1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. ram lakhan path will be connected with bypass in two months big population will get relief rdy

Bihar News: दो माह में बाइपास से जुड़ जायेगा रामलखन पथ, बड़ी आबादी को मिलेगी राहत

Bihar News एनएच पर आने-जाने के लिए नगर निगम की ओर से लोहे की पुलिया बनायी गयी थी, जो क्षतिग्रस्त हो गयी थी. अब उसकी जगह आरसीसी पुलिया बनाया जा रहा है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सड़क का निर्माण
सड़क का निर्माण
prabhat khabar

पटना. रामलखन पथ को बाइपास और रामकृष्णा नगर से जोड़ने के लिए दो माह में आरसीसी पुलिया तैयार हो जायेगी. इसकी पाइलिंग के लिए गड्ढा खोदने का काम शुरू हो गया है. इस पुलिया के तैयार हो जाने से एक बहुत बड़ी आबादी को आवागमन की सुविधा होगी. इसे बनाने का काम नूतन राजधानी पथ प्रमंडल की ओर से हो रहा है. कार्यपालक अभियंता शशि भूषण सहाय ने बताया कि रामलखन पथ के समीप नाला के ऊपर आरसीसी पुलिया बना कर उसे एनएच से जोड़ने का काम हो रहा है. यह पुलिया सात मीटर चौड़ी होगी. इसके निर्माण पर लगभग 40 लाख रुपये खर्च किये जायेंगे.

नाला सफाई के दौरान काटा था संपर्क पथ

दरअसल, राम लखन पथ के समीप पिछले साल नाला सफाई के दौरान संपर्क पथ काटना पड़ा था. इससे लोगों को काफी परेशानी हो रही थी. हालांकि एनएच पर आने-जाने के लिए नगर निगम की ओर से लोहे की पुलिया बनायी गयी थी, जो क्षतिग्रस्त हो गयी थी. अब उसकी जगह आरसीसी पुलिया बनाया जा रहा है, जिसे दो माह में तैयार करने का लक्ष्य दिया गया है.

कारगिल चौक की ओर से शुरू होगा काम

पटना. कारगिल चौक से एनआइटी मोड़ तक बननेवाले डबल डेकर एलिवेटेड रोड का काम आइआइटी से डिजाइन की मंजूरी मिलने के बाद शुरू होगा. निर्माण एजेंसी गावर कंपनी की ओर से डिजाइन तैयार कर इस माह के अंत तक बिहार राज्य पुल निर्माण निगम को सौंपा जायेगा. इसके बाद डिजाइन की मंजूरी के लिए आइआइटी को भेजा जायेगा. इसके लिए चार-पांच आइआइटी संस्थान का ऑप्शन है. पुल निर्माण निगम के आधिकारिक सूत्र ने बताया कि 15 दिसंबर तक डिजाइन मंजूरी की प्रक्रिया पूरी होने के बाद निर्माण एजेंसी को वर्क ऑर्डर मिलेगा.

वन वे रहेगा ट्रैफिक

आधिकारिक सूत्र ने बताया कि निर्माण कार्य का आरंभ कारगिल चौक की ओर से होना है. इस दौरान अशोक राजपथ में वन वे ट्रैफिक रहेगा. अशोक राजपथ में कारगिल चौक से एनआइटी की ओर जाने की सुविधा रहेगी. इस संबंध में ट्रैफिक पुलिस के साथ समन्वय स्थापित किया जायेगा. लगभग सवा दो किलोमीटर डबल डेकर एलिवेटेड रोड का निर्माण काम तीन साल यानी 2024 तक पूरा होने का लक्ष्य है. निर्माण एजेंसी की ओर से मिट्टी जांच का काम पूरा हो गया है. सितंबर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिलान्यास किया था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें