1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. secret of beheaded body found in fatuha exposed murder was done in protest against illicit relations five including mother arrested rdy

फतुहा में मिली सिर कटी लाश का राज खुला, अवैध संबंधों के विरोध में हुई थी हत्या, मां समेत पांच गिरफ्तार

अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए थानाध्यक्ष मुकेश कुमार मुकेश के नेतृत्व में एक टीम गठित कर 36 घंटे में इस मामले का खुलासा कर दिया गया. सूरज की गला रेत कर हत्या कर फरार चारों आरोपित के साथ सूरज की मां को भी पुलिस ने मंगलवार की रात्रि गिरफ्तार कर लिया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहार अपराध
बिहार अपराध
फाइल

पटना. फतुहा पुलिस ने सोमवार को मोतीपुर घटोचक के समीप सर काट कर हत्या की गयी सूरज की हत्या की गुत्थी को 36 घंटे में सुलझा ली और उसका खुलासा कर दिया. इस पूरे मामले का खुलासा बुधवार शाम फतुहा एसडीपीओ राजेश कुमार मांझी ने फतुहा थाने में आयोजित प्रेस काॅन्फ्रेंस कर की. उन्होंने बताया कि सूरज के मकान में किराना की दुकान चलाने वाले धर्मेंद्र का सूरज की मां से कई महीनों से अवैध संबंध चल रहा था, जिसका विरोध सूरज बराबर किया करता था. इसको लेकर सूरज और धर्मेंद्र में 15 दिन पूर्व मारपीट भी हुई थी. उसी दिन सूरज को जान मारने की धमकी धर्मेंद्र कुमार ने दी थी.

कटे सिर को भी खेत से बरामद कर लिया

इसके बाद धर्मेंद्र ने सूरज की मां जुली के साथ प्लान बनाकर अपने तीन दोस्तों जितेंद्र, बिट्टू व रवि कुमार के साथ मिलकर सूरज को नानी घर से अपने घर दीदार गंज धर्मशाला जाने के क्रम में चेक पोस्ट से पकड़ कर मुंह बंद कर टेंपो में बैठाकर फतुहा-बंका घाट स्टेशन के बीच गढोचक के पास भिंडी के खेत में ले जाकर गला रेतकर सिर काट कर सिर को मिट्टी में गाड़ दिया और धड़ को रेलवे ट्रैक के किनारे पोल संख्या- 524 के पास फेंक दिया था. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए थानाध्यक्ष मुकेश कुमार मुकेश के नेतृत्व में एक टीम गठित कर 36 घंटे में इस मामले का खुलासा कर दिया गया. सूरज की गला रेत कर हत्या कर फरार चारों आरोपित के साथ सूरज की मां को भी पुलिस ने मंगल वार की रात्रि गिरफ्तार कर लिया, और कटे सिर को भी खेत से बरामद कर लिया.

भाई ने दर्ज कराया मामला दो नामजद, पांच अज्ञात

पटना सिटी. मेहंदीगंज थाना क्षेत्र के लोहा के पुल महादेव मंदिर के पास मंगलवार की रात टुनटुन महतो की हत्या में आरोपित अंकित टुनटुन के मकान में किराये पर रहता था. थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि इस दौरान अंकित की एक लड़की से दोस्ती हो गयी. कुछ समय के लिए लड़की को लेकर अंकित चला गया था. इसी को लेकर आठ माह पहले मारपीट हुई थी. इसके बाद अंकित मकान खाली कर कुम्हरार के पास रहने लगा था.

चाकू मार कर हत्या का आरोप

मंगलवार रात साजिश के तहत चाकू मार टुनटुन की हत्या कर दी गयी. थानाध्यक्ष ने बताया कि मृतक के भाई अखिलेश महतो के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गयी है. दर्ज प्राथमिकी में लोहा पुल निवासी कन्हैया व अंकित ने पुरानी प्रतिशोध में चार-पांच लोगों के साथ मिल कर मंदिर के पास घेर चाकू मार हत्या का आरोप गाया है. थानाध्यक्ष के अनुसार मृतक टुनटुन के पेट व पीठ पर चाकू के जख्म थे.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें