1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. one year has been completed since the commencement of flight service from darbhanga airport sanjay jha said darbhanga become an international airport asj

मिथिला से 'उड़ान' शुरू होने के एक साल पूरे, बोले संजय झा- अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनेगा दरभंगा

दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा शुरू होने के एक साल पूरे होने के मौके पर जल संसाधन तथा सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री संजय झा ने कहा कि आज का दिन हम मिथिलावासियों के लिए बड़ी खुशी एवं गर्व का दिन है. ठीक एक साल पहले 8 नवंबर, 2020 को मिथिला के केंद्र में स्थित दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा शुरू हुई थी.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
संजय झा
संजय झा
फाइल

पटना. दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा शुरू होने के एक साल पूरे होने के मौके पर जल संसाधन तथा सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री संजय झा ने कहा कि आज का दिन हम मिथिलावासियों के लिए बड़ी खुशी एवं गर्व का दिन है. ठीक एक साल पहले 8 नवंबर, 2020 को मिथिला के केंद्र में स्थित दरभंगा एयरपोर्ट से उड़ान सेवा शुरू हुई थी.

पिछले एक साल में दरभंगा एयरपोर्ट ने कामयाबी के नित्य नये कीर्तिमान स्थापित किये हैं. संजय झा ने कहा कि जब आप कोई बड़ा सपना देखते हैं, उसके लिए प्रयास करते हैं और वह सपना धरातल पर उतर कर कामयाबी के साथ आगे बढ़ता है, तो इससे बड़ी खुशी कुछ नहीं हो सकती.

श्री झा ने कहा कि दरभंगा एयरपोर्ट अंतरराष्ट्रीय स्तर का आधुनिक एयरपोर्ट बनेगा, यहां सुविधाओं में वृद्धि होगी. इसके लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने स्तर से लगातार जरूरी पहल करते रहे हैं.

श्री झा ने बताया कि दरभंगा एयरपोर्ट पर जिन सुविधाओं का निर्माण एवं विकास हो सकेगा, उनमें तीन से चार हजार यात्रियों की क्षमता का नया टर्मिनल भवन, 8 विमानों के ठहराव की क्षमता वाला एप्रन, चार सौ से अधिक वाहनों के लिए मल्टी फ्लोर पार्किंग, मखाना और लीची की सप्लाई के लिए कार्गो कॉम्प्लेक्स, रनवे पर अत्याधुनिक नेविगेशन फेसिलिटी (पथ-प्रदर्शन की सुविधा), ग्राउंड स्टाफ के लिए प्रशिक्षण केंद्र और नया प्रशासनिक भवन शामिल है.

इसके साथ ही यहां 24 एकड़ भूमि में नाइट लैंडिंग इक्विपमेंट की भी स्थापना की जाएगी, जिससे यहां जगमगाती रोशनी के बीच रात में और कम दृश्यता वाले मौसम में भी विमान उतर सकेंगे और उड़ान भर सकेंगे.

श्री झा ने कहा कि पिछले एक साल में ही यह मिथिला के साथ-साथ बिहार के बड़े हिस्से और नेपाल तक के लोगों के लिए हवाई यात्रा का प्रमुख केंद्र बन गया है. बीते एक साल में (8 नवंबर 2020 से 7 नवंबर 2021 के बीच) यहां से करीब सवा पांच लाख यात्रियों का आना-जाना हुआ. साथ ही, यहां से करीब 36 टन लीची बाहर भेजी गयी है.

दरभंगा एयरपोर्ट के एक साल के शानदार सफर के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति पुन: आभार जताया. संजय झा ने कहा कि 'उड़ान' स्कीम के तहत बिहार के लिए दो एयरपोर्ट की मंजूरी माननीय प्रधानमंत्री द्वारा दी गई, लेकिन ये एयरपोर्ट बिहार के किस शहर में बनेंगे, यह माननीय मुख्यमंत्री को तय करना था, क्योंकि इसमें राज्य सरकार को भी कई स्तरों पर सहयोग करना था.

मिथिला के विकास के प्रति माननीय मुख्यमंत्री की व्यक्तिगत अभिरुचि के कारण एक एयरपोर्ट के लिए दरभंगा को चुना गया. इस मौके पर संजय झा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय अरुण जेटली जी के सहयोग को भी याद किया और अपने मित्र पूर्व केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का भी आभार जताया, जिनके कार्यकाल में पिछले साल यहां से हवाई सेवा शुरू हुई थी.

संजय झा ने खुशी जताते हुए कहा कि दरभंगा एयरपोर्ट की शानदार कामयाबी से आसपास के जिलों में परिवहन एवं अन्य क्षेत्रों में रोजगार के नये अवसर पैदा हुए हैं. दरभंगा एयरपोर्ट के कारण आने वाले वर्षों में मिथिला में औद्योगीकरण और विभिन्न क्षेत्रों में निवेश के लिए भी बेहतर माहौल बनेगा. यह एयरपोर्ट उत्तर बिहार के बड़े हिस्से में विकास को रफ्तार देगा. दरभंगा में एम्स बनने पर यहां हवाई मार्ग से देश-दुनिया के विशेषज्ञ डाक्टरों का भी आना-जाना होगा.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें