1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. 43 lakh children of jharkhand will get vaccine health department collecting data prt

Corona Vaccine: झारखंड के छह से 12 साल के 43 लाख बच्चों को लगेगा वैक्सीन, आंकड़े जुटा रहा स्वास्थ्य विभाग

झारखंड में छह से 12 साल तक के बच्चों को कोरोना के खिलाफ टीकाकरण किया जाएगा. बच्चों का आंकड़ा जुटाने के लिए शिक्षा विभाग से मदद ली जायेगी. बता दें, डीसीजीआई ने पांच से 12 साल के लिए काेर्बेवैक्स और छह से 12 साल के लिए को-वैक्सीन के टीका की आपातकालीन अनुमति दी है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
corona vaccine for children
corona vaccine for children
PTI

राजीव पांडेय, रांची : ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआइ) द्वारा पांच से 12 साल तक के बच्चों को टीका की आपातकाल अनुमति दिये जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग इस श्रेणी में आनेवाले बच्चों का आंकड़ा जुटाने में लग गया है. बच्चों का आंकड़ा शिक्षा विभाग से जुटायेगा, क्योंकि इस आयु वर्ग के बच्चे सरकारी या निजी स्कूलों में पढ़ाई करते हैं.

शिक्षा विभाग के पास वर्ष 2021 की रिपोर्ट के अनुसार, कक्षा एक से पांच तक के 38,86,161 बच्चे सूचीबद्ध हैं. कक्षा एक में नामांकन लेनेवाले बच्चों की उम्र पांच साल हो जाती है, इसलिए इसी को आधार बनाया जायेेगा. वहीं कक्षा पांच से छह तक पहुंचनेवाले बच्चों की उम्र 12 साल तक पहुंच जाती है. ऐसे में कक्षा छह के 4,88,832 बच्चे और जुट जायेंगे. यानी इस आंकड़ा के जुड़ने पर इस दायरे में 43,74,993 बच्चे शामिल हो जायेंगे.

जिलावार आंकड़ा तैयार करने पर जोर

एनएचएम द्वारा शिक्षा विभाग से ऐसे बच्चों का आंकड़ा मंगाने की तैयारी की जा रही है, जिससे टीका देने का समय निर्धारित होने से पूर्व जिलावार आंकड़ा तैयार कर लिया जाये. हालांकि ऐसे बच्चों को भी टीका देने की अनुमति दी जायेगी, जो किसी कारण से स्कूलों में पढ़ाई छोड़ चुके है. ऐसे बच्चों का टीकाकरण आधार कार्ड या जन्म प्रमाण पत्र में दर्ज उम्र से मिलान कर किया जायेगा. गाैरतलब है कि डीसीजीआई ने पांच से 12 साल के लिए काेर्बेवैक्स और छह से 12 साल के लिए को-वैक्सीन के टीका की आपातकालीन अनुमति दी है.

कोविड टीका : दूसरे व बूस्टर डोज के बीच घट सकता है अंतराल

कोविड टीके की दूसरी व एहतियाती खुराक (बूस्टर डोज)के बीच का अंतराल घटाने की तैयारी है़ सूत्रों के मुताबिक, सरकार इस अंतराल को नौ महीने से घटा कर छह महीने कर सकती है. टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी परामर्श समूह की शुक्रवार को होने वाली बैठक में इस बारे में कोई निर्णय लिया जा सकता है.

पांच से 12 साल तक के बच्चों के टीका का आदेश मिलते ही राज्य में टीकाकरण शुरू करा दिया जायेगा. बच्चों का आंकड़ा एकत्र करने के लिए शिक्षा विभाग से मदद ली जायेगी. वहीं से बच्चों को सही आंकड़ा मिल सकता है.

आदित्य कुमार आनंद, अभियान निदेशक

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें