फिर गढ़ी नयी कहानी, कहा- जीजा ने कहा था, वह दिखाउंगा जो कभी नहीं देखा होगा, जानें पूरा मामला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

देवघर : रिखिया थाना क्षेत्र के जरुआडीह तालाब के समीप हुए बम विस्फोट में घायल मोहनपुर थाना क्षेत्र के बसडीहा त्रिकूटी निवासी विकास कुमार व उसके ममेरे भाई दीपक रजक को इलाज के बाद कुंडा मेधा सेवासदन द्वारा रिलीज कर दिया गया. सेवासदन द्वारा रिलीज करते ही दोनों को रिखिया थाना प्रभारी अभिनंदन कुमार ने हिरासत में ले लिया. दोनों से पुलिस पूछताछ करने में जुटी है.

पूछताछ में दोनों ने अहम जानकारी रिखिया थाना प्रभारी को दी है. हालांकि इस बारे में थाना प्रभारी ने कुछ भी जानकारी देने से इनकार कर दिया. सूत्रों की मानें तो विकास ने बताया है कि वह मजदूरी कर लौट रहा था, तभी रांगा मोड़ पर ममेरे भाई दीपक से मुलाकात हुई. दोनों वहीं अंडा खाने लगा. इसी बीच जीजा बांका जिले के बधवा निवासी प्रभाष का कॉल मोबाइल पर आया. उसने जरुआडीह तालाब के समीप आने की बात कहते हुए कहा कि ऐसा चीज दिखायेगा, जिसे उनलोगों ने कभी नहीं देखा है.

वहां पहुंचा तो तीन लोगों के साथ जीजा को बैठे देखा. थैले से उनलोगों ने डब्बा व प्लास्टिक में रखा अलग-अलग सामान, सुतली निकाला. इसी बीच एक बोलेरो गाड़ी आकर रुकी. बोलेरो से चार लंबे आदमी उतरे. सभी ने हाथ में पिस्तौल रखा था. प्लास्टिक से निकाले सामान टीन के दो डब्बे में रखकर ढ़क्कन लगा रहा था कि अचानक जोरदार आवाज के साथ धुआं हो गया. दोनों भागने लगा तो उनलोगों में से दो-तीन लोग उनलोगों के पीछे दौड़ा. दूर जाकर पीछे मुड़ा तो देखा कि एक आदमी को टांगकर उनलोगों ने गाड़ी पर चढ़ाया. इसके बाद दोनों गाड़ी से वे लोग भी भाग गये. अब यह नयी कहानी पर पुलिस को कितना भरोसा होगया, यह समझ से परे है.

एएसआइ बीके मंडल के बयान पर विस्फोटक अधिनियम के तहत रिखिया थाना में एफआइआर दर्ज है. आरोपितों पर डकैती की योजना बनाने का भी आरोप लगाया गया है. मामले में विकास कुमार, उसके ममेरे भाई दीपक रजक व अज्ञात पांच को आरोपित बनाया गया है. घायल स्थिति में इन दोनों ने पुलिस को बताया था कि वे लोग तालाब के आसपास शौच के लिये पहुंचे थे. उसी दौरान पूर्व से बैठे लोगों के करीब दोनों पहुंचा तो अचानक एक ने कुछ फेंका जिससे सामने जोरदार आवाज के साथ धुआं ही धुआं हो गया. इसके बाद उनलोगों को कुछ पता ही नहीं है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें