1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. purnea
  5. rintu singh sarsi purnea murder case updates of rintu singh purnia news in hindi skt

रिंटू सिंह हत्याकांड: छोटी सी चूक ने पांच सेकेंड के अंदर ले ली जान, एक सप्ताह से हत्या की चल रही थी तैयारी

पूर्णिया के सरसी निवासी रिंटू सिंह की हत्या के बाद सियासत भी गरमा गयी है. रिंटू सिंह की हत्या महज पांच सेकेंड में कर दी गई. पुलिस के हाथ लगे सीसीटीवी फुटेज में पूरा वाक्या स्पष्ट है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
एक सप्ताह से हत्या की चल रही थी रिंटू सिंह की हत्या की तैयारी
एक सप्ताह से हत्या की चल रही थी रिंटू सिंह की हत्या की तैयारी
प्रभात खबर

पूर्णिया: शुक्रवार की शाम को सरसी थाना परिसर के बाहर जिस चाय नास्ते की दुकान पर रिंटू सिंह (Rintu Singh Sarsi) की गोली मार कर हत्या कर दी गयी. इस घटनास्थल के बिल्कुल बगल में बस पड़ाव है जहां दो सीसीटीवी कैमरा लगा है. इस कैमरे में एक अपराधी द्वारा रिंटू सिंह को गोली मारने का दृश्य कैद हो गया है. फुटेज में देखा जा रहा है कि रिंटू सिंह चाय दुकान के सामने खड़ा है. इसी दौरान दो लड़कों में एक रिंटू सिंह के निकट जाता है जबकि दूसरा थोड़ी दूरी पर रह कर उसे देख रहा था. इसी क्रम में काले रंग के पोशाक में एक युवक हाथ में पिस्टल लेकर तेजी दौड़ कर रिंटू सिंह की ओर आता है और उसे पीछे से सिर पर एक गोली मारता है.

गोली लगने के बाद रिंटू सिंह (Rintu Singh Purnea) जमीन पर गिर पड़ता है. इतने में हत्यारा सड़क की ओर भागते हुए पुन: रूक जाता है और दौड़ कर फिर उसके पास जाकर दो गोली और मारता है. इसके बाद वह पैदल ही रेलवे गुमटी की ओर भाग निकला. घटना के बाद वहां भगदड़ मच जाती है. वहां पूर्व से खड़ी दो कार में कुछ लोग बैठ कर निकल पड़ते हैं. आसपास के लोग भी घटना से डर कर भागने लगते हैं. इस घटना का दृश्य घटनास्थल से पूरब सड़क के पास स्थित स्टेट बैंक के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गया है.

बीते तीन नवंबर को गोलीबारी की घटना में रिंटू सिंह बाल-बाल बच गया था. इसके बाद वह सतर्क रहने लगा था. सरसी के कुछ ग्रामीणों ने बताया कि गोलीबारी की घटना के बाद हत्यारे बीते एक सप्ताह से उसे मारने की तैयारी कर रहे थे. पंचायत चुनाव के दौरान रिंटू सिंह अपने घर सरसी छोड़ कर तीन माह से ससुराल चंदवा में रह कर प्रचार प्रसार कर रहा था. अपनी पत्नी अनुलिका सिंह के लिए वह जिला परिषद क्षेत्र संख्या-10 के चार पंचायत पूरणदाहा पूरब, पूरणदाहा पश्चिम पंचायत, गरैल पंचायत एवं सरसी पंचायत के क्षेत्रों में प्रचार प्रसार कर पुन: चंदवा लौट जाता था. हालांकि उसकी पत्नी सरसी में ही रहती थी.

पत्नी के भारी मतों से जीत के बाद वह और भी सतर्क हो गया था. शुक्रवार को उसकी एक गलती के कारण दुनिया छोड़ना पड़ा. वह अकेला सरसी चौक के पास अपनी गाड़ी से स्टेट बैंक के पास पहुंचा था, जहां पूर्व से घात लगा कर अपराधी बैठा था. हलांकि रिंटू इसलिए बेफिक्र था कि थाना परिसर के बाहर उसे गोली मारने वाला कैसे पहुंच सकता है. लेकिन बेखौफ बदमाशों ने बड़ी आसानी से घटना को अंजाम देकर पैदल ही भाग निकला.

Published By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें