1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. narendra modi government is afraid of the youth of the country environment of undeclared emergency aam admi party statement on the arrest of disha aml

देश के युवाओं से डरती है मोदी सरकार, अघोषित आपातकाल का माहौल : दिशा की गिरफ्तारी पर आप का बयान

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रेस कॉन्फ्रेंस करते आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक राघव चड्ढा
प्रेस कॉन्फ्रेंस करते आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक राघव चड्ढा
Twitter
  • आम आदमी पार्टी ने एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़े शब्दों में निंदा की है

  • आप ने दिशा रवि को तत्काल रिहा करने की मांग की और इस गिरफ्तारी को अपहरण बताया

  • मोदी सरकार युवाओं को डराना चाहती है, ताकि वे भाजपा के खिलाफ आवाज न उठाएं : आप

नयी दिल्ली : आम आदमी पार्टी (AAP) के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक राघव चड्ढा ने कहा कि आम आदमी पार्टी, दिल्ली पुलिस द्वारा भारत की 21 वर्षीय एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी की कड़े शब्दों में निंदा करती है और दिशा रवि को तत्काल रिहा करने की मांग करती है. यह गिरफ्तारी नहीं है, बल्कि एक असाधारण अपहरण है. उन्होंने कहा, मोदी सरकार भारत के युवाओं को डराना चाहती है, ताकि वे भाजपा के खिलाफ आवाज न उठाएं.

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी देश के सभी युवाओं से एकजुट होकर लोकतंत्र को खत्म करने की चल रही भाजपा की कोशिशों के खिलाफ आवाज उठाने की अपील करती है. दिशा रवि की गिरफ्तारी से पता चलता है कि किसानों के विरोध के कारण मोदी सरकार किस कदर बौखला गई है और डरी हुई है. मोदी सरकार को यह बताना चाहिए कि वे दो शब्द कौन से हैं, जिन्हें दिशा रवि ने कहा है और जो भाजपा के अनुसार राष्ट्र के लिए खतरा बन गया है.

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक राघव चड्ढा मीडिया को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सुबह ट्वीट कर साफ तौर पर युवा एक्टिविस्ट दिशा रवि की गिरफ्तारी की निंदा की है. आम आदमी पार्टी एक स्वर में कहना चाहती है कि भाजपा की केंद्र सरकार ने युवा कार्यकर्ता दिशा रवि को गिरफ्तार कर निंदनीय कार्य किया है. आम आदमी पार्टी कड़े शब्दों में इसकी निंदा और आलोचना करती है.

मोदी सरकार देश के युवाओं से डरती है

उन्होंने कहा कि हम यह सोचते हैं कि एक इतनी बड़ी विशाल 300 सांसदों वाली 56 इंच की छाती वाली सरकार एक 21 साल की जलवायु एक्टिविस्ट से डरती है. सरकार इतना डरती है कि दिल्ली से पुलिस भेज कर उसे गिरफ्तार किया गया है. प्रधानमंत्री ने कहा था कि विपक्ष के कुछ नेता हैं जो नाराज फूफी की तरह बर्ताव करते हैं, जब-जब नाराज फूफी को शादी में नहीं बुलाया जाता है. क्या आज ऐसी स्थिति आ गई है कि हम अपने देश के युवा को नाराज फूफी समझकर उन्हें जेलों में बंद करेंगे.

सुप्रीम कोर्ट ने कुछ दिन पहले एक आदेश में कहा था कि एक दिन के लिए भी किसी की स्वतंत्रता, अभिव्यक्ति से खिलवाड़ होता है तो वह देश और संविधान के खिलाफ है. इसकी भारी कीमत इस देश को चुकानी पड़ सकती है. राघव चड्ढा ने कहा कि देश के युवा से नरेंद्र मोदी सरकार घबराई और डरी हुई है. मोदी सरकार को विपक्ष से एलर्जी है लेकिन उससे ज्यादा युवाओं से एलर्जी है. युवा छात्र बड़ी मजबूती से अपनी बात को इस लोकतंत्र में खुलकर रखते आये हैं. लेकिन भारतीय जनता पार्टी को देश का युवा शायद पसंद नहीं है जिसकी वजह से उन्होंने 21 साल की छात्रा को गिरफ्तार किया है.

आप प्रवक्ता ने कहा कि दिल्ली से एक गुप्त ऑपरेशन के तहत दिल्ली पुलिस को भेजा गया. यह वही भाजपा है जब इंदिरा गांधी ने आपातकाल लगाया था तो उस समय इसके कई सारे नेता जेल में बंद हुए थे. भाजपा के वो नेता अपनी जेल में बिताए हुए कुछ महीनों को एक सम्मान की तरह पहनकर घूमते हैं. आज भी अपने जीवन की सबसे बड़ी उपलब्धियों में इसे गिनाते हैं कि इंदिरा गांधी की इमरजेंसी में हम जेल गये थे. क्योंकि हमें देश के लोकतंत्र की रक्षा करनी थी.

जो इमरजेंसी की बात करते हैं, वे देश को अघोषित आपातकाल की ओर ले जा रहे

1970 के दशक की याद जो बात-बात पर दिलाते हैं और आपातकाल की बात कर कांग्रेस पार्टी को घेरने की कोशिश करते हैं. आज वह लोग उसी हिसाब से इस देश को अघोषित आपातकाल की ओर ले जा रहे हैं. मैं आज पूछना चाहूंगा कि आप कड़े शब्दों में 70 के दशक में लगाई गई इमरजेंसी की तो निंदा करते हैं, लेकिन आप 21 साल के बच्चों को पुलिस भेज कर जेल में बंद कर देते हैं. दूसरे राज्य से की गई गिरफ्तारी में ट्रांजिट रिमांड सहित अन्य कानूनी प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया जाता. यह कहां का इंसाफ है. अगर यह आपातकाल नहीं है तो फिर आपातकाल क्या है.

राघव चड्ढा ने कहा कि आम आदमी पार्टी आज देश के सभी युवाओं से अपील करती है कि आप एकजुट हो जाइए और मिलकर एक स्वर में भारतीय जनता पार्टी की जो देश में लोकतंत्र को समाप्त करने की कोशिश है उसके खिलाफ आवाज बुलंद कीजिए. देश के युवाओं से हम आज अपील करते हैं कि आप एक स्वर में साथ आकर और मजबूत तरीके से भाजपा सरकार को जवाब दें. उन्हें अपनी ताकत का अहसास दिलाएं. बाबा साहब द्वारा दिया गया संविधान इस लोकतांत्रिक देश में लागू है. वह हर व्यक्ति को विरोध दर्ज कराने की आजादी देता है.

वे दो लाइनें क्या हैं जिसकी वजह से देश की अखंडता को चोट पहुंची है

राघव चड्ढा ने कहा कि मैं इस मंच से आज भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार और दिल्ली पुलिस से पूछना चाहता हूं कि वह कौन सी दो लाइनें हैं जिसका हवाला बार-बार दिल्ली पुलिस दे रही है और कह रही है कि दिशा रवि को हमने इन दो वाक्यों के लिए गिरफ्तार किया है. ऐसी वो दो क्या लाइनें हैं, यह सार्वजनिक किया जाए. दो लाइनों में ऐसा क्या है जो भारत की प्रभुता और अखंडता को हिला दे. क्या वह ऐसा कोई अपराध हो गया जिससे हमारी भारत माता की एकता और अखंडता को चोट पहुंची है.

मैं बड़े साफ शब्दों में भारतीय जनता पार्टी की सरकार को कहना चाहूंगा कि सरकार से मतभेद रखना, देश से मतभेद रखना नहीं है. आप कानूनी प्रावधानों और स्टेट मशीनरी का दुरुपयोग करके मतभेदों को रोकना चाहते हैं कि कोई भी व्यक्ति मोदी सरकार खिलाफ ना बोले. आम आदमी पार्टी कड़े शब्दों में दिशा रवि की गिरफ्तारी की निंदा करती है. यह मांग करती है कि उन्हें तत्काल छोड़ा जाए. साथ ही देश की युवाओं से अपील है कि आप सब एकजुट हो जाइए. एकजुट होकर अपनी आवाज को शांतिपूर्ण तरीके से बुलंद करिए.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें