1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. the father of the chief engineer of the railway was kidnapped he was kidnapped by him rdy

Bihar News: रेलवे के मुख्य अभियंता के पिता का अपहरण, जिसे देखभाल करने के लिए रखा उसी ने किया किडनैप

Bihar News वृद्ध व्यक्ति यमुना प्रसाद को उसी के केयर टेकर ने किडनैप कर लिया. हालांकि घटना के महज पांच घंटे के भीतर ही वृद्ध अपहृत व्यक्ति को पुलिस ने खोज निकाला है और किडनैपर राजन कुमार को चिरैयाटांड़ पुल से गिरफ्तार कर लिया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
रेलवे के मुख्य अभियंता के पिता का अपहरण
रेलवे के मुख्य अभियंता के पिता का अपहरण
सांकेतिक तस्वीर

Bihar News: पटना जिस शख्स को पिता की देखभाल के लिए रखा, उसी ने उनको किडनैप कर परिजनों से फिरौती मांगी. मामला पत्रकार नगर थाना क्षेत्र स्थित सिद्धिविनायक अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 307 का है, जहां से वृद्ध व्यक्ति यमुना प्रसाद को उसी के केयर टेकर ने किडनैप कर लिया. हालांकि घटना के महज पांच घंटे के भीतर ही वृद्ध अपहृत व्यक्ति को पुलिस ने खोज निकाला है और किडनैपर राजन कुमार को चिरैयाटांड़ पुल से गिरफ्तार कर लिया.

इस संबंध में छोटे बेटे दिलीप कुमार ने दोपहर बाद थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी थी, जिसके बाद पुलिस हरकत में आयी. जानकारी के अनुसार छोटे बेटे दिलीप कुमार मुंबई के ओएनजीसी कंपनी मुख्य अभियंता हैं, वहीं बड़े बेटे संजय प्रसाद सिंह गुवाहटी में रेलवे के मुख्य अभियंता के पद पर कार्यरत हैं. दोनों बेटे बिहार से बाहर जॉब करते हैं. इसलिए उन्होंने पिता की देखभाल के लिए एक केयर टेकर रखा था.

परिजनों ने बताया कि सगुना मोड़ स्थित एसपीएचसी प्राइवेट लिमिटेड नामक संस्था से केयर टेकर राजन कुमार मंगवाया गया था, जो कि अरवल का रहने वाला है. रविवार को 12:30 बजे मेरे बड़े भाई के मोबाइल पर कॉल करके बोला कि आपके पिताजी मेरे कब्जे में हैं, मेरा डिमांड है उसे पूरा कर दीजिए नहीं तो पिता को नहीं देख पायेंगे. उस वक्त दस लाख की रंगदारी मांग रहा था.

पिता से कहा : पारस में इलाज के लिए भइया बुला रहे हैं.

पुलिस की पूछताछ में किडनैपर राजन ने बताया कि उसने यमुना प्रसाद जी से कहा कि उनके बेटे पारस में इलाज के लिए बुला रहे हैं. यह कह कर उन्हें वहां से ऑटो में बैठाकर ले गया. इसके बाद फिरौती मांगी है. थानाध्यक्ष मनोरंजन भारती ने बताया वरीय अधिकारी ने पुलिस के साथ इस केस में रंगदारी सेल, 100 डायल की टीम को भी लगी थी.

उन्होंने बताया कि किडनैपर ने खगौल के रास्ते ऑटो से पालीगंज ले गये थे. शुरुआत में वह किडनैपर ने पुलिस को चकमा देने के लिए कहा कि किडनैपर ने उसका भी अपहरण कर लिया है. गिरफ्तारी के बाद पता चला कि पैसा कमाने की जल्दी के कारण उसने यह कदम उठाया है. महीने में दो किस्त में उसे 12 हजार रुपये दिये जाते थे और आज उसे छह हजार रुपये दिया गया था.

पुलिस वैरिफिकेशन जरूरी, सीसीटीवी कैमरे भी लगाये जाएं

केयर टेकर द्वारा एक वृद्ध की किडनैपिंग से आम लोगों को जागरूक होने की जरूरत है. किसी अनजान व्यक्ति को घर में रखने से पहले पुलिस वैरिफिकेशन जरूर करवाएं, ताकि कोई अनहोनी होने से बच सके. ये बातें पत्रकार नगर थानाध्यक्ष मनोरंजन भारती ने कही.

उन्होंने बताया कि हर घर में सीसीटीवी कैमरे की महत्ता आज बढ़ गयी है. इससे आप घर में रह रहे अनजान शख्स की गतिविधियों पर नजर रख सकते हैं. ये काम केवल केयर टेकर ही नहीं बल्कि स्टाफ, नौकर या फिर कोई भी अनजान शख्स को अपने घर रखने वाले व्यक्ति को करना चाहिए. उस व्यक्ति का आइडी प्रूफ भी रखें.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें