1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. stet will be conducted from nine in 12 districts one hour before the examination will have to arrive at the center asj

12 जिलों में नौ से होगी STET, परीक्षा से एक घंटा पहले पहुंचना होगा सेंटर पर, जानें किन चीजों पर होगी रोक

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

पटना : बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा (एसटीइटी) 2019 की पुनर्परीक्षा नौ से 21 सितंबर के बीच ऑनलाइन होगी. अलग-अलग विषयों की तीन पाली में परीक्षा नौ, 10, 11, 14, 15, 16, 17, 18 और 21 सितंबर को होगी. इसके लिए बिहार के 12 जिलों में परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. परीक्षा पटना, भोजपुर, नालंदा, गया, छपरा, वैशाली, मुजफ्फरपुर, औरंगाबाद, दरभंगा, समस्तीपुर, भागलपुर एवं पूर्णिया में बेल्ट्रॉन द्वारा संचालित एजेंसी टीसीएस आइओएन द्वारा निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर ऑनलाइन होगी. इस परीक्षा में जो अभ्यर्थी चयनित होंगे उनकी नियुक्ति शिक्षक पद पर होनी प्रस्तावित है. बोर्ड ने 12 जिलों के जिलाधिकारियों को परीक्षा कदाचारमुक्त और शांतिपूर्ण आयोजित करने के लिए आदेश दिया है.

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट पर रोक

हर केंद्र के परीक्षा कक्ष में किसी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट, मोबाइल, ब्लूटूथ, पेजर, व्हाइटनर एवं इरेजर आदि रखने की अनुमति नहीं है. सभी परीक्षा केंद्र पर आठ सितंबर को ही जैमर लगा दिया जायेगा. अधीक्षक भी मोबाइल फोन लेकर नहीं जायेंगे इसका अनुपालन कड़ाई से करने का आदेश दिया गया है.

केंद्र के पिछले अथवा बाहरी हिस्से में वीडियोग्राफी की व्यवस्था

परीक्षार्थियों को जूता-मोजा पहन कर परीक्षा केंद्र पर प्रवेश करना वर्जित रहेगा. परीक्षार्थी चप्पल पहनकर ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश करेंगे. प्रथम पाली के परीक्षार्थियों की परीक्षा आरंभ होने का समय सुबह आठ बजे है. इसके लिए एक घंटा पहले सात बजे से 7:30 बजे तक परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति दी जायेगी. 7:30 बजे के बाद परीक्षा भवन के मुख्य द्वार को बंद कर दिया जायेगा. इसी प्रकार द्वितीय पाली के परीक्षार्थियों को परीक्षा प्रारंभ होने के समय 12:00 बजे से एक घंटा पहले 11:00 से 11:30 तक परीक्षा भवन में प्रवेश की अनुमति दी जायेगी. 11:30 बजे के बाद परीक्षा भवन के मुख्य द्वार को बंद कर दिया जायेगा. इसी प्रकार तृतीय पाली की परीक्षा प्रारंभ होने के समय 4:00 बजे से एक घंटा पहले अर्थात 3:00 बजे से 3:30 तक परीक्षा भवन में प्रवेश करना होगा. केंद्र के सभी परीक्षा हॉल में सीसीटीवी कैमरे की रिकॉर्डिंग परीक्षा के 30 मिनट पहले आरंभ होकर 30 मिनट बाद तक होगी. प्रत्येक पाली की परीक्षा ढाई घंटे की होगी. परीक्षा केंद्र के पिछले अथवा बाहरी हिस्से में वीडियोग्राफी की व्यवस्था भी करायी जायेगी.

जोन और सुपर जोन में बंटा जायेगा केंद्र को

बोर्ड ने कहा है कि परीक्षा के आयोजन में प्रशासनिक पदाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों के स्तर पर ऐसी व्यवस्था की जाये कि इस परीक्षा में विधि व्यवस्था भंग करने का मौका किसी को न मिले. परीक्षा शांतिपूर्वक तथा कदाचार रहित रूप से संचालित की जाये. जिला पदाधिकारी अपने जिला में संपन्न होने वाली परीक्षा के मुख्य जिला परीक्षा नियंत्रक होंगे. कदाचार मुक्त परीक्षा संचालन के लिए परीक्षा केंद्रों की भौगोलिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए सुपर जोन एवं जोन में बंटा जायेगा. सुपर जोनल एवं जोनल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति पुलिस बल के साथ की जायेगी. अधिकारियों द्वारा प्रत्येक दिन की भ्रमण विवरण लॉग बुक में भरी जायेगी तथा पूरी परीक्षा के समाप्ति के बाद जिला पदाधिकारी कार्यालय में जमा किया जायेगा. जोनल एवं सुपर जोनल दंडाधिकारी प्रत्येक परीक्षा केंद्र के भ्रमण के क्रम में परीक्षा केंद्र पर रखे रजिस्टर में हस्ताक्षर दर्ज करेंगे. प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर पर्याप्त संख्या में स्टैटिक दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की जायेगी. प्रतिदिन परीक्षार्थियों की संख्या के अनुरूप कमरों का विभाजन पर पदाधिकारी को ड्यूटी दी जाये. समानता चार परीक्षा केंद्रों पर 11 गश्ती दल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति सशस्त्र बल के साथ की जायेगी.

सैनिटाइज होगा परीक्षा केंद्र

कोविड-19 महामारी के लिए भारत सरकार के गृह विभाग विभाग एवं बिहार सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी दिशा निर्देश का पालन परीक्षा के दौरान करने का निर्देश दिया गया है. प्रत्येक पाली के परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व परीक्षा भवन को सैनिटाइज करवाने का कार्य एजेंसी या सेंटर मैनेजर करेंगे.

posted by ashish jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें