1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. more than 90 percent universities and colleges of bihar do not have naac recognition an college gets a grade in naac rdy

बिहार के 90 प्रतिशत से अधिक विवि व कॉलेजों के पास नैक की मान्यता नहीं, एएन कॉलेज को नैक में ‘ए’ ग्रेड

बिहार के 90 प्रतिशत से अधिक विवि व कॉलेजों के पास नैक की मान्यता नहीं है. टीपीएस कॉलेज ने नैक के लिए फिर से आवेदन किया है. कॉलेज ऑफ कॉमर्स व ऐसे कई अन्य कॉलेज प्रयास में हैं, हालांकि ज्यादातर तो ऐसे हैं, जिन्हें आज तक कभी न मान्यता मिली है और न तो उन्होंने प्रयास ही किया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 नैक की मान्यता
नैक की मान्यता
फाइल

अमित कुमार/पटना. राज्य के नब्बे प्रतिशत से अधिक विश्वविद्यालय व कॉलेज नैक मान्यता प्राप्त नहीं हैं. कुछ की मान्यता समाप्त हो चुकी है. वे फिर से मान्यता के लिए प्रयास में लगे हैं. कोविड की वजह से भी नैक की तैयारियां काफी धीमी चल रही हैं. आंकड़ों पर नजर डालें, तो राज्य में छोटे-बड़े मिलाकर 874 के आसपास कॉलेज और कुल 18 स्टेट यूनिवर्सिटी हैं और इनमें सिर्फ 53 कॉलेजों व सिर्फ पटना विवि को ही नैक की मान्यता प्राप्त है.

इस वर्ष 30 और की जायेगी मान्यता

पहले 131 कॉलेज नैक की सूची में थे, लेकिन करीब 78 कॉलेजों की मान्यता विगत कुछ वर्षों में समाप्त हो चुकी है. वहीं 53 मान्यता प्राप्त कॉलेजों में से भी 30 कॉलेजों की मान्यता इस वर्ष के अंत तक समाप्त हो जायेगी. फिर सिर्फ 23 कॉलेजों के पास ही मान्यता बचेगी.

चल रही आवेदन की प्रक्रिया

टीपीएस कॉलेज ने नैक के लिए फिर से आवेदन किया है. कॉलेज ऑफ कॉमर्स व ऐसे कई अन्य कॉलेज प्रयास में हैं, हालांकि ज्यादातर तो ऐसे हैं, जिन्हें आज तक कभी न मान्यता मिली है और न तो उन्होंने प्रयास ही किया है. इनके पास नैक के लिए जरूरी अर्हता ही नहीं है. जैसे इन्फ्रास्ट्रक्चर, शिक्षक आदि की भारी कमी है और वह यूजीसी के मानकों पर नहीं उतरते. उन्हें तो यूजीसी की सामान्य मान्यता जैसे 12बी भी नहीं है. मौलाना मजहरूल हक अरबी एवं फारसी विश्वविद्यालय, आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय, नालंदा खुला विश्वविद्यालय आदि की यही स्थिति है. कॉलेजों में वाणिज्य कॉलेज एक उदाहरण हैं.

पूरे राज्य में सिर्फ एएन कॉलेज को नैक में ‘ए’ ग्रेड

राज्य की उच्च शिक्षा की स्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि पूरे राज्य में सिर्फ एक कॉलेज (एएन कॉलेज) के पास ही वर्तमान में नैक में ‘ए’ ग्रेड की मान्यता है. एएन कॉलेज की मान्यता भी इसी वर्ष अक्तूबर में समाप्त हो रही है. ए प्लस ग्रेड तो किसी को नहीं है. 53 नैक मान्यता प्राप्त में 22 कॉलेजों को सी और 22 को बी ग्रेड प्राप्त है. पटना विवि को बी प्लस ग्रेड प्राप्त है और मान्यता 8 अगस्त 2024 तक है.

आकड़ों पर एक नजर

  • 874 कॉलेजों में कुल 53 कॉलेजों के पास ही नैक की मान्यता

  • सिर्फ एक विश्वविद्यालय पीयू के पास ही नैक की मान्यता

  • पूरे राज्य में एक मात्र एएन कॉलेज के पास नैक में ‘ए’ ग्रेड, ए प्लस ग्रेड किसी को नहीं

  • बी और सी ग्रेड कॉलेजों की संख्या ही अधिक

  • इस वर्ष 30 और कॉलेजों की समाप्त हो जायेगी मान्यता

यूनिवर्सिटी जिनकी मान्यता विगत दो वर्षों में समाप्त हुई

  • यूनिवर्सिटी ------ ग्रेड ------ मान्यता समाप्ति

  • बिहार विवि ------ बी ------ 24 मई 2021

  • सीयूएसबी ------ ए ------ 24 मई 2021

  • सीएनएलयू ------ ए ------ 16 मार्च 2021

  • एलएनएमयू ------ बी ------ 24 जून 2020

  • मगध विवि ------ सी ------ 13 सितंबर 2020

  • तिलका मांझी विवि ------ बी ------ 10 जुलाई 2021

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें