बोकारो सेल प्रबंधन ने इ-1 व इ-2 की लंबित मांग को मंजूरी दे दी है. इ-1 व इ-2 का स्केल अब 24,900 से 50,500 रुपये होगा. सेल प्रबंधन ने संबंधित सर्कुलर मंगलवार को जारी कर दिया. उल्लेखनीय है कि बीएसएल सहित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बोकारो: सेल प्रबंधन ने इ-1 व इ-2 की लंबित मांग को मंजूरी दे दी है. इ-1 व इ-2 का स्केल अब 24,900 से 50,500 रुपये होगा. सेल प्रबंधन ने संबंधित सर्कुलर मंगलवार को जारी कर दिया. उल्लेखनीय है कि बीएसएल सहित सेल के अधिकारी स्केल इन्हैंसमेंट की मांग को लेकर लंबे समय से आंदोलनरत थे.
सेल प्रबंधन की मंजूरी के बाद अब इ-1 का स्केल 20,600 से बढ़ कर 46,500 व इ-2 का स्केल 24,900 से बढ़ कर 50,500 रुपये होगा. इ-1 व इ-2 के स्केल इन्हैंसमेंट का मामला नवंबर 2009 से चल रहा था. स्केल इन्हैंसमेंट की मांग को लेकर बोकारो स्टील ऑफिसर्स एसोसिएशन (बोसा) से जुड़े अधिकारियों ने एसोसिएशन से रिजाइन तक दे दिया था.
बोसा व सेफी के प्रयास ने लाया रंग : इ-1 व इ-2 के स्केल इन्हैंसमेंट को लेकर बोसा व सेफी काफी दिनों प्रयासरत थे. अंतत: बोसा व सेफी के प्रयास ने रंग लाया. उल्लेखनीय है कि बोसा के पूर्व अध्यक्ष एके सिंह के नेतृत्व में बीएसएल अधिकारियों ने चरणबद्ध आंदोलन (काला बिल्ला, मोमबत्ती जुलूस) किया था. बोसा के वर्तमान अध्यक्ष डॉ. पीके पांडे सेफी के साथ मिल कर इसके लिए सक्रिय थे.
550 अधिकारी होंगे लाभान्वित : इ-1 व इ-2 स्केल इन्हैंसमेंट की खबर से बोकारो स्टील प्लांट के अधिकारियों में हर्ष व्याप्त है. स्केल इन्हैंसमेंट से बीएसएल के लगभग 550 अधिकारी लाभान्वित होंगे. मंगलवार को सेल प्रबंधन की ओर से स्केल इन्हैंसमेंट का सर्कुलर जारी होते ही यह अधिकारियों के बीच चर्चा का विषय बन गया.
स्केल इन्हैंसमेंट से इ-1 व इ-2 अधिकारियों में उत्साह व उमंग का संचार हुआ है. इसका अनुकूल प्रभाव बीएसएल व सेल पर पड़ेगा. इ-1 व इ-2 स्केल इन्हैंसमेंट का मामला लंबे समय से चल रहा था. बोसा व सेफी ने मिल कर प्रयास किया.
डॉ. पीके पांडे, अध्यक्ष-बोकारो स्टील ऑफिसर्स एसोसिएशन
पिछले 10 वर्ष में जितने भी अधिकारी सेल में ज्वाइन किये हैं, उनको इसका कोई लाभ नहीं मिलेगा. अगले पे-रिविजन में और महारत्न कंपनी की तरह इ-1 व इ-2 स्केल इन्हैंसमेंट होने की संभावना रहेगी.
- एके सिंह, पूर्व अध्यक्ष-बोकारो स्टील ऑफिसर्स एसोसिएशन सह महासचिव-सेफी
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें