1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. weather forecast in bihar 25 april 2022 mercury again crossed 42 degrees patients of diarrhea and abdominal pain increased in hospitals rdy

Bihar Weather: बिहार में पारा फिर पहुंचा 42 डिग्री के पार, अस्पतालों में बढ़े डायरिया व पेट दर्द के मरीज

बिहार में पारा फिर से 42 डिग्री पर पहुंच गया. यह सामान्य से पांच डिग्री अधिक रहा, जिससे लोग गर्मी से बेहाल हो गये. तपिश भरी गर्मी के कारण बड़ों के साथ ही बच्चों पर डायरिया का प्रकोप तेज हो गया है. तेज गर्मी से ओपीडी में मरीजों का तांता लगना शुरू हो गया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
स्कूली छात्राएं
स्कूली छात्राएं
ट्वीटर

पटना. शहर का पारा फिर से 42 डिग्री पर पहुंच गया. यह सामान्य से पांच डिग्री अधिक रहा, जिससे लोग गर्मी से बेहाल हो गये. सुबह दस बजे से ही धूप इतनी तीखी हो गयी थी कि उसे झेलना लोगों के लिए मुश्किल हो रहा था. 10 बजते-बजते गर्म हवा भी चलने लगी. न्यूनतम तापमान भी 23 सेल्सियस रहा जो कि सामान्य से दो डिग्री अधिक था. मौसम विभाग के पूर्वानुमानों की मानें तो 30 अप्रैल तक शहर का पारा इसी के आसपास बना रहेगा और गर्मी से राहत नहीं मिलेगी.

लोग रहे परेशान

दोपहर 11 बजते बजते गर्म हवाओं ने लू का रूप ले लिया था और दोपहर चार बजे तक लोग इससे परेशान रहे. गर्मी के तीखेपन के कारण सड़क पर कम लोग ही नजर आ रहे थे. जो लोग अपने घर या दफ्तर में बैठे थे, वे तीखी धूप से बचे रहे लेकिन बाहर से आने वाली गर्म हवाओं और ऊमस से उनका हाल भी बेहाल रहा.

चार बजे के बाद भी सड़कों से निकल रही थी धाह

शाम में चार बजे के बाद धूप का तीखापन तो थोड़ा कम हो गया था, लेकिन उसके बाद भी एक-दो घंटे तक बाहर निकलने पर सड़कों से धाह निकलता महसूस हो रहा था. शाम छह बजे के बाद गर्मी में कमी आयी, लेकिन सापेक्षिक आर्दता 0.41 रहने से ऊमस से देर रात तक लोग परेशान रहे. पसीना अधिक निकलने से लोगों के कपड़े भींग जा रहे थे.

अस्पतालों में बढ़े डायरिया अपच व पेट दर्द के मरीज

पटना. तपिश भरी गर्मी के कारण बड़ों के साथ ही बच्चों पर डायरिया का प्रकोप तेज हो गया है. तेज गर्मी से ओपीडी में मरीजों का तांता लगना शुरू हो गया है. पीएमसीएच और आइजीआइएमएस में खास कर डायरिया और क्रॉनिक लिवर डिजीज के रोगी एंबुलेंस से आ रहे हैं. डॉक्टरों के मुताबिक अप्रैल में मई जैसी गर्मी ने ही सब कुछ अस्त-व्यस्त कर दिया है.

बदलते मौसम में डायरिया के अलावा मरीजों में पेट दर्द, अपच, उलटी, एसिडिटी और गैस की शिकायत ज्यादा देखने को मिल रही है. पीएमसीएच के अधीक्षक डॉ आइएस ठाकुर के अनुसार तापमान में अचानक वृद्धि व इस मौसम में सावधानी न रखने से ऐसे मरीज अचानक बढ़ गये हैं. न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल के निदेशक डॉ मनोज सिन्हा ने कहा कि गर्मी और तापमान बढ़ने के साथ ही पेट की बीमारियों के मरीजों की संख्या भी बढ़ेगी.

बचाव के लिए ये करें

  • बच्चों को धूप में निकलने न दें

  • बच्चों को पानी खूब पिला कर रखें

  • बाहर की चीजें खाने से परहेज करें

  • बच्चों को उलटी, दस्त होने लगे, तो तत्काल ओआरएस का घोल दें

  • लक्षण दिखते ही बच्चे को डॉक्टर को दिखाने के लिए लेकर आएं

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें