग्राउंड फ्लोर में बनेगा नया कंट्रोल रूम

तीसरी योजना : निरीक्षण के दौरान भीड़ नियंत्रण के लिए भी विचार विमर्श किया गया है. बताया गया कि प्रशासनिक भवन के ग्राउंड फ्लोर पर एक कमरा खाली रहता है. उसमें फर्स्ट फ्लोर की तरह पूरा सेटअप सीसीटीवी के साथ नया कंट्रोल रूम तैयार किया जाये. इस नये कंट्रोल रूम में मंदिर प्रभारी और पुलिस पदाधिकारी बैठेंगे. यदि किसी प्रकार की सूचना मिलती है, तो वहीं से वे एक्शन में आयेंगे. डीसी ने मंदिर परिसर में जानकारी दी कि अभी इन योजनाओं पर विचार हो रहा है. श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए सभी विकल्पों पर विचार करके योजना को धरातल पर उतारा जायेगा.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें