1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. strike of executive assistants in bihar incomes caste and residential certificates of people unable to make asj

बिहार में कार्यपालक सहायकों की हड़ताल, नहीं बन पा रहे लोगों के आय, जाति और आवासीय प्रमाणपत्र

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बंद कार्यालय
बंद कार्यालय
प्रभात खबर

पटना. इन दिनों आय, जाति, आवासीय जैसे प्रमाणपत्र बनवाने के लिए लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. इसके लिए अंचल और अनुमंडल कार्यालयों का लोग चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन वहां जाकर पता चल रहा है कि इसके लिए बने आरटीपीएस काउंटर बंद पड़े हैं.

बंद इसलिए हैं क्योंकि इन काउंटरों पर काम करने वाले कार्यपालक सहायक बिहार राज्य कार्यपालक सेवा संघ की अपील पर पिछले 15 मार्च से हड़ताल पर चले गये हैं. इससे इन कार्यालयों का कामकाज बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. इससे सबसे ज्यादा युवा परेशान हैं. किसी को नौकरी के आवेदन तो किसी को आगे की पढ़ाई के लिए इन प्रमाणपत्रों की जरूरत है, लेकिन हड़ताल के कारण ये बन नहीं पा रहे हैं.

पटना सिटी : अनुमंडल कार्यालय में कार्यरत कार्यालय सहायक की हड़ताल की वजह से बीते चार दिनों से कामकाज बाधित है. अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण कार्यालय में लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी रेयाज अहमद खां मामले में सुनवाई तो कर रहे हैं, लेकिन आदेश लिखने व अधिकारियों को भेजने का कार्य बाधित हो गया है.

इसी प्रकार से अनुमंडल में तीन और कार्यालय सहायक हड़ताल पर हैं. इसमें आरपीटीएस काउंटर बंद रहने की स्थिति में जाति, आय, आवासीय व अन्य प्रमाणपत्र का कार्य बाधित है, तब आपूर्ति शाखा व नियंत्रण कक्ष में भी कार्यकलाप पर असर पड़ रहा है. इसके साथ ही अवर निबंधन कार्यालय व अन्य विभागों में भी कार्यरत कर्मियों के हड़ताल की वजह से कामकाज पर असर पड़ रहा है.

दानापुर : सूत्रों मांगों को लेकर प्रखंड कार्यपालक सहायकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाने से चौथे दिन गुरुवार को प्रखंड व अंचल कार्यालयों का कार्य काफी प्रभावित हुआ है. सरकारी विभागों की कार्यप्रणाली धीमी पड़ गयी है. सीओ विद्यानंद राय ने बताया कि कार्यपालक सहायकों की हड़ताल को देखते हुए वैकल्पिक व्यवस्था के तहत आइटी कर्मी को तैनात किया गया है, जिससे जरूरतमंद लोगों को प्रमाणपत्र मिल सकेंगे.

पालीगंज : पालीगंज अनुमंडल व प्रखंड कार्यालय में लगभग सारा काम ठप है. अनुमंडल कार्यालय स्थित लोक सेवा अधिकार का काउंटर, लोक निवारण केंद्र, जाति, आवासीय, आरटीपीएस काउंटर, गोपनीय शाखा का कार्य ठप है. वहीं प्रखंड कार्यालय में एमओ ऑफिस, मनरेगा कार्यालय, आरटीपीएस काउंटर, मुख्यमंत्री सात निश्चय, बाल विकास परियोजना कार्यालय समेत कई कार्यालयों में कार्य ठप हैं.

खुसरूपुर : प्रमाणपत्र के लिए सैकड़ों लोग हर दिन अंचल कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन हड़ताल के कारण हर दिन लोगों को मायूस होकर बैरंग घर लौटना पड़ रहा है. स्थानीय लोग अब सरकार से यह उम्मीद व आस लगाये हैं कि जल्द से जल्द सरकार कार्यपालक सहायक कर्मियों की हड़ताल को खत्म कराये.

फतुहा : गुरुवार को भी हड़ताल के कारण आरटीपीएस कांटर बंद रहा. जाति, आवासीय, आय प्रमाणपत्र, राशन कार्ड का आवेदन देने के लिए आने वाले लोग वापस लौट रहे हैं. बीडीओ मृत्युंजय कुमार ने बताया कि डीएम के आदेशानुसार सभी को नोटिस दिया गया है और शुक्रवार को हड़ताल पर वापस नहीं लौटेंगे तो डीएम को सूचित किया जायेगा.

मसौढ़ी : अनुमंडल के तीनों प्रखंड़ों में आरटीपीएस काउंटर पर सन्नाटा पसरा है. वहीं इसके वजह से सरकार की महत्वाकांक्षी योजना सात निश्चय के तहत मुख्यमंत्री नल जल व आपूर्ति शाखा समेत कृषि विभाग के कार्य समेत सरकार की 51 तरह की योजना प्रभावित हैं. इधर हड़ताल की वजह से प्रखंड कार्यालय में प्रतिदिन दर्जनों लोग आ तो रहे हैं, लेकिन उन्हे वापस लौटना पड़ रहा है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें