1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. delhi police allegedly arrested iaf jawan who broke into the national security by getting trapped in honey trap vwt

हनी ट्रैप में फंसकर सुरक्षा में सेंध लगाने की फिराक में था IAF का सार्जेंट, दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के आधिकारिक सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आरोपी भारतीय वायु सेना के जवान को पिछले 6 मई को मिली खुफिया जानकारी के आधार पर राष्ट्रीय राजधानी के धौला कुआं से गिरफ्तार किया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
खुफिया जानकारी के लिए जासूसी कर रहा था जवान
खुफिया जानकारी के लिए जासूसी कर रहा था जवान
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली : हनी ट्रैप के जाल में फंसकर भारतीय वायु सेना (आईएएफ) का एक सार्जेंट अपने ही देश की राष्ट्रीय सुरक्षा में सेंध लगाने की फिराक में था. देश की सुरक्षा तंत्र में सेंध लगाने और संवेदनशील गुप्त जानकारियों को हासिल करने के लिए जासूसी के आरोप में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने भारतीय वायु सेना के एक सार्जेंट को गिरफ्तार किया है. आरोप है कि भारतीय वायु सेना का सार्जेंट देश की गुप्त जानकारी हासिल करने के लिए जासूसी कर रहा था. इसमें नागरिकों की रक्षा के लिए विकसित और स्थापित किए गए सुरक्षा तंत्र के साथ ही अहम पदों पर आसीन अधिकारियों की जानकारी हासिल करने की कोशिश की जा रही थी.

हनी ट्रैप में फंसकर जासूसी कर रहा था वायु सेना का जवान

सूत्रों के हवाले से हिंदी के टेलीविजन समाचार चैनल एबीपी न्यूज की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने देश की राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी अहम और गुप्त जानकारी एकत्र करने के लिए जासूसी के आरोप में भारतीय वायु सेना के सार्जेंट देवेंद्र शर्मा को गिरफ्तार किया है. वह उत्तर प्रदेश के कानपुर के रहने वाला है. सार्जेंट देवेंद्र शर्मा पर आरोप है कि उसे हनी ट्रैप के जरिए देश की सुरक्षा से जुड़े संवेदनशील दस्तावेजों और जानकारियां हासिल करने की कोशिश की गई.

खुफिया जानकारी के आधार पर हुई गिरफ्तारी

दिल्ली पुलिस के आधिकारिक सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आरोपी भारतीय वायु सेना के सार्जेंट को पिछले 6 मई को मिली खुफिया जानकारी के आधार पर राष्ट्रीय राजधानी के धौला कुआं से गिरफ्तार किया है. आरोप है कि भारत की सुरक्षा से जुड़े अहम दस्तावेज और जानकारियां एकत्र करने के लिए वायु सेना के सार्जेंट देवेंद्र शर्मा को हनी ट्रैप के जाल में फंसाया गया. इस जाल में फंसने के बाद उससे सुरक्षा तंत्र से जुड़े आला अधिकारियों और स्थापित रडारों की संख्या की जानकारी हासिल करने की कोशिश की जा रही थी. बताया जा रहा है कि इन गुप्त जानकारियों को लीक होने के बाद देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो सकता है.

फेसबुक के जरिए जवान की महिला से हुई दोस्ती

दिल्ली पुलिस के सूत्रों की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, भारतीय वायु सेना के जवान देवेंद्र शर्मा से फेसबुक के जरिए एक महिला के द्वारा संपर्क स्थापित किया गया है. इसके बाद फोन सेक्स के जरिए उसे हनी ट्रैप किया गया. जब वह पूरी तरह से हनी ट्रैप की जाल में फंस गया, तो उससे देश की सुरक्षा से जुड़ी अहम जानकारियां मांगी जाने लगीं. पुलिस सूत्रों का यह भी कहना है कि जिस मोबाइल नंबर के जरिए महिला द्वारा वायु सेना के जवान से सेक्स चैट के साथ-साथ अहम जानकारियां मांगी जा रही थीं, वह नंबर भारत में संचालित सेल्यूल सर्विस प्रोवाइडर कंपनियों में से किसी एक कंपनी का नंबर है.

जवान की पत्नी के बैंक खाते में ट्रांसफर की गई संदिग्ध रकम

सूत्र यह भी बताते हैं कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम फिलहाल उस महिला का पता लगाने में जुट गई है, जो सेना के जवान को हनी ट्रैप में फंसाकर सुरक्षा में सेंध लगाने की कोशिश कर रही थी. आशंका यह भी जाहिर की जा रही है कि जो महिला जवान को हनी ट्रैप के जाल में फंसाया, वह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई द्वारा प्रोजेक्ट भी हो सकती है. आरोप यह भी है कि हनी ट्रैपिंग की प्रक्रिया शुरू होने के बाद देवेंद्र शर्मा की पत्नी के बैंक खाते में कुछ संदिग्ध तरीके से रकम भी ट्रांसफर किए गए हैं.

क्या है हनी ट्रैप

दरअसल, हनी ट्रैप अंग्रेजी के दो शब्द हनी और ट्रैप से मिलकर बना है. हनी का मतलब शहद और ट्रैप का अर्थ जाल होता है. कुल मिलाकर यह कि हनी ट्रैप एक ऐसा मीठा जाल है, जिसमें फंसने वाले को यह पता ही नहीं चलता कि वह इस दलदल में कब फंस गया. इसमें खूबसूरत महिलाओं और पोर्न वेबसाइटों के फोटोज और वीडियो क्लिप्स का जबरदस्त तरीके से इस्तेमाल किया जाता है. संपर्क सोशल मीडिया के जरिए साधा जाता है और सेक्स चैटिंग ऑनलाइन होती है. इसमें युवाओं, प्रौढ़ और देश के अहम पदों पर आसीन लोगों को जाल में फंसाया जाता है. कई बार ब्लैकमेलिंग और आर्थिक ठगी के लिए भी लोगों को हनी ट्रैप में फंसा जाता है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें