1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. tejashwi asked amit shah why are you silent on the murder of veer kunwar singhs descendant rjs

लालू पर तंज से भड़के तेजस्वी,अमित शाह से पूछा बाबू वीर कुंवर सिंह के वंशज की हत्या पर क्यों साधी चुप्पी

तेजस्वी यादव रविवार को राजस्थान से पटना लौटने पर पत्रकारों ने जब उनसे पूछा कि शनिवार को अमित शाह ने बाबू वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव के दौरान लालू- राबड़ी के शासन काल पर सवाल उठाए हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
तेजस्वी यादव
तेजस्वी यादव
file photo

बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव शनिवार को भड़क गए. दरअसल,अमित शाह ने शनिवार को वीर कुंवर सिंह जयंती समारोह में आए लोगों से लालू प्रसाद पर तंज कसते हुए पूछा था कि क्या आप लोग इस शासनकाल को भूल सकते हैं ? इसपर रविवार को तेजस्वी यादव ने पलटवार करते हुए अमित शाह से पूछा आप बाबू वीर कुंवर सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रहे थे और उन्हीं के वंशज की थाने में हत्या कर दी गई. इस पर आपने अपनी चुप्पी क्यों नहीं तोड़ी. इसके साथ ही उन्होंने अमित शाह से पूछा कि बिहार की जनता को उम्मीद थी कि आप रोजगार और महंगाई के मुद्दे पर भी कुछ बोलेंगे. लेकिन आप इसपर क्यों चुप रहे.

तेजस्वी यादव रविवार को राजस्थान से पटना लौटने पर पत्रकारों ने जब उनसे पूछा कि शनिवार को अमित शाह ने बाबू वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव के दौरान लालू- राबड़ी के शासन काल पर सवाल उठाए हैं. इसपर तेजस्वी भड़क गए. उन्होंने कहा कि वे जिस जिलें से भाषण दे रहे थे, और जिनकी मूर्ति पर माल्यार्पण किया उन्हीं के वंशज की थाने में हत्या कर दी गई.

अमित शाह ने इस पर क्यों नहीं कुछ बोला. विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बिहार के लोगों से जो 19 लाख युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी, इस मुद्दे पर क्यों नहीं कुछ बोला. तेजस्वी ने कहा कि हमलोग तो सोच रहे थे कि वे महंगाई के मुद्दे पर भी कुछ बोलेंगे लेकिन उन्होंने इसपर भी कुछ नहीं बोला. बिहार को विशेष राज्य के दर्जे पर भी चुप्पी साध लिया.

बताते चलें कि शनिवार को आरा के जगदीशपुर में कंद्रीय मंत्री वीर कुंवर सिंह विजयोत्सव कार्यक्रम के दौरान लालू- राबड़ी के शासन काल पर सवाल खड़ा करते हुए कार्यक्रम में आए लोगों से पूछा था कि क्या आप लोग इस शासनकाल को भूल सकते हैं. जिस रात में हत्या होती थीं, पानी-बिजली की कोई व्यवस्था नहीं थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें