1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chatra
  5. the happiness of chhath puja 2020 turned into mourning maoists killed coal businessman at chhat ghat make these serious allegations chatra police gur

महापर्व छठ की खुशियां मातम में बदलीं, छठ घाट पर माओवादियों ने की कोयला कारोबारी की हत्या, लगाये ये गंभीर आरोप

झारखंड के चतरा जिले में चार दिवसीय महापर्व छठ की खुशियां मातम में बदल गयी हैं. अभी लोक आस्था का महापर्व छठ ठीक से संपन्न भी नहीं हुआ था कि माओवादियों ने चतरा जिले के सिमरिया थाना क्षेत्र के तपसा गांव में छठ घाट पर कोयला कारोबारी मुकेश गिरी की गोली मारकर दी. गोली लगने के बाद मुकेश को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी. माओवादियों ने पर्चा छोड़ा है. इसमें मुकेश गिरी को पुलिस का मुखबिर बताया है. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी है और मामले की छानबीन में जुटी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हत्या के बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस
हत्या के बाद घटना स्थल पर पहुंची पुलिस
प्रभात खबर

चतरा (दीनबंधु) : झारखंड के चतरा जिले में चार दिवसीय महापर्व छठ की खुशियां मातम में बदल गयी हैं. अभी लोक आस्था का महापर्व छठ ठीक से संपन्न भी नहीं हुआ था कि माओवादियों ने चतरा जिले के सिमरिया थाना क्षेत्र के तपसा गांव में छठ घाट पर कोयला कारोबारी मुकेश गिरी की गोली मारकर दी. गोली लगने के बाद मुकेश को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी. माओवादियों ने पर्चा छोड़ा है. इसमें मुकेश गिरी को पुलिस का मुखबिर बताया है. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी है और मामले की छानबीन में जुटी है.

चतरा जिले के सिमरिया थाना क्षेत्र के तपसा गांव में आज शनिवार के अहले सुबह छठ घाट पर माओवादियों ने मुकेश गिरी को गोली मार दी. इनकी स्थिति गंभीर थी. आनन-फानन में इन्हें प्राथमिक उपचार के लिए सिमरिया भेजा गया. जहां से हजारीबाग रेफर कर दिया गया. आखिरकार इलाज के क्रम में मुकेश गिरी ने दम तोड़ दिया. चतरा के तपसा गांव में छठ की खुशियां मातम में बदल गयी हैं. छठ घाट पर दहशत का माहौल बन गया था. माओवादियों की इस कार्रवाई से छठव्रतियों में भी हड़कंप मच गया था. किसी तरह लोग घाट से अपने घर लौटे. बताया जाता है कि मुकेश गिरी छठ घाट पर अर्घ देने पहुंचे थे. इसी दौरान माओवादी वहां पहुंचे और फायरिंग करनी शुरू कर दी.

माओवादियों की दस्तक से इलाके में दहशत है. माओवादियों ने एक बार फिर पत्थलगड़ा क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज करा दी है. माओवादियों की इस कार्रवाई से क्षेत्र में दहशत का माहौल है. आपको बता दें कि मुकेश गिरी कोयला का कारोबार करता था. माओवादियों ने पर्चा छोड़कर मुकेश को पुलिस का मुखबिर करार दिया है. माओवादियों ने पर्चा के जरिए कहा है कि पुलिस एसपीओ बनाना बंद करे. पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर माओवादियों ने मुकेश गिरी की हत्या कर दी. इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी है और मामले की छानबीन में जुटी है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें