1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. 13 cyber criminals arrested for cheating people by posing as bank officers 21 mobiles and 32 sims recovered smj

बैंक अधिकारी बनकर लोगों से ठगी करने वाला 13 साइबर क्रिमिनल्स गिरफ्तार, 21 मोबाइल और 32 सिम बरामद

बैंक अधिकारी बनकर लोगों से ठगी करने के आरोप में देवघर की साइबर पुलिस ने 13 साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार इन साइबर क्रिमिनल्स के पास से पुलिस ने 21 मोबाइल फोन और 32 सिम बरामद किये हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: 13 साइबर क्रिमिनल्स की गिरफ्तारी की जानकारी देते साइबर डीएसपी और थाना प्रभारी.
Jharkhand news: 13 साइबर क्रिमिनल्स की गिरफ्तारी की जानकारी देते साइबर डीएसपी और थाना प्रभारी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Cyber Crime News: साइबर क्रिमिनल्स का सेफ जोन देवघर जिले से कई ठगी के मामले सामने आते रहते हैं. इसी कड़ी में रविवार को जिले की साइबर पुलिस ने बैंक अधिकारी बनकर लोगों से ठगी करने के आरोप में 13 साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. साइबर पुलिस ने इन साइबर क्रिमिनल्स के पास से 21 मोबाइल फोन और 32 सिम भी बरामद किया है.

इन क्षेत्रों से हुई गिरफ्तारी

देवघर की साइबर पुलिस की टीम ने जिले के करौं, मारगोमुंडा और मोहनपुर थाना क्षेत्र के विभिन्न स्थानों में छापेमारी कर कुल 13 साइबर क्रिमिनल्स को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार साइबर क्रिमिनल्स में मोहनपुर थाना क्षेत्र के बाबूपुर गांव निवासी अनिल यादव, अजय कुमार, संजय यादव व छोटू कुमार राय के अलावा मारगोमुण्डा थाना क्षेत्र के जगाडीह गांव निवासी महेंद्र कुमार मंडल, पंचरूखी गांव निवासी अलीमुद्दीन अंसारी, तसलीम अंसारी, काबुल मियां, अफजल अंसारी, मारगोमुण्डा थाना क्षेत्र के खेसवा गांव निवासी सलीम अंसारी, घाघरा गांव निवासी मोहम्मद जावेद अंसारी, करौं थाना क्षेत्र के बदिया गांव निवासी कलाम अंसारी व जामताड़ा जिले के करमाटांड़ थाना क्षेत्र के कासीटांड़ गांव निवासी आलम अंसारी शामिल है.

साइबर क्रिमिनल्स काबुल का है पुराना इतिहास

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में से साइबर क्रिमिनल्स काबुल मियां पर साइबर थाना की पुलिस पिछले साल अक्टूबर माह में एक मामला दर्ज कर जेल भेज था. वह वर्तमान में जमानत पर जेल से बाहर निकला था. लेकिन, इसके बाद फिर साइबर क्राइम के आरोप में जेल गया.

डीएसपी मुख्यालय व साइबर डीएसपी के नेतृत्व में टीम ने की छापेमारी

गिरफ्तारी के संदर्भ में साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद ने पत्रकारों को बताया कि एसपी धनंजय कुमार सिंह को गुप्त सूचना मिली थी कि जिले के विभिन्न गांवों के कुछ युवा भोले-भाले लोगों को फोन कॉलकर अपने आप को बैंक अधिकारी बताते हुए एवं अन्य कई तरह के प्रलोभन देकर ठगी करने का काम कर रहे हैं. सूचना मिलने के बाद उनके निर्देश पर साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद औा हेडक्वॉर्टर डीएसपी मंगल सिंह जामुदा के नेतृत्व में एक विशेष छापेमारी टीम का गठन किया गया था.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें