1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. weather forecast updates of weather report today in bihar know flood reports of all district flood havoc in 282 panchayats of 55 blocks of 10 districts patna darbhanga bhagalpur munger madhubani flood news and mansoon latest updates of bihar read bihar news as bihar weather live news

Bihar Flood Updates: बिहार सरकार ने मांगी वायु सेना से हेलीकाॅप्टर, शनिवार से बंटेगा फूड पैकेट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बाढ़
बाढ़
फाइल फोटो

Bihar Weather Forecast, Bihar news, Flood Live Updates : बिहार के 10 जिलों की 765191 आबादी बाढ़ से प्रभावित हो गयी है जिनमें से 36448 लोगों को सुरक्षित ठिकानों तक पहुंचाया गया है । आपदा प्रबंधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्रदेश के 10 जिलों सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिम चंपारण एवं खगडिया जिले के 64 प्रखंडों के 426 पंचायतों की 636311 आबादी बाढ से प्रभावित है जहां से हटाये गए 13877 लोग 28 राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं. आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव रामचंद्रू डू ने बताया कि 147 सामुदायिक रसोई चलायी जा रही है, जिनमें 80 हजार से अधिक लोग प्रतिदिन भोजन कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि सबसे अधिक दरभंगा में 98 सामुदायिक रसोई चलायी जा रही. इसके अतिरिक्त 10 राहत शिविरों में चार हजार लोग रह रहे हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

बिहार सरकार ने मांगी वायु सेना से हेलीकाप्टर, शनिवार से बंटेगा फूड पैकेट

राज्य में बाढ़ की स्थिति गंभीर होती जा रही है. गंडक नदी के गोपालगंज और पूर्वी चंपारण के तीन तटबंधों में दरार आने के बाद निचले इलाकों में पानी फैल गया है. राज्य सरकार ने वायु सेना से हेलीकाप्टर की मांग की है. शनिवार की सुबह तक वायु सेना की हेलीकाप्टर पटना पहुंच जायेंगे. इसके बाद बाढ़ ग्रस्त इलाकों में राहत पैकेट गिराये जायेंगे.

email
TwitterFacebookemailemail

बाढ़ से उत्तर बिहार की स्थिति भयावह, सरकार गंभीर नहीं : शरद यादव

पूर्व सांसद शरद यादव ने उत्तर बिहार में आयी बाढ़ को भयावह बताया. उन्होंने कहा कि उत्तर बिहार के जिलों में लगातार बारिश से बाढ़ की स्थिति भयावह हो गयी है. बाढ़ से प्रभावित जिलों में सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल, किशनगंज, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, सहरसा और मधेपुरा शामिल हैं. इन जिलों में कई सड़कें ध्वस्त हो गयी हैं. कई लोगों के घरों और कार्यालयों में पानी भर गया है. कई जगह आवागमन ठप हो गया है. उन्होंने कहा कि नेपाल से बिहार आनेवाली नदियां उफान पर हैं. गंडक, कोसी, बागमती, लखनदेई, बूढ़ी गंडक जैसी नदियों ने विकराल रूप धारण कर लिया है. पानी के तेज बहाव से सड़कों का संपर्क टूट गया है. लगातार हल्की बारिश के बीच नदियों के जलस्तर में उतार-चढ़ाव जारी है. राज्य में आधा दर्जन नदियां कहीं ना कहीं लाल निशान से ऊपर ही बह रही हैं. बिहार की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है. एक तरफ सरकार ने कोरोना से निबटने के लिए पुख्ता इंतजाम नहीं किए और इंसान को इंसान ना समझने वाले दृश्य राज्य में देखने को मिल रहे हैं, जो बहुत ही दर्दनाक और दयनीय है और दूसरी तरफ बाढ़ जोकि मालूम है हर साल विनाश करती है उसके लिए भी गंभीर रूप से सरकार तैयार नहीं थी.

email
TwitterFacebookemailemail

सहरसा में कटाव से पांच दर्जन लोगों के आशियाने पर खतरा, क्रेटिंग कार्य शुरू होने से ग्रामीणों में खुशी

सहरसा में कटाव से पांच दर्जन लोगों के आशियाने पर खतरा, क्रेटिंग कार्य शुरू होने से ग्रामीणों में खुशीसहरसा में कोसी की मध्य धारा के मुहाने पर स्थित कुंदह गांव के लगभग पांच दर्जन परिवारों के आशियाने को कोसी अपनी कोख में लेने को तैयार है. मालूम हो कि कोसी की धारा गांव से उत्तर कई लूप लाइन बनाकर पश्चिम दिशा में अपना बहाव ले जाना चाहती है. बरसात के दिनों में बाढ़ के बाद जब जलस्तर नीचे गिरने लगता है और नदी अपनी मुख्यधारा में सिमटने लगती है, तो कटनियां अपना कहर बरपाती है. गांव की आबादी के विस्थापन को रोकने की मंशा से तीन माह पूर्व भी गांव से उत्तर बांस-बल्ला लगा कर बालू भरे बोरों का क्रेटिंग कार्य कराया गया था, जो कटनियां में नीचे दरक गया और पुनः खतरा मंडराने लगा. स्थानीय ग्रामीण व जदयू नेता अनवर आलम उर्फ अनवर आजाद की अगुवाई में ग्रामीणों के त्राहिमाम संदेश पर चार दिन पूर्व जिलाधिकारी कौशल कुमार, डीडीसी राजेश कुमार सिंह और जल संसाधन विभाग के अभियंता कुंदह कटनियां स्थल का जायजा लिया था और कटावरोधी कार्य कराये जाने का आश्वासन दिया था. डीएम के प्रस्ताव प्रतिवेदन पर कुंदह गांव में पिछले दो दिन से परकोपाइन का कार्य युद्धस्तर पर जारी है. बचाव कार्य शुरू होने से आमलोगों में खुशी है.

email
TwitterFacebookemailemail

मुंडा पुल के रेल पुल नंबर-16 के गर्डर पर चढ़ा करेह नदी का पानी

दरभंगा-समस्तीपुर रेलखंड पर हायाघाट स्टेशन के निकट मुंडा पुल का पाया डूब गया है. नदी का पानी पुल के गर्डर को छू कर बह रही है. सूत्रों के मुताबिक ट्रेन परिचालन बंद कर दिया गया है.

email
TwitterFacebookemailemail

हाई स्कूल का भवन ध्वस्त 

भागलपुर : लगातार हो रही बारिश और बाढ़ के कारण नदी में हो रहे कटाव से नवगछिया में एक हाई स्कूल की बिल्डिंग ढह गयी.

email
TwitterFacebookemailemail

खुद नाव चलाकर पीड़ित तक पहुंची वार्ड सदस्य

सहरसा जिले के बनमा ईटहरी प्रखंड की सहुरिया पंचायत का हराहरी राम टोला बाढ़ के पानी से घिर गया़ लोगों के पास वहां से निकलने का रास्ता नहीं दिख रहा था़ इसकी जानकारी मिलने पर वार्ड सदस्य उर्मिला देवी खुद नाव लेकर पहुंची और बाढ़ में फंसे लोगों को नाव से मुख्य सड़क तक छोड़ा़ सबसे बड़ी बात यह है कि वह खुद नाव चला रही हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

नालंदा, नवादा, सीतामढ़ी, शेखपुरा और बक्सर में अलर्ट

पटना : मौसम विभाग ने नालंदा, नवादा, सीतामढ़ी, शेखपुरा और बक्सर में अगले दो से तीन घंटों में वर्षा और वज्रपात की आशंका है. लोगों को बादल छाने पर घर से बिना कारण बाहर नहीं निकलने की सलाह दी गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

पटना भोजपुर सारण में अलर्ट

पटना . मौसम विभाग ने पटना भोजपुर सारण में अलर्ट जारी किया है. विभाग ने अगले तीन घंटों में इन इलाकों में वर्षा और वज्रपात की आशंका है.

email
TwitterFacebookemailemail

दरभंगा और समस्तीपुर के बीच की रेल सेवाएं बंद

ईस्ट सेंट्रल रेलवे (ECR) के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी (CPRO) ने कहा है कि बाढ़ के कारण, दरभंगा और समस्तीपुर के बीच की रेल सेवाएं बंद कर दी गई हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

दरभंगा के हनुमाननगर में बांघ टूटा

दरभंगा के हनुमाननगर प्रखंड में पटोरी गांव का रिंग बांध ध्वस्त। गांव होकर एसएच गुजरता है। इस पर कुछ देर में पानी चढ़ जाएगा। इससे प्रखंड के पश्चिमी भाग की 50 हजार की आबादी का प्रखंड तथा जिला मुख्यालय से सीधा सड़क सम्बन्ध भंग हो जायेगा

email
TwitterFacebookemailemail

मुजफ्फरपुर, दरभंगा और सिवान में अलर्ट

पटना : मौसम विभाग ने मुजफ्फरपुर दरभंगा और सिवान में अलर्ट जारी किया है. जारी चेतावनी के अनुसार इन जिलों के कुछ इलाकों में अगले तीन घंटों में वर्षा और वज्रपात की आशंका है. लोगों को बिना कारण घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की गयी है.

email
TwitterFacebookemailemail

पटना के पालीगंज में अलर्ट

पटना : मौसम विभाग ने अगले तीन घंटों में पटना के पालीगंज इलाके में वर्षा और वज्रपात की आशंका प्रकट की है. लोगों से अपील की गयी है कि आसमान में बादल छाये रहने पर बिना कारण घर से बाहर न निकलें.

email
TwitterFacebookemailemail

गोपालगंज- बेतिया महासेतु का एप्रोच रोड ध्वस्त

गोपालगंज : वाल्मीकिनगर बराज से गंडक नदी में 4.50 लाख क्यूसेक पानी छोड़े जाने से गोपालगंज-बेतिया महासेतु के आगे एप्रोच पथ ध्वस्त हो गया. माइनर ब्रिज के पास दोनों तरफ करीब 20-20 मीटर तक एप्रोच पथ पानी के तेज धार में बह गया, जिससे गोपालगंज-बेतिया पथ पर परिचालन ठप हो गया है. इधर, पथ निर्माण मंत्री ने कहा कि महासेतु सुरक्षित है. वहीं, गुरुवार की सुबह महासेतु के पास गंडक की धार को रोकने के लिए बनाया गया गाइड बांध भी 30 मीटर तक टूट गया.

email
TwitterFacebookemailemail

दरभंगा में बागमती का पछियारी तटबंध टूटा

दरभंगा जिले के के केवटी प्रखंड के माधोपट्टी में कचहरी टोला के पास बागमती नदी का पछियारी तटबंध टूटा, पाठक टोला के कई घरों में बाढ़ का पानी चला गया है. लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने का काम चल रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

पुरैना में सारण मुख्य तटबंध टूटा

गोपालगंज के मांझा के पुरैना में सारण मुख्य तटबंध टूटा गया है. बरौली के देवापुर में सारण मुख्य तटबंध भी टूटने की सूचना है. बरौली के देवापुर में रिंग बांध और जादोपुर के राजवाही में गाइड बांध भी टूटा है.

email
TwitterFacebookemailemail

खाली कराये गये नीचले इलाके

गोपालगंज. गंडक नदी के दबाव से गुरुवार की शाम बरौली प्रखंड के देवापुर में रिंग बांध टूट गया. रिंग बांध टूटने के बाद साईं7 तटबंध पर पानी का दबाव बढ़ गया है. सुबह से ही रिंग बांध पर पानी का दबाव था. बाढ़ नियंत्रण विभाग की टीम रिंग बांध को बचाने में जुटी हुई थी, लेकिन पानी का दबाव इस कदर बढ़ा कि रिंग बांध नहीं रोक सका. डीएम अरशद अजीज ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया. नीचले इलाके में रहने वाले लोगों को खाली कराया गया. डीएम का कहना है कि रिंग बांध के ऊपर तक पानी आ गया था जिसकी वजह से ओवरफ्लो होने के बाद रिंग बांध टूट गया. हालांकि सारण बांध को बचाने में प्रशासन की टीम युद्ध स्तर पर लगी हुई है. लोगों को सुरक्षति स्थानों पर भेजा रहा है.

email
TwitterFacebookemailemail

बारिश की आशंका, अलर्ट

पटना. गंडक नदी के निचले (जल ग्रहण क्षेत्र) इलाके में शुक्रवार और शनिवार को भारी बारिश की आशंका को देखते हुए सरकार ने अलर्ट जारी किया है. बूढ़ी गंडक, सिकरहना और गंगा में पानी बढ़ रहा है. गंडक व बागमती नदियों के तटबंधों में रिसाव की सूचना है, जिन्हें दुरुस्त किया जा रहा है. वहीं, अधवारा नदी में उफान आने से गुरुवार को सीतामढ़ी-पुपरी पथ पर पानी चढ़ गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें