1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. supaul
  5. the train left for supaul to asanpur kupha clapped everywhere people expressed happiness in mithila asj

12:25 बजे सुपौल से आसनपुर कुपहा के लिए रवाना हुई ट्रेन, हर जगह ताली बजा कर किया लोगों ने किया खुशी का इजहार

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ट्रेन
ट्रेन
twitter

राकेश/आकाश, सुपौल : सहरसा-फारबिसगंज रेल खंड में सुपौल-सरायगढ़-राघोपुर के बीच अमान परिवर्तन, सरायगढ़-आसनपुर कुपहा के बीच नयी रेल लाइन सहित कोसी रेल महासेतु का प्रधानमंत्री द्वारा उद‍्घाटन के बाद इस रेलखंड में नयी ट्रेन का परिचालन प्रारंभ हो गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑनलाइन कार्यक्रम के दौरान सुपौल रेलवे स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर नयी डेमू ट्रेन को रवाना किया. स्टेशन परिसर में समारोह का आयोजन किया गया था.

86 साल बाद जुड़ा दरभंगा और कोसी प्रमंडल

जहां सैकड़ों के संख्या में एनडीए के नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे. इधर कार्यक्रम को एलइडी पर देखने के लिये स्टेशन के बाहर लोगों की भीड़ लगी हुई थी. ट्रेन परिचालन शुरू होने से लोगों में खुशी का ठिकाना नहीं था. वहीं सैकड़ों लोग ट्रेन पर सवार होकर फुले नहीं समा रहे थे. 12:55 बजे सुपौल से आसनपुर-कुपहा के लिये ट्रेन रवाना हुई. जो सभी स्टेशनों पर रुकते हुए 02:40 बजे कुपहा पहुंची. आमान परिवर्तन के बाद सुपौल से सरायगढ़ व राघोपुर के बीच तकरीबन 05 वर्ष बाद ट्रेन की सीटी लोगों के कानो तक पहुंची और लोगों का इस रेलखंड पर चलना संभव हो पाया. वहीं कोसी पर रेल महासेतु बनने से 86 साल बाद दरभंगा व कोसी का बेटी-रोटी का संबंध पुन: कायम हो गया. मालूम हो कि सुपौल से निर्मली व मधुबनी, दरभंगा जाने के लिये तकरीबन 300 किलोमीटर का सफर तय कर आर्थिक व शारीरिक नुकसान सहना पड़ता था. इस रेलखंड के चालू हो जाने से अब लोगों को महज आधे घंटे में निर्मली व तकरीबन डेढ़ घंटे में दरभंगा पहुंचना संभव हो गया है.

दुल्हन की तरह सजा था सुपौल रेलवे स्टेशन

उद‍्घाटन समारोह को लेकर सुपौल रेलवे स्टेशन को दुल्हन के तरह सजाया गया था. लोगों की निगहवानी के लिये चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती की गई थी. रेलवे स्टेशन के बाहर बड़े एलइडी स्क्रिन पर बाहर खड़े लोग प्रधानमंत्री व अन्य नेताओं के भाषण को बड़े गौर से सुन रहे थे. जैसे ही प्रधानमंत्री ने ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किये लोगो के तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा वातावरण गुंजयमान हो उठा. लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जायकारे भी लगाये. साथ ही प्रधानमंत्री सहित रेल प्रशासन का आभार प्रकट किया.

ट्रेन में सफर कर रहे लोगों ने किया खुशी का इजहार

टिकट काउंटर पर टिकट कटाते कटहारा निवासी महादेव चौधरी ने बताया कि तकरीबन 05 वर्ष पूर्व सुपौल से अपने घर कदमपुरा स्टेशन के लिये सफर करता था. ट्रेन बंद हो जाने के बाद से घर आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रह था. ऑटो चालक द्वारा मनमाना किराया लेने से आर्थिक दोहन भी हो रहा था. अब आम लोगों को साथ-साथ उन्हें भी सुविधा मिलेगी. ट्रेन में सफर कर रहे मलहद निवासी नरेश चौधरी ने बताया कि तकरीबन 05 साल बाद इस रेलखंड में ट्रेन पर सवार होकर बहुत सुखद अनुभूती हो रही है. उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के आत्मा के शांति की कामना की. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद ज्ञापन किया.

18 वर्ष की ममता पहली बार ट्रेन में चढ़ी

सुपौल लोहिया नगर चौक स्थित चाय दुकानदार नीतीश कुमार मंडल ने बताया कि पुन: ट्रेन सेवा बहाल हो जाने से उन लोगों के व्यवसाय में भी काफी बढ़ोतरी होगी. बताया कि जब से राघोपुर-सुपौल ट्रेन बंद हुआ. तब से उन लोगों के धंधे पर असर पड़ा था. लेकिन इस कोरोना काल के बीच भी प्रधानमंत्री द्वारा ट्रेन परिचालन बहाल कराने से उन लोगों को आवागमन में सुविधा मिलेगी. सुपौल निवासी ममता भारती ने बताया कि वे 18 वर्ष उम्र की हैं और वे पहली बार ट्रेन में चढ़ी है. वो भी नई रेलखंड पर कोसी महासेतु देखकर बहुत खुश हैं. उन्होंने मोदी जी को दिल से धन्यवाद ज्ञापन किया.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें