1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. patna university cbcs got approval even in graduation from raj bhavan rdy

Patna University: राजभवन से स्नातक में भी सीबीसीएस को मिली स्वीकृति, इसी सत्र से पढ़ाई भी होगी

पटना विवि के सीनेट के द्वारा स्नातक में सीबीसीएस कोर्स लागू करने के प्रस्ताव को राजभवन को भेजा गया था, जिसे स्वीकृति मिल गयी है. राजभवन द्वारा इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गयी है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Patna University
Patna University
सोशल मीडिया

पटना विश्वविद्यालय में स्नातक (बीए, बीएससी व बीकॉम) कोर्स में भी च्वॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) सत्र 2022 से प्रभावी हो गया. विवि के सीनेट के द्वारा स्नातक में सीबीसीएस कोर्स लागू करने के प्रस्ताव को राजभवन को भेजा गया था, जिसे स्वीकृति मिल गयी है. राजभवन द्वारा इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गयी है.

पटना विश्वविद्यालय राज्य का पहला विश्वविद्यालय बना गया

इसी के साथ यूजी व पीजी दोनों ही कोर्स के सभी विषयों में सीबीसीएस लागू करने वाला पटना विश्वविद्यालय राज्य का पहला विश्वविद्यालय बना गया है. पीजी के रेगुलर व वोकेशनल कोर्स तथा स्नातक के वोकेशनल कोर्स में पहले से ही सीबीसीएस लागू है. पटना विश्वविद्यालय में सत्र 2022-23 से स्नातक स्तर पर भी पहली बार यह लागू हो जायेगा.

सीबीसीएस के तहत सिलेबस भी तैयार, 20 तक मांगे सुझाव

सीबीसीएस लागू करने के लिए रेगुलेशन एवं ऑर्डिनेंस बनाया गया था, जिसे राजभवन भेजा गया था. वर्तमान सत्र में स्नातक की नामांकन प्रक्रिया चल रही है. सितंबर में स्नातक का जो नया सत्र शुरू होगा उसमें पहली बार छात्रों को सीबीसीएस कोर्स पढ़ाया जायेगा. स्टूडेंट्स वेलफेयर डीन प्रो अनिल कुमार ने बताया कि उक्त कोर्स का सिलेबस भी तैयार है और सभी सिलेबस वेबसाइट पर अपडेट भी है.

20 जून तक मांगे गये सिलेबस पर सुझाव

उक्त सिलेबस पर सुझाव 20 जून तक मांगे गये हैं. उपयुक्त सुझावों को सिलेबस में शामिल भी किया जायेगा. अब तक स्नातक में वार्षिक परीक्षाएं होती थीं, अब हर छह महीने में सेमेस्टर की परीक्षा होगी. तीन की जगह छह सेमेस्टर पढ़ेंगे. वहीं कई अतिरिक्त विषयों को पढ़ने का भी उन्हें अवसर मिल सकेगा.

इग्नू में एक साथ कर सकते हैं दो डिग्री

इंदिरा गांधी नेशनल ओपेन यूनिवर्सिटी के जरिये छात्र अब एक साथ दो डिग्री कर सकते हैं. नयी शिक्षा नीति के इस प्रावधान को इग्नू ने नये सत्र से अपना रहा है. इस सत्र के लिए नामांकन की प्रक्रिया चल रही है. कोई भी छात्र एक साथ दो डिग्री प्राप्त कर सकते हैं. भारत सरकार एवं यूजीसी नेे हाल ही में राजपत्र अधिसूचना जारी कर दो पाठ्यक्रम एकसाथ करने को मान्यता प्रदान कर दी है. इग्नू के क्षेत्रीय कार्यालय में गुरुवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में ये बातें क्षेत्रीय निदेशक प्रो अभिलाष नायक ने कहीं.

सिविल सेवा परीक्षा के लिए मुफ्त कोचिंग करायेगा इग्नू

क्षेत्रीय निदेशक ने बताया कि अनुसूचित जाति के 100 छात्रों को सिविल सेवा परीक्षा तैयारी के लिए मुफ्त कोचिंग सुविधा इग्नू देगी. सीसीओएमओ, पीजीडीएबी, एमएसीएसआर, एमएवीएस, पीजीडीवीएस, एमबीएएफएम, एमबीएएचएम, एमबीएओएम, एमबीएएमएम जैसे नये पाठ्यक्रमों का शुभारंभ किया गया है. उर्दू के स्नातक छात्रों के लिए इतिहास, मनोविज्ञान एवं पर्यावरण विज्ञान में लाइव सत्र का आयोजन, जुलाई 2022 सत्र के लिए नामांकन प्रारंभ किया गया है.

Prabhat Khabar App: देश-दुनिया, टेक-ऑटो, बॉलीवुड, बिजनेस, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. हर दिन की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड कीजिए
प्रभात खबर ऐप.

FOLLOW US ON SOCIAL MEDIA
Facebook
Twitter
Instagram
YOUTUBE

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें