1. home Hindi News
  2. state
  3. delhi ncr
  4. ammonia levels rise in yamuna delhi jal board busy to secure supply raghav chaddha pkj

यमुना में अमोनिया का स्तर बढ़ा , सप्लाई सुरक्षित करने में जुटा दिल्ली जल बोर्ड : राघव चड्ढ़ा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यमुना में अमोनिया का स्तर बढ़ा
यमुना में अमोनिया का स्तर बढ़ा

दिल्ली में अमोनिया का स्तर दोबारा बढ़ गया. दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढ़ा ने सोनिया विहार प्लांट का दौरा किया. अपने दौरे में डीजेबी उपाध्यक्ष ने सुनिश्चित किया कि प्लांट का कामकाज 70-80 प्रतिशत क्षमता पर दोबारा शुरू किया जाये.

उन्होंने सोनिया विहार प्लांट पर वरिष्ठ अधिकारियों और चीफ इंजीनियर (वॉटर) के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की और सोनिया विहार और भागीरथी प्लांट में दोबारा पूरी क्षमता के साथ काम शुरू करने का निर्देश दिया. इन प्लांट्स से दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और एनडीएमसी के कुछ इलाकों में पानी सप्लाई किया जाता है .

राघव चड्ढ़ा ने कहा, हर व्यक्ति को 24 घंटे पानी देने के सपने को हकीकत में बदलना है. ऐसे मुश्किल समय में भी हमें इस लक्ष्य को पाने के लिए काम करना होगा. इस प्लांट की क्षमता 140 एमजीडी है और मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि यह प्लांट अब दोबारा 70-80 प्रतिशत क्षमता के साथ काम कर रहा है. मुझे पूरा भरोसा है कि कुछ घंटों में यह प्लांट 100 प्रतिशत क्षमता पर दोबारा काम करना शुरू करने लगेगा.

उन्होंने कहा, ‘दिल्ली चारो तरफ से जमीन से घिरा हुआ प्रदेश है, हमें अपने पानी के लिए पड़ोसी राज्यों पर निर्भर होना पड़ता है. दिल्ली में पानी गंगा, यमुना और व्यास नदी से पानी आता है. यमुना का पानी हरियाणा और गंगा का पानी उत्तर प्रदेश से आता है.

सालाना मेंटेनेंस की वजह से गंगा नदी का पानी जो उत्तर प्रदेश से आता है वो बंद हो गया है और ऐसा हर साल अक्टूबर महीने में होता है. दुर्भाग्य वश इस बार इस मेंटेनेंस के काम के साथ हरियाणा से दिल्ली में आने वाले पानी में अमोनिया बढ़ने की घटना भी हो गई है.

उन्होंने आगे पानी में फिलहाल 1.7 पीपीएम से 1.9 पीपीएम (पाट्र्स प्रति मिलियन) के बीच है. ‘कल अमोनिया का स्तर 3.5 पीपीएम तक चला गया था, जो कि बहुत ही ज्यादा खराब स्तर माना जाता है. अमोनिया का स्तर इतना ज्यादा बढ़ने की वजह से कल हमें सोनिया विहार और भागीरथी प्लांट बंद करना पड़ा था.

चड्ढ़ा ने कहा, ‘पानी में बढ़े अमोनिया को ठीक करने के लिए हमें अपने 2 बड़े प्लांट सोनिया विहार और भागीरथी प्लांट को बंद करना पड़ा था. इन दोनों प्लांट की क्षमता कुल मिलाकर 250 एमजीडी है और इन प्लांट्स से पूर्वी दिल्ली, उत्तर पूर्वी दिल्ली और दक्षिणी दिल्ली में पानी की सप्लाई होती है.

Posted By - Pankaj Kumar Pathak

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें