1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. delhi cm arvind kejriwal orders immediate procurement of 1200 bipap machines for new icu beds in capital the bipap machines will be procured immediately from csir aml

Coronavirus से जंग के लिए केजरीवाल सरकार की रणनीति, नये ICU बेड के लिए 1200 BiPAP मशीन खरीदने का आदेश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
फाइल फोटो

Coronavirus in Delhi नयी दिल्ली : दिल्ली में कोरोनावायरस (Coronavirus Pandemic) के बढ़ते संक्रमण पर काबू पाने के लिए अरविंद केजरीवाल सरकार (Arvind Kejriwal Government) जहां अस्पतालों में आईसीयू बेड (ICU Bed) की संख्या लगातार बढ़ा रही है. वहीं, अब नये आईसीयू बेड के लिए 1200 बाईपैप मशीन (BiPAP Machine) खरीदने के आदेश दिये हैं. केजरीवाल सरकार ने वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) से इन मशीनों की तत्काल खरीद के आदेश दिये हैं. सोमवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण पर चिंता जतायी थी और दो दिनों में रिपोर्ट मांगा था.

दिल्ली में अब तक एक दिन में संक्रमण के सर्वाधिक मामले 11 नवंबर को सामने आये थे, जब 8,593 संक्रमितों का पता चला था. उस दिन 85 लोगों की संक्रमण से मृत्यु हो गयी थी. सोमवार को संक्रमण से 121 लोगों की मौत हुई. रविवार को भी संक्रमण के कारण इतने ही लोग मारे गए थे. पिछले 12 दिन में छठी बार एक दिन में मौत के मामलों की संख्या 100 से अधिक है. सोमवार को इलाज करा रहे संक्रमितों की संख्या 37,329 रही जबकि रविवार को यह संख्या 40,212 थी.

सरकार की ओर से जारी बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 5,34,317 पहुंच गयी है, जिनमें से 4,88,476 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. दिल्ली में कोविड-19 अस्पतालों में कुल बिस्तरों की संख्या 17,553 है जिनमें से 8,089 खाली हैं. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने शहर में कोविड-19 से मृत्यु दर में बढ़ोतरी के लिए पराली जलाने से हुए प्रदूषण को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि अगले दो-तीन सप्ताह में मृतकों की संख्या में कमी आने की उम्मीद है.

दिल्ली सरकार ने निजी अस्पतालों एवं नर्सिंग होम को निर्देश दिये हैं कि यदि आईसीयू और सामान्य कक्षों में कोविड-19 मरीजों के लिए आरक्षित बिस्तरों पर ऐसे मरीज हैं जो कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं हैं, तो उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद इन बिस्तरों को खाली रखा जाए. सरकार ने 90 निजी अस्पतालों को अपने कुल बिस्तरों में से 60 प्रतिशत और 42 निजी अस्पतालों को आईसीयू में 80 प्रतिशत बिस्तर कोविड-19 मरीजों के लिए आरक्षित रखने का निर्देश दिया है.

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को राजधानी दिल्‍ली में सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला का उद्घाटन किया, जिसके जरिए सिर्फ 499 रुपये में कोविड-19 की जांच कराई जा सकेगी और छह घंटे में परिणाम प्राप्त किए जा सकेंगे. सचल आरटी-पीसीआर जांच प्रयोगशाला की शुरुआत सरकार और ‘स्पाइस हेल्थ' के संयुक्त प्रयास से की गई है.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें