1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. sitamarhi
  5. nepal tightens on smuggling of petroleum prohibits indian cargo trucks from giving more than hundred liters of fuel asj

पेट्रोलियम की तस्करी को लेकर नेपाल ने की सख्ती, भारतीय मालवाहक ट्रकों को सौ लीटर से अधिक ईंधन देने पर लगायी रोक

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
नेपाल ने लगायी रोक
नेपाल ने लगायी रोक
फाइल

सीतामढ़ी. नेपाल में भारत से सस्ता पेट्रोल व डीजल है. दोनों पेट्रोलियम पदार्थ का निर्यात भारत ही करता है. पेट्रोल व डीजल भारत में महंगा और नेपाल में सस्ता होने की बात सुनकर एक पल के लिए जानकारी नहीं रहने वाले हर किसी को हैरानी होगी, लेकिन यह बात सोलह आना सच है.

भारत के लोग पेट्रौल व डीजल की कीमतों में लगातार उछाल से त्राहिमाम कर रहे हैं, तो नेपाल के लोगों पर इसका कोई असर नहीं है. भारत में उक्त दोनों पेट्रोलियम पदार्थ चाहे जितना महंगा कर दिया जाये, नेपाल में भारत से सस्ता ही बिकता है.

इधर, ईंधन की तस्करी की खबर के बाद सीमा से सटे नेपाल जिलाें के प्रशासन ने मौखिक रूप से बॉर्डर से सटे पंप संचालकों को यह निर्देश दिया है कि भारतीय मालवाहक ट्रकों को सौ लीटर से अधिक ईंधन नहीं दें. बताया गया है कि गैलन व कंटेनर में ईंधन देने पर पूरी तरह अघोषित पाबंदी लगा दी गयी है.

शराब की तरह अब ईंधन की तस्करी

नेपाल में ईंधन सस्ता होने के कारण अब इसकी भी तस्करी शुरू हो गई है. कल तक तस्कर शराब व अन्य सामग्री की ही तस्करी में लगे रहते थे, तो अब पेट्रोल व डीजल की भी तस्करी करने लगे हैं. तस्करी के धंधे को तेज करते हुए तस्कर बाइक वाले युवकों को रखे हैं, जो भारत-नेपाल की खुली सीमा का फायदा उठाकर आराम से बॉर्डर पार कर नेपाल जाते हैं और वहां के पंप से बाइक की टंकी फुल करा लौट आते हैं. यह क्रम पूरे दिन भर चलता रहता है.

भारत में उक्त ईंधन को बेचकर तस्कर अच्छी कमाई कर रहे हैं. इधर, ट्रक चालक जब भी कोई माल लेकर नेपाल जाते हैं, तो कोशिश करते हैं कि ट्रक में उतना ही तेल रहे, जिससे नेपाल की सीमा में प्रवेश कर जाये. फिर वहां के पेट्रोल पंप पर ट्रक की टंकी को डीजल से फुल करा लेते हैं. कुछ ट्रक चालक भारत में आकर उसकी बिक्री भी कर लेते हैं. खास बात यह कि एसएसबी की लाख चौकसी व पुलिस की सतर्कता के बावजूद दिन-रात बाइक व साईकिल से ईंधन की तस्करी का धंधा फलने-फूलने लगा है. तस्करी के इस खेल से सरकार को राजस्व का चूना लग रहा है.

कभी-कभी पंप पर तेल की कमी

इन दिनों बॉर्डर इलाके में ईंधन की तस्करी का आलम यह है कि बॉर्डर सील होने के बावजूद भी सुबह से ही बैरगनिया से सटे लक्ष्मीपुर बेलविच्छवा, ब्रह्मपुरी व महादेवपट्टी के रास्ते भारतीय सीमा क्षेत्र से बाइक चालक ईंधन के लिए गौर जाने लगते हैं. कभी-कभी तो भारतीय तस्करों की तस्करी के सीमा से सटे नेपाल के पेट्रोल पंप पर तेल की किल्लत भी हो जाती है.

सोमवार को नेपाल के गौर के बीपी चौक के पास सुशील ऑयल स्टोर्स में दोपहर में ही पेट्रोल खत्म हो गया था. हालांकि नेपाल पुलिस द्वारा डीजल पेट्रोल की तस्करी पर रोक लगाने की कोशिश किये जाने का दावा किया जा रहा है. इधर, बैरगनिया के एक मात्र पेट्रोल पंप पर डीजल-पेट्रोल की बिक्री पहले की अपेक्षा कम हो गई है.

भारत व नेपाल में ईंधन का दर

नेपाल में डीजल 94.20 रुपये व पेट्रोल 111.20 रुपये (नेपाली रुपये) प्रति लीटर दर है. भारतीय मुद्रा में इसकी कीमत डीजल 58.88 रुपए व पेट्रोल 69. 50 पैसे प्रति लीटर होगी. बैरगनिया के नन्दवारा पेट्रोल पंप पर डीजल 87.75 रुपये व पेट्रोल 94.53 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है. यानी भारत से नेपाल में इस समय डीजल करीब 29 रुपये व पेट्रोल 25 रुपये प्रति लीटर सस्ता है.

नेपाल को मिलता है टैक्स फ्री ईंधन

नेपाल में डीजल-पेट्रोल भारत से सस्ता बिकने के सवाल पर स्थानीय कस्टम अधीक्षक जेके एक्का ने बताया कि भारत द्वारा नेपाल को टैक्स फ्री पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति की जाती है. यही कारण है कि नेपाल में ईंधन सस्ता है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें