1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. 8 cyber criminals arrested for cyber cheating of more than rs 1 crore from icici banks 59 customers account deoghar news jharkhand

ICICI बैंक के 59 ग्राहकों के अकाउंट से 1 करोड़ से अधिक रुपये उड़ाने वाले 8 साइबर अपराधी गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
साइबर क्रिमिनल्स
साइबर क्रिमिनल्स
Symbolic Image

देवघर : आईसीआईसीआई बैंक के मुंबई, विजयवाड़ा, बड़ोदरा सहित विभिन्न राज्यों के 59 ग्राहकों के एकाउंट से एक करोड़ से अधिक रुपये की निकासी मामले में देवघर साइबर थाने की पुलिस ने चार दिन में ही सफलता हासिल की है. अलग-अलग जगहों से आठ साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है और उनके पास से साइबर अपराध में उपयोग आने वाले कई संदिग्ध सामान बरामद किये गये हैं. पेश है प्रभात खबर प्रतिनिधि आशीष कुंदन की रिपोर्ट...

प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए एसपी पीयूष पांडेय ने कहा कि साइबर डीएसपी नेहा बाला के नेतृत्व में गठित छापेमारी टीम ने तकनीकी सेल की सहायता से पहले करौं थाना क्षेत्र के जगाडीह गांव में छापेमारी की. वहां से तीन साइबर अपराधी अजीत मंडल, चेतलाल मंडल व शमीम अख्तर को गिरफ्तार किया गया. इन तीनों के बयान के आधार पर पुनः कुंडा, मोहनपुर व दुमका जिले के सरैयाहाट थाना क्षेत्र में छापेमारी की गयी.

इस क्रम में पांच साइबर अपराधियों करौं निवासी राजू मंडल, जगाडीह निवासी मुकेश मंडल, दुमका जिले के सरैयाहाट थाना क्षेत्र के चौराजोर निवासी कृष्णा यादव, मोहनपुर थाना क्षेत्र के घोरमारा निवासी लालू कुमार उर्फ लालू मंडल व बिहार के बांका जिले के बौंसी निवासी दिनेश कुमार को गिरफ्तार किया गया. इनलोगों के पास से 29 मोबाइल सहित एक लैपटॉप ,15 सिम कार्ड, 53 एटीएम कार्ड, 21 ब्लैंक एटीएम कार्ड, एक क्लोनिंग मशीन, कई पासबुक और नगद 1 लाख 20 हजार रुपये बरामद किये गये.

एसपी ने कहा कि इस मामले में अन्य साइबर अपराधियों की भी संलिप्तता है. उनलोगों की पहचान कर तलाश जारी है. विभिन्न राज्यों के आईसीआईसीआई बैंक ग्राहकों को साइबर अपराधियों ने बल्क एसएमएस भेजकर केवाईसी अपडेट किये बिना एकाउंट लॉक होने की बात कही थी और एकाउंट सबंधी डिटेल्स जानकारी लेने के बाद 59 ग्राहकों के एकाउंट से एक करोड़ एक लाख 93 हजार 718 रुपये की निकासी कर ली थी.

साइबर अपराधियों ने केवाईसी अपडेट का मैसेज 74 ग्राहकों को भेजा था. अन्य राज्यों में भी इससे सबंधित प्राथमिकी दर्ज है. मंगलवार को देवघर आईसीआईसीआई बैंक शाखा प्रबंधक चैतन्य कुमार ने 11 मई को प्राथमिकी दर्ज करायी थी. इसके बाद चार दिनों में अनुसंधान कर विशेष छापेमारी दल ने यह सफलता अर्जित की. एसपी ने कहा इस मामले में बैंक के किसी कर्मी की मिलीभगत है या नहीं, इसकी भी जांच की जायेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें