1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. purnea
  5. bihar crime middle aged man strangled to death in purnia accused fled the scene

Bihar News: पूर्णिया में घर में घुस कर अधेड़ की गला घोंट कर हत्या, आरोपित फरार

पूर्णिया जिले के धमदाहा थाना क्षेत्र के सिंघाड़ापट्टी गांव में जमीन विवाद में आधी रात में पड़ोसियों ने घर में घुस कर अधेड़ की गला दबा कर हत्या कर दी. मृतक बिजेंद्र सिंह (55) रुपौली थानाक्षेत्र के मोहनपुर का मूल निवासी था.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
घर में घुस कर अधेड़ का गला घोंटा
घर में घुस कर अधेड़ का गला घोंटा
फाइल फोटो

पूर्णिया जिले के धमदाहा थाना क्षेत्र के सिंघाड़ापट्टी गांव में जमीन विवाद में आधी रात में पड़ोसियों ने घर में घुस कर अधेड़ की गला दबा कर हत्या कर दी. मृतक बिजेंद्र सिंह (55) रुपौली थानाक्षेत्र के मोहनपुर का मूल निवासी था. पीड़ित पक्ष ने थाने में 10 नामजद व अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है. घटना के बाद सभी आरोपित गांव छोड़ कर फरार हो गये.

बिजेंद्र सिंह को चार पुत्र व एक पुत्री है

धमदाहा थानाध्यक्ष न रंजन सिंह ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. घटना के बारे मृतक की समधिन फूल कुमारी ने बताया कि मृतक बिजेंद्र सिंह को चार पुत्र व एक पुत्री है. वर्ष 2020 में बिजेंद्र सिंह अपने पुत्र के ससुराल सिंघाड़ापट्टी में चार बीघा जमीन खरीदी और घर बना कर बिजेंद्र सिंह पुत्र व बहू के साथ बीते दो वर्षों से रह रहे थे.

10 से 12 लोग लाठी-डंडे लेकर आए 

इसी जमीन को लेकर बिजेंद्र सिंह से पड़ोसी आनंदी मंडल, कैलाश मंडल व उनके परिवार के लोगों के साथ विवाद चल रहा था. उसने बताया कि शुक्रवार की रात में जब बिजेंद्र सिंह और उनके घर के सभी लोग रात्रि के 11.00 बजे खाना खाकर सोने चले गये. मुझे नींद नहीं आ रही थी, तो टीवी देखने लगी. इसी दौरान रात्रि के 12.00 बजे किसी ने घर का दरवाजा खटखटाया. जब वह दरवाजा खोली, तो सामने पड़ोसी आनंदी मंडल, कैलाश मंडल, अरबिंद मंडल, सरविन मंडल सहित करीब 10 से 12 लोग हाथ में लाठी-डंडे लेकर खड़े पाया.

पहले बेरहमी से पीटा

उसने बताया कि जैसे ही दरवाजा खोली कि सभी लोग कमरे में घुस गये और मुझे मारपीट कर मेरा मुंह गमछा से बंद दिया. उसके बाद सभी लोग सोये हुए ब्रिजेंद्र के ऊपर हमला कर करने लगे. बिजेंद्र को सभी ने मिल कर पहले तो बेरहमी से पीटा . फिर हाथ पैर बांध कर मुंह पर तकिया से दबा दिया और गला घोंट कर हत्या कर दी.

मरा हुआ समझ कर भाग गए हमलावर 

हमलावर ने हम दोनों को मरा हुआ समझ कर वहां से भाग गये. उन लोगों को चले जाने के बाद जब शोर मचाया, तो परिवार व गांव के लोग वहां जुट गये, लेकिन तब तक ब्रिजेंद्र ने दम तोड़ दिया था. घटना की जानकारी मिलने के बाद धमदाहा पुलिस शनिवार की अहले सुबह घटनास्थल पहुंची. इसके बाद मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए पूर्णिया भेज दिया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें