1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. chaibasa
  5. third web in jharkhand formation of empowered committee for prevention of third web in jharkhand to overcome third wave of corona preparation for prevention in consultation with famous doctors of the country grj

झारखंड में तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए इंपावर्ड कमिटी फॉर प्रीवेंशन ऑफ थर्ड वेब का गठन, प्रसिद्ध डॉक्टरों के परामर्श से रोकथाम की तैयारी

झारखंड में देशभर के प्रसिद्ध चिकित्सकों के परामर्श से कोविड-19 थर्ड वेब के रोकथाम की तैयारी है. इसे लेकर स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, झारखंड के अभियान निदेशक ने सभी जिलों के सिविल सर्जन को एक पत्र जारी करते हुए कोविड-19 के संभावित तीसरी लहर की पूर्व तैयारी को लेकर निर्देशित किया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए इंपावर्ड कमिटी फॉर प्रीवेंशन ऑफ थर्ड वेब का गठन
तीसरी लहर पर काबू पाने के लिए इंपावर्ड कमिटी फॉर प्रीवेंशन ऑफ थर्ड वेब का गठन
फाइल फोटो

Third Web In Jharkhand, चाईबासा न्यूज (अभिषेक पीयूष) : झारखंड में देशभर के प्रसिद्ध चिकित्सकों के परामर्श से कोविड-19 थर्ड वेब के रोकथाम की तैयारी है. इसे लेकर स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, झारखंड के अभियान निदेशक ने सभी जिलों के सिविल सर्जन को एक पत्र जारी करते हुए कोविड-19 के संभावित तीसरी लहर की पूर्व तैयारी को लेकर निर्देशित किया है.

राज्य के सभी जिलों के सिविल सर्जन को बताया गया है कि स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं कल्याण विभाग, झारखंड सरकार द्वारा इंपावर्ड कमिटी फॉर प्रीवेंशन ऑफ थर्ड वेब का गठन किया गया है. उक्त समिति द्वारा भारत सरकार से प्राप्त मार्गदर्शन को संग्रहित कर तृतीय लहर की रोकथाम एवं तैयारी के लिए मैनुअल फॉर प्रीपरेशन, प्रीवेंशन एंड प्लानिंग फॉर कोविड-19 थर्ड वेब इन झारखंड, द वे फॉरवर्ड तैयार किया जा रहा है. इसके साथ ही इंपावर्ड कमेटी द्वारा लिये गये निर्णय के अनुसार प्रत्येक जिले में पेडियाट्रिक इंसेंटिव केयर यूनिट (पीआइसीयू) एवं चाइल्ड फ्रेंडली वार्ड (सीएफसी) फॉर सेम मैनेजमेंट की स्थापना की जायेगी. इसके स्थापना के लिए मार्गदर्शिका पूर्व में विभाग की ओर से सभी जिलों को भेजी जा चुकी है.

स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग, झारखंड के अभियान निदेशक द्वारा जारी किये गये पत्र में सभी जिलों के सिविल सर्जन को निर्देशित किया गया है कि पेडियाट्रिक इंसेंटिव केयप यूनिट (पीआइसीयू) एवं चाइल्ड फ्रेंडली वार्ड एंड फेस्लिटी फॉर सेम मैनेजमेंट की अद्यतन स्थिति प्रतिविदेन मैनुअल फॉर प्रीपरेशन, प्रीवेंशन एंड प्लानिंग फॉर कोविड-19 थर्ड वेब इन झारखंड, द वे फॉरवर्ड को भरकर महीने में दो बार, फोटो सहित (प्रत्येक 15 दिनों में) अद्योहस्ताक्षरी को उपलब्ध कराना सनुश्चित करेंगे.

अगस्त माह के पहले सप्ताह में संभावित थर्ड वेब के आने की संभावना को लेकर राज्य के परियोजना निदेशक (जेएसएसीएस) सह थर्ड वेब कंट्रोल रूम के अध्यक्ष ने पश्चिमी सिंहभूम जिले के सिविल सर्जन को एक पत्र जारी किया है. इसमें रांची स्थित रानी हॉस्पिटल में 5 से 10 जुलाई तक पश्चिमी सिंहभूम जिले के चिकित्सा दलों के एनआइसीयू एवं पीआइसीयू के प्रशिक्षण को लेकर तिथि निर्धारित की गयी है. यहां प्रतिभागी चिकित्सा दलों को प्रतिदिन सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक उपस्थित रहकर हैंड्स ऑन प्रशिक्षण प्राप्त करना है.

एनआइसीयू एवं पीआइसीयू के प्रशिक्षण को लेकर पश्चिमी सिंहभूम से छह सदस्यीय चिकित्सा दल का चयन किया गया है. इसमें जिले के चार चिकित्सक एवं दो जीएनएम को उक्त प्रशिक्षण शिविर में भाग लेने के लिए नामित किया गया है. प्रशिक्षण के लिए सदर अस्पताल चाईबासा में पदस्थापित पेडिट्रिशियन डॉ संदीप बोदरा, सदर अस्पताल में एनएचएम अंतर्गत कार्यरत चिकित्सक डॉ आरती बेसरा, सीएचसी मंझारी में पदस्थापित चिकित्सक डॉ जयंतो कुम्हार, मंझगांव प्रखंड स्थित सीएचसी घोड़ाबांधा में पदस्थापित चिकित्सक डॉ ब्रजमोहन हेस्सा के अलावा सदर अस्पताल चाईबासा में पदस्थापित जीएनएम ओलिव बारला व जीएनएम नेहा रश्मि डाडेल का चयन किया गया है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें