1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. hindu sena put bhagwa flag on jnu main gate poster bhagwa jnu amh

भगवा JNU: हिंदू सेना ने जेएनयू के मुख्य गेट पर लहराया झंडा, लगाये पोस्टर

जेएनयू कैंपस के आसपास और उसकी दीवारों ने इस संगठन ने भगवा जेएनयू नाम के पोस्टर भी लगाने का काम किया. इसके बाद प्रशासन हरकत में आया. आपको बता दें कि रामनवमी के दिन जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में जमकर हंगामा मचा था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
JNU Violent Clash
JNU Violent Clash
ani

JNU Violent Clash : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय(जेएनयू) में रामनवमी के दिन नॉनवेज खाने को लेकर जमकर बवाल हुआ था. यह बवाल अभी भी शांत होता नजर नहीं आ रहा है. दरअसल शुक्रवार सुबह एक और मामला सामने आया है जो चर्चा का विषय बन गया है. टीवी रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार सुबह जेएनयू के मेन गेट पर हिंदू सेना नाम के संगठन ने भगवा झंडा लगा दिया. इतना ही नहीं जेएनयू कैंपस के आसपास और उसकी दीवारों ने इस संगठन ने भगवा जेएनयू नाम के पोस्टर भी लगाने का काम किया. इसके बाद प्रशासन हरकत में आया.

रामनवमी के दिन क्‍यों हुआ हंगामा

रामनवमी के दिन जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में जमकर हंगामा मचा था. मामले पर छात्र संघ (जेएनयूएसयू) ने आरोप लगाया था कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के सदस्यों ने छात्रों को छात्रावास में मांसाहारी भोजन खाने से रोका और ‘‘हिंसा का माहौल बनाया.'' वहीं, एबीवीपी ने आरोप से इनकार किया और दावा किया कि रामनवमी पर छात्रावास में आयोजित पूजा कार्यक्रम में ‘‘वामपंथियों'' ने बाधा डाली. दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पथराव करने और अपने-अपने सदस्यों के घायल होने का आरोप लगाया.

आइसा का पुलिस मुख्यालय के निकट प्रदर्शन

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के सैकड़ों विद्यार्थियों ने 11 अप्रैल को दिल्ली पुलिस मुख्यालय और तुगलक रोड थाने पर विरोध-प्रदर्शन किया और विश्वविद्यालय में हुई हिंसा में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं की कथित भूमिका के लिए उनकी गिरफ्तारी की मांग की. प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थी ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) से जुड़े थे.

क्‍या कहा था पुलिस ने

झड़प के बाद पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि 70 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेकर तुगलक रोड थाने और मंदिर मार्ग थाने ले जाया गया. हालांकि, बाद में सभी को छोड़ दिया गया. अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शनकारियों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं में एक मुकदमा दर्ज किया गया है. आपको बता दें कि जेएनयू के कावेरी छात्रावास के मेस में रविवार को रामनवमी के अवसर पर मांसाहार भोजन परोसने को लेकर विद्यार्थियों के दो गुटों में झड़प हो गयी थी. पुलिस के अनुसार इस झड़प में 20 विद्यार्थी घायल हो गये थे. अन्य वाम संगठनों से जुड़े छात्र निकायों के सदस्यों ने भी हिंसा फैलाने और विद्यार्थियों पर भोजन संबंधी अपनी इच्छा थोपने का एबीवीपी पर आरोप लगाया है.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें