1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. patna bettiah nh built in five phases now it easy to go from patna to bettiah asj

पटना- बेतिया एनएच बनेगा पांच चरणों में, अब पटना से बेतिया जाना होगा आसान

राज्य में नये एनएच-139 डब्ल्यू पटना से बेतिया तक करीब 167 किमी लंबाई में फोरलेन सड़क का निर्माण पांच चरणों में किया जायेगा. सड़कों का निर्माण 2023 तक और इस मार्ग में पड़ने वाले जेपी सेतु के समानांतर नये फोरलेन पुल का निर्माण 2025 तक होने की संभावना है. उधर, पटना-गया-डोभी सड़क का निर्माण अक्तूबर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सड़क
सड़क
प्रभात खबर

पटना. राज्य में नये एनएच-139 डब्ल्यू पटना से बेतिया तक करीब 167 किमी लंबाई में फोरलेन सड़क का निर्माण पांच चरणों में किया जायेगा. सड़कों का निर्माण 2023 तक और इस मार्ग में पड़ने वाले जेपी सेतु के समानांतर नये फोरलेन पुल का निर्माण 2025 तक होने की संभावना है. उधर, पटना-गया-डोभी सड़क का निर्माण अक्तूबर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य है.

दोनों सड़कों को बनने से राज्य में बुद्धा सर्किट का निर्माण पूरा हो जायेगा: इस तरह दोनों सड़कों को बनने से राज्य में बुद्धा सर्किट का निर्माण पूरा हो जायेगा. 2025 से इस सर्किट के माध्यम से लोग आसानी से बोधगया, वैशाली, लौरिया और केसरिया तक सीधे जा सकेंगे. वहीं, बेतिया से वाल्मीकि टाइगर रिजर्व भी जाना आसान हो जायेगा.

पटना से बेतिया तक नये एनएच काे बनाने में पांच चरणों के लिए अलग-अलग टेंडर कर निर्माण एजेंसी का चयन किया जायेगा. इस प्रक्रिया को दिसंबर 2021 तक पूरा होने की संभावना है. यह सड़क पटना एम्स के निकट से शुरू होकर बकरपुर, मानिकपुर व साहेबगंज, अरेराज को जोड़ते हुए बेतिया के निकट एनएच-727 तक जायेगी. इससे राज्य के पटना, सारण, वैशाली, मुजफ्फरपुर, पूर्वी और पश्चिमी चंपारण जिलों को सीधा लाभ होगा.

अब पटना से बेतिया जाना होगा आसान

सूत्रों के अनुसार एनएचएआइ ने पटना से बेतिया सड़क निर्माण की कार्ययोजना पांच पैकेज में बनायी है. पहले पैकेज में पटना एम्स से बाकरपुर करीब 21.4 किमी लंबाई में फोरलेन सड़क और इसके अंतर्गत जेपी सेतु के बगल में करीब साढ़े पांच किमी लंबाई में फोरलेन पुल बनाया जायेगा. नये फोरलेन पुल के लिए डीपीआर का निर्माण बिहार राज्य पुल निर्माण निगम ने कर लिया है.

केंद्र सरकार से मंजूरी मिलते ही टेंडर के माध्यम से निर्माण एजेंसी का चयन कर काम शुरू हो जायेगा. इस पुल को साढ़े तीन साल में बनाने की समयसीमा है. ऐसे में 2025 में पुल का निर्माण होने की संभावना है.

चौथे पैकेज में साहेबगंज से अरेराज तक करीब 39.6 किमी लंबाई और पांचवें पैकेज में अरेराज से बेतिया करीब 25 किमी लंबाई में सड़क बनाने के लिए नवंबर में टेंडर निकलने की संभावना है.

अक्तूबर 2022 तक बन जायेगा पटना गया-डोभी फोरलेन

एनएचएआइ के क्षेत्रीय प्रबंधक लेफ्टिनेंट कर्नल चंदन वत्स ने कहा है कि पटना-गया-डोभी फोरलेन सड़क का निर्माण अक्तूबर 2022 तक होने की संभावना है. इसके बनने से बुद्धा सर्किट बनकर पूरा हो जायेगा.

इस सड़क को बनने से नत्थोपुर से पकड़ी और पकड़ी से चितकोहरा होकर सरिस्ताबाद पहुंचा जा सकेगा. नत्थोपुर से सरिस्ताबाद तक करीब 2.8 किमी लंबाई में फोरलेन सड़क बनाने के लिए जमीन अधिग्रहण होना है. इस सड़क का अलाइनमेंट हो चुका है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें