1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. purnea
  5. drug businessman murder in purnea latest news of bihar wife arrested with boyfriend skt

Bihar: 'कांटे को रास्ते से हटा दिया, अब उपहार दो...', प्रेमी संग मिलकर पति का किया कत्ल, ऐसे हुआ खुलासा..

पूर्णिया के दवा कोरोबारी के हत्या की गुत्थी सुलझ गयी है. पत्नी ने ही प्रेमी के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची थी. पुलिस को लगातार गुमराह किया गया लेकिन पुलिस ने इस मामले का खुलासा अब कर दिया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
हत्याकांड का खुलासा करती पुलिस व गिरफ्तार आरोपित
हत्याकांड का खुलासा करती पुलिस व गिरफ्तार आरोपित
प्रभात खबर

पूर्णिया के सत्संग विहार में दवा दुकान व्यवसायी मोहन चंद्र दास हत्याकांड का खुलासा पुलिस ने कर दिया. हालांकि हत्यारोपित घर में ही थी और पुलिस बाहर ढूंढ़ रही थी. दरअसल, पत्नी ने ही अपने प्रेमी संग मिलकर पति की हत्या की साजिश रची थी. पति को रास्ते से हटाने के लिए शूटर को पांच लाख की सुपारी दी गयी थी.

पत्नी समेत पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया

पुलिस ने इस मामले का न केवल खुलासा कर दिया है, बल्कि मृत मोहन की पत्नी समेत पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही पुलिस ने घटना में प्रयुक्त तीन बाइक, नौ मोबाइल और शूटर को दी गयी रकम में से 54 हजार रुपये भी अपराधियों के पास से बरामद कर लिया है.

प्रेमी आयुष संग मिलकर रची हत्या की साजिश

दवा व्यवसायी मोहन चंद्र दास की 31 दिसंबर की रात गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. गिरफ्तार अभियुक्तों में मृत मोहन की पत्नी सत्संग विहार की चुमकी दास, समेत अन्य शामिल हैं. मरंगा थाना में प्रेसवार्ता में सदर एसडीपीओ एसके सरोज ने बताया कि मृत दवा व्यवसायी की पत्नी चुमकी दास ने अपने प्रेमी आयुष कुमार उर्फ सौरभ के संग मिलकर पति की हत्या की साजिश रची थी.

शक के बाद मोबाइल छीना तो हत्या की साजिश रची

एसडीपीओ ने बताया कि चुमकी का चार वर्ष से आयुष के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. जब इसकी भनक मोहन चंद्र दास को लगी तो वह पत्नी चुमकी दास के साथ मारपीट करने लगा और उसका मोबाइल भी छीन लिया. इसी गुस्से से चुमकी दास अपने पति से छुटकारा पाने के लिए प्रेमी आयुष के साथ हत्या की साजिश रची.

पहले भी हत्या की हुई साजिश

पति को रास्ते से हटाने के लिए आयुष ने अपने मित्र गौरव कुमार, मनीष कुमार, रमन कुमार एवं एक अन्य युवक को पांच लाख रुपये की सुपारी दी थी. आयुष ने इन चार अपराधियों को रुपये का भुगतान भी कर दिया. एसडीपीओ ने बताया कि 31 दिसंबर से पूर्व भी शूटर ने मोहन चंद्र दास की हत्या का प्रयास किया था, लेकिन सफल नहीं हो सका. हत्याकांड का मास्टर माइंड चुमकी दास और उसका प्रेमी आयुष है. दवा व्यवसायी मोहन पर तीन गोलियां रमन कुमार ने चलायीं.

घटना के बाद प्रेमी से मांगा था उपहार

एसडीपीओ ने बताया कि पति की हत्या हो जाने के बाद मृतक की पत्नी ने अपने प्रेमी से उपहार मांगा था. प्रेमी से कही कि अब रास्ते का कांटा साफ हो गया है. उसे एक अच्छा सा उपहार दे और दोनों जल्द ही पूर्णिया से बाहर घूमने जायेंगे. पत्नी और प्रेमी की गिरफ्तारी के बाद दोनों से गहन पूछताछ में पूरी घटना का पर्दाफाश हो गया. प्रेमी आयुष की निशानदेही पर घटना में संलिप्त अन्य तीन शूटरों को उनके परोरा स्थित घर से गिरफ्तार कर लिया गया.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें