1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. aiims at deoghar district of jharkhand will be operational in year 2022 know how and where doctors will serve mtj

ऐसा है देवघर का एम्स, जानें कब से होगा चालू और डॉक्टर कहां-कहां देंगे सेवा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने देवघर एम्स के निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी ली.
स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने देवघर एम्स के निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी ली.
Amarnath Poddar

देवघर (अमरनाथ पोद्दार) : झारखंड का दूसरा एम्स देवघर में जल्दी ही चालू हो जायेगा. रविवार (11 अक्टूबर, 2020) को केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने देवघर स्थित देवीपुर में निर्माणाधीन एम्स के कार्यों का जायजा लिया. केंद्रीय मंत्री ने एम्स कैंपस में आयुष बिल्डिंग, रैन बसेरा व अन्य भवनों का निरीक्षण किया.

साथ ही एम्स के अधिकारियों के साथ बैठक कर हॉस्पिटल की सभी बिल्डिंगों व विभागों के निर्माण कार्य की समय सीमा के बारे में जानकारी ली. निरीक्षण के क्रम में केंद्रीय मंत्री ने एम्स का निर्माण कार्य करने वाली एजेंसी एनबीसीसी के अधिकारियों को निर्देश दिया कि लॉकडाउन में की वजह से जो काम पिछड़ गया है, उसकी भरपाई करने के लिए काम में तेजी लायें.

मंत्री ने कहा कि निर्माण कार्यों की प्रत्येक सप्ताह एम्स के अधिकारी समीक्षा बैठक करेंगे. फरवरी, 2022 में देवघर एम्स को पूरी तरह तैयार कर चालू कर दिया जायेगा. देवघर एम्स से झारखंड ही नहीं, बिहार के भागलपुर, बांका, मुंगेर, जमुई व पश्चिम बंगाल के लोगों को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलेगी.

मंत्री ने बताया कि अगले दो माह में यानी नवंबर-दिसंबर, 2020 तक एम्स का आयुष भवन व रैन बसेरा का काम पूरा हो जायेगा. आयुष भवन में एम्स का ओपीडी चालू कर दिया जायेगा और रैन बसेरा में नये सत्र में एमबीबीएस में दाखिला लेने वाले नये छात्रों के रहने की व्यवस्था होगी.

इस दौरान देवघर के विधायक नारायण दास के प्रस्ताव पर स्वास्थ्य मंत्री श्री चौबे ने कहा कि देवघर के पुराने सदर अस्पताल में व देवीपुर के सीएचसी में एम्स के डॉक्टरों अपनी सेवा देंगे. शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के रोगियों को एम्स के विशेषज्ञ डॉक्टरों का लाभ मिलेगा. लोग उनसे अपना इलाज करवा सकेंगे. इसके लिए जिला प्रशासन से मदद लेने का एम्स के अधिकारियों को निर्देश दिया गया है.

श्री चौबे ने कहा कि जिला प्रशासन इन दोनों भवनों को सुविधा के साथ एम्स के डॉक्टरों को उपलब्ध करवा सकते हैं. इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने पीटीआइ में संचालित एम्स के छात्रों की पढ़ाई व रहने की व्यवस्था का जायजा भी लिया. इस मौके पर देवघर एम्स के निदेशक डॉ सौरभ वारसनी समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें