पुरोहित समाज व प्रशासन की संयुक्त बैठक में बोले डीसी, तीर्थ-पुरोहितों का सहयोग अपेक्षित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
देवघर : श्रावणी मेले के सफल संचालन को लेकर मंगलवार को बाबा मंदिर प्रशासनिक भवन में संध्या पांच बजे से पुरोहित समाज व जिला प्रशासन की संयुक्त बैठक हुई. इसकी अध्यक्षता कर रहे पंडा धर्मरक्षिणी सभा के अध्यक्ष डॉ सुरेश भारद्वाज, महामंत्री कार्तिकनाथ ठाकुर, दिवाकर मिश्र आदि ने समाज व प्रशासन के आपसी सहयोग के बारे में विस्तार से चर्चा की. अध्यक्ष व महामंत्री ने शीघ्रदर्शनम की व्यवस्था में सुधार करने व इसके काउंटर की संख्या को बढ़ाने की मांग की.

वहीं सभा के पूर्व महामंत्री सह अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के दुर्लभ मिश्र ने कहा : 80 फीसदी मेले का भार पंडा मुहल्ले पर होता है. इस मुहल्ले से बिजली, पानी, सफाई, सड़क आदि समस्याओं को दूर कर लिया जाये. सभा के पूर्व अध्यक्ष ने अरघा में जलार्पण के समय पुलिस द्वारा तुरंत बाहर निकालने से शत-प्रतिशत जलार्पण नहीं हाेने की समस्या उठायी. पूर्व मंत्री केएन झा ने कहा : मंदिर की परंपरा पुरखों की देन है. आज की युवा पीढ़ी पर इस पूंजी को बचाये रखने की मूल जवाबदेही है.
सभी के सुझावों पर अमल करेंगे : डीसी राहुल सिन्हा ने कहा : देवनगरी से पुराना नाता है. सभी सुझावों पर अमल व शिकायतों को दूर किया जायेगा. डीसी ने समाज के लोगों से हर साल की तरह प्रशासन पर अपना आशीर्वाद बनाये रखने व मेले में सहयोग करने की बात कही. मेले के दौरान सभी शिकायतों का तुरंत निपटारा करने का आश्वासन दिया. वहीं एसपी ने भी अपने सुझाव दिये. इस दौरान मुख्य रूप से नगर निगम के सीइओ संजय कुमार सिंह, डीडीसी जन्मजेय ठाकुर, मंदिर प्रभारी बीके झा, पंडा धर्म रक्षिणी सभा के उपाध्यक्ष अरुणानंद झा, मंत्री निताय चांद झा, सहायक प्रभारी दीपक मालवीय, आनंद तिवारी, प्रबंधक रमेश परिहस्त आदि मौजूद थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें