बहन के घर से लौट रहे युवक की धारदार हथियार से हत्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पूर्णिया : बिहार के पूर्णिया में बीते रविवार देर शाम डगरुआ थाना क्षेत्र के बभनी पंचायत स्थित आमना गांव में अज्ञात हमलावरों ने धारदार हथियार से एक युवक की हत्या कर दी. घटना की जानकारी देते हुए मृतक नैय्यर आलम के भाई नसीरुद्दीन ने बताया कि वह बड़े भाई नैय्यर के साथ अपनी बहन की घर से अपने घर आमना लौट रहा था. शाम आठ बजे दोनों भाई गांव पहुंच कर बाइक पुराने घर पर लगा दिया.

वहीं, आमना घाट के उस पार बने नये आवास पर जाने के लिए रवाना हुआ. आगे-आगे वह एवं कुछ ही दूरी के फासले पर पीछे से नैय्यर भी जा रहे थे. रास्ते में नदी की छोटी धार को पार करने के क्रम में पीछे से घर जा रहे नैय्यर जब पैंट मोड़ रहा था. उसी समय समीप के बांस झाड़ में छिपे करीब आधा दर्जन अज्ञात हमलावरों ने उसपर हमला कर दिया. नसीरुद्दीन ने बताया कि भाई पर हमला होता देख वह जान बचाकर घर पहुंचा व घटना की जानकारी घरवालों समेत ग्रामीणों को दी. जबतक लोग घटना स्थल पर पहुंचते तबतक हमलावर भाग खड़े हुए.

स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची डगरुआ पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी.थाना अध्यक्ष मधुरेंद्र किशोर ने बताया कि मृतक के सिर पर किसी धारदार हथियार से हमला किया गया है. जिस स्थान पर युवक का शव बरामद किया गया, वहां हमले के बाद किसी प्रकार का ठोस सबूत नहीं मिल पाया है. पुलिस मामले से जुड़ी सभी बिंदुओं पर बारीकी से जांच कर रही है. शीघ्र ही मामले का उद्भेदन कर लिया जायेगा.

परिजनों के मुताबिक मृतक नैय्यर पंजाब में अपने अन्य भाइयों के साथ लाइन होटल चलाने का काम करता था. मृतक की शादी दो वर्ष पूर्व हुई थी,उसे एक साल का पुत्र भी है. मृतक के पिता सैय्याद, पत्नी साजदा व उसकी मां हसीना ने जानकारी दी कि उसके बेटे नैय्यर को किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी. डगरुआ पुलिस ने बताया कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें