1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. sitamarhi
  5. bihar news brother killed nephew and sister by giving poison asj

Bihar News : प्रेम विवाह करना बहन को पड़ा महंगा, भाई ने जहर देकर भांजा व बहन को मारा

इस घटना को लेकर क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. जहां मंगलवार की शाम घर आए भाई की आवभगत में बहन लगी थी वही सुबह उस भाई ने उसे मौत के घाट उतार दिया. उक्त घटना पिपरासी थाना क्षेत्र के मंझरिया खास गांव की है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बहन को जहर खिलाया
बहन को जहर खिलाया
सोशल मीडिया टि्वटर

सीतामढ़ी . जिले के पिपरासी इलाके में प्रेम विवाह करना एक बहन को भारी पड़ा, नाराज भाई ने दो वर्षीय भांजे के साथ बहन को जहर देकर मौत के घाट उतार दिया. इस घटना को लेकर क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है. जहां मंगलवार की शाम घर आए भाई की आवभगत में बहन लगी थी वही सुबह उस भाई ने उसे मौत के घाट उतार दिया. उक्त घटना पिपरासी थाना क्षेत्र के मंझरिया खास गांव की है.

प्रेमी युगल घर से भाग कर किये थे शादी

घटना के संबंध में स्थानीय मुखिया चंद्रिका गुप्ता व सरपंच अनिरुद्ध साहनी ने बताया कि मंझरिया खास गांव निवासी अरविंद यादव तीन वर्ष पूर्व यूपी के कुशीनगर जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के जरार गांव में एक प्राइवेट विद्यालय में शिक्षक रूप में कार्य करता था. इसी दौरान उसी गांव के सत्यनारायण यादव की पुत्री नीतू यादव से उसको प्रेम हो गया. बीच में उस लड़की की शादी कही तय करने की चर्चा शुरू हो गयी. इसको देख दोनों प्रेमी युगल घर से भाग कर शादी कर लिए.

बालिग होने के कारण नहीं हुई कोई कानूनी कार्रवाई

बालिग होने के कारण कोई कानूनी कार्रवाई भी नहीं हो सकी. वही कुछ दिनों बाद लड़की के माता-पिता इस बात को लेकर राजी हो गये कि लड़का भी स्वजातीय है. लेकिन मृतका का बड़ा भाई मैनेजर यादव इस बात को स्वीकार नहीं किया. दोनों की शादी के एक वर्ष बाद एक बच्चा ने जन्म लिया. बच्चे के जन्म देने के बाद दोनों परिवार के लोग खुशी खुशी उसे अपना लिए. बड़ा भाई अभी भी उसे दिल से स्वीकार नहीं कर पा रहा था. लेकिन यह बात सामने नहीं लाता था.

एक सप्ताह पूर्व बहनोई के घर से आई थी मृतका

स्थानीय लोगों ने बताया कि मृतका एक सप्ताह पहले अपने बड़ी बहन के घर रह कर दो दिन पहले ही घर आई थी. मृतिका अपने सास ससुर से छह माह से अलग रहती थी. पति बाहर कमाने गया हुआ था. इससे उसके मायके के लोगों का आना जाना लगा रहता था. दोनों तरफ परिवार खुशी से रहते थे. इसी बीच मंगलवार को बड़ा भाई बहन के घर पहुंचा. बड़े भाई को देख बहन बहुत खुश हुई. भाई की सेवा में लगी रही. भाई को खाना खिला और अपने भी खाना खा कर अपने दो वर्षीय पुत्र हर्ष कुमार के साथ होने चली गई. इस बीच भाई द्वारा लाई गई मिठाई को दोनों मां बेटे खा कर सो गये.

देर तक नहीं उठने पर लोगों ने खोला दरवाजा

वही बुधवार की सुबह सात बजे तक जब दोनों मां बेटा नहीं जगे तो आसपास के लोगों को शक हुआ, उस शक के हिसाब से जब लोग दरवाजा खोल कर अंदर गये तो दोनों मृत पड़े हुए थे. इसके बाद लोगों ने गांव के जनप्रतिनिधियों के साथ पुलिस को इसकी सूचना दी.

जहर देने के बाद बाहर से कुंडी लगा भाग गया भाई

रात को मृतका भाई को सुला कर सोने चली गई. बाद में भाई ने बहन के सो जाने के बाद चुपके से घर से निकल गया और दरवाजे के बाहर से कुंडी लगा दिया था. आसपास के लोगों ने जब बाहर से कुंडी लगा देखा तो उन्हें शक हुआ. वही मासूम बच्चे के शव को देख उपस्थित लोगों की आंखें भर आ रही थी. जबकि कलयुगी मामा को लोग कोस रहे थे.

बोले थानाध्यक्ष

इधर थानाध्यक्ष राजीव कुमार सिन्हा ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या के कारणों का पता लगेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें