1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. saharsa
  5. four high level bridges and one rob to be built in kosi division asj

कोसी प्रमंडल में बनेंगे चार हाई लेवल ब्रिज और एक आरओबी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

सहरसा : कोसी क्षेत्र के चार जिले की लाखों की आबादी की सुगम आवाजाही के लिए राज्य सरकार की लोक वित्त समिति से 513 करोड़ 76 लाख 58 हजार की प्रशासनिक स्वीकृति मिल जाने से क्षेत्र की अवाम में खुशी की लहर है. कोसी क्षेत्र की एक और प्रस्तावित महत्वपूर्ण सड़क मानसी-सहरसा-हरदी चौधारा के पहले फेज में धनछर से बदला घाट बांध तक सड़क, चार हाई लेवल ब्रिज एवं एक फ्लाइओवर का निर्माण किया जायेगा. लोक वित्त समिति से हरी झंडी मिलने के बाद मधेपुरा के सांसद दिनेश चंद्र यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रयास से लगभग 514 करोड़ की पहले फेज की इस परियोजना को सहमति मिलने के बाद धनछर एवं बदला घाट के बीच चार नदियों पर हाई लेवल ब्रिज के साथ बदला बांध के समीप एक फ्लाइओवर व सड़क निर्माण का रास्ता साफ हो गया है. चार जिले खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा व सुपौल को एक साथ जोड़ने वाली कोसी क्षेत्र की इस महत्वपूर्ण परियोजना के निर्माण में धनछर से बदला बांध तक बड़ी बाधा चार नदियों पर बड़े पुल के निर्माण को लेकर थी. जिसे राज्य सरकार की लोक वित्त समिति ने तैयार डीपीआर के अध्ययन के बाद सहमति की मुहर लगा दी है. प्रस्ताव स्वीकृत होने के बाद अब इसके लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जायेगी. सांसद ने कहा कि लोक वित्त समिति ने चारों नदियों पर हाई लेवल सड़क पुल बनाने की अपनी सहमति दी है एवं बदला घाट के समीप एक फ्लाइओवर का भी निर्माण किया जायेगा.

लाइफ लाइन साबित होगी यह सड़क: सांसद ने कहा कि लोक समिति ने इस प्रथम फेज की परियोजना को पूरा करने के लिए एडीबी बैंक से फाइनेंस पर भी सहमति दे दी है. मानसी से हरदी चौधारा सड़क निर्माण परियोजना में सबसे दुरूह कार्य बदलाघाट बांध से धनछर तक सड़क पुल निर्माण ही है. कोसी क्षेत्र में इस नये मार्ग के बन जाने से सहरसा व खगड़िया के बीच की दूरी कम हो जायेगी. यह मार्ग खगड़िया, सहरसा व सुपौल की लाखों आबादी के लिए एक अलग लाइफ लाइन साबित होगी.

सांसद ने इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति आभार जताते हुए कहा कि आज उनके ही प्रयास से कोसी क्षेत्र के लाखों लोगों के लिए दूसरी बड़ी लाइफ लाइन प्रोजेक्ट के निर्माण का रास्ता साफ हुआ है. खगड़िया जिला के मानसी से सुपौल जिला के हरदी चौधारा तक 75 किलो मीटर सड़क निर्माण में बड़ी बाधा सलखुआ के धनछर से मानसी के बदला घाट बांध तक सड़क व पुल का निर्माण था. उन्होंने कहा कि सदियों से एकमात्र रेल लाइन ही आवागमन का साधन है. सड़क मार्ग से मानसी जाने के लिए आज भी लोगों को डुमरी पुल महेशखूंट होकर जाना मजबूरी है. चार नदियां कोसी नदी, पुरानी कोसी, कात्यायनी नदी एवं बागमती नदी पर सड़क पुल बनाये बिना इन जिलों को जोड़ने वाली यह परियोजना पूरी नहीं होती.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें