1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. delhi cm and aap chief arvind kejriwal announced to fight vidhansabha elections on all 70 seats in uttarakhand aml

उत्तराखंड की सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी केजरीवाल की आम आदमी पार्टी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Arvind Kejriwal
Arvind Kejriwal
File Photo

नयी दिल्ली : गोवा और पंजाब के बाद अब उत्तराखंड में भी आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) सभी 70 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. पार्टी के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने इसकी घोषणा की. केजरीवाल ने कहा कि उनकी पार्टी ने उत्तराखंड में एक सर्वे कराया था. सर्वे में जनता का भारी समर्थन मिलने की उम्मीद दिख रही है. इसलिए पार्टी ने उत्तराखंड की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने (Uttarakhand Election) का फैसला किया है.

केजरीवाल ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि पहले हम उत्तराखंड में चुनाव लड़ने के बारे में स्पष्ट नहीं थे इसलिए हमने वहां एक सर्वेक्षण कराया. सर्वे में 62 फीसदी लोगों ने कहा कि हमें उत्तराखंड में चुनाव लड़ने का फैसला करना चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि उत्तराखंड चुनाव में बेरोजगारी, शिक्षा और स्वास्थ्य संबंधी बुनियादी समस्याएं हमारे मुख्य मुद्दे होंगे.

केजरीवाल ने कहा कि वर्तमान में उत्तराखंड में आप का बड़ा संगठन या नेटवर्क नहीं है, लेकिन चुनाव जनता की उम्मीद से लड़े जाते हैं, संगठन से नहीं. जनता की आशाएं साथ हों और नेताओं की नीयत ठीक हो, तो संगठन बनने में देर नहीं लगती. उन्होंने कहा कि शुरुआती दिनों ने दिल्ली में भी आप के पास संगठन नहीं था, लेकिन पार्टी बनने के दो साल के भीतर ही आप ने कांग्रेस जैसी पुरानी पार्टी को शिकस्त दी और जनता के दिलों पर राज किया.

केजरीवाल ने कहा कि उत्तराखंड के लोगों ने दिल्ली के विकास को नजदीक से देखा है. दिल्ली में रहने वाले उत्तराखंडी यहां के स्कूलों के विकास, शिक्षा और स्वास्थ्य में हुए बदलाव को भी देखा है और वे जरूर उत्तराखंड में भी आप को समर्थन देंगे. लोगों की फीडबैक के बाद पार्टी ने करीब डेढ़ महीने पहले प्रदेश में एक व्यापक सर्वे कराया, जिसमें 62 प्रतिशत लोगों ने इच्छा जताई कि आप को उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में हिस्सा लेना चाहिए.

उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य हमारा मुख्य मुद्दा होगा. विकास के लिए ये दोनों बेहद जरूरी हैं. इसके साथ ही देवभूमि के लिए आपदा प्रबंधन की विशेष रणनीति बनेगी. हर स्तर पर प्रकृति संरक्षण की व्यवस्था होगी. साथ ही पूरी दुनिया को धर्म सिखाने वाले इस प्रदेश में चार धाम समेत सभी आस्था केंद्रों की रक्षा और प्रोत्साहन का काम आगे बढ़ाया जायेगा.

केजरीवाल ने कहा कि आस्था और विकास एक दूसरे के पूरक हैं. दोनों को मिलाकर उत्तराखंड का एक विशेष विकास मॉडल बनेगा और इस मॉडल को आप पार्टी नहीं, प्रदेश की जनता ही मिल बैठकर बनायेगी. उन्होंने कहा कि प्रकृति, आपदा और समाधान, इनका सबसे अच्छा ज्ञान स्थानीय आबादी को होता है. इसलिए प्रदेश के विकास का रोड मैप बनाने का काम स्थानीय लोगों को दिया जायेगा.

Posted By: Amlesh Nandan Sinha.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें