1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. monitoring of schemes of departments related to construction in bihar mobile app vamis work from 1 july rdy

बिहार में निर्माण से जुड़े विभागों की योजनाओं की होगी मॉनीटरिंग, मोबाइल एप ‘वामिस’ एक जुलाई से करेगा काम

‘वामिस’ एक नया सॉफ्टवेयर है. इसमें प्रशासनिक अनुमोदन, तकनीकी बारीकियां, ई-माप बुक (इएमबी), बिलिंग, सर्वेक्षण, स्थल निरीक्षण आदि से संबंधित सूचनाओं को प्राप्त करने और उसकी अनुमति देने की व्यवस्था की गयी है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
‘वामिस’ सॉफ्टवेयर
‘वामिस’ सॉफ्टवेयर
प्रभात खबर

पटना. राज्य में सभी निर्माण योजनाओं की मॉनीटरिंग अब नये मोबाइल एप ‘वामिस’ (वर्क्स एकाउंट्स मैनेजमेंट इन्फॉर्मेशन सिस्टम) से होगी. इस एप के माध्यम से भवन निर्माण विभाग, जल संसाधन विभाग, लघु जल संसाधन विभाग, पीएचइडी, ग्रामीण कार्य विभाग और पथ निर्माण विभाग में एक जुलाई से कामकाज की शुरुआत हो जायेगी. इसमें कार्य विभागों के राज्यभर के अधिकारी अपने क्षेत्र की योजनाओं से संबंधित रियल टाइम अपडेट्स अपलोड करेंगे. साथ ही अधिकारी विभिन्न योजनाओं के स्थल निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल से ही परियोजनाओं के संबंध में जरूरी सूचनाओं को अपलोड करेंगे.

नयी तकनीक परियोजनाओं के प्रभावी प्रबंधन में सहायक होगी

इन सूचनाओं में काम की प्रगति, मशीन और श्रमबल की उपलब्धता, जियो टैग फोटो आदि शामिल होंगे. इसका मकसद परियोजनाओं की समस्याओं को दूर कर तय समय पर निर्माण कार्य पूरा करना है. सूत्रों के अनुसार सभी कार्य विभागों में नयी तकनीक से कामकाज के लिए ‘वामिस’सॉफ्टवेयर के साथ-साथ ‘वामिस’ एप भी तैयार किया गया है.

मोबाइल एप ‘वामिस’ एक जुलाई से करने लगेगा काम

‘वामिस’ एक नया सॉफ्टवेयर है. इसमें प्रशासनिक अनुमोदन, तकनीकी बारीकियां, ई-माप बुक (इएमबी), बिलिंग, सर्वेक्षण, स्थल निरीक्षण आदि से संबंधित सूचनाओं को प्राप्त करने और उसकी अनुमति देने की व्यवस्था की गयी है. यह नयी तकनीक परियोजनाओं के प्रभावी प्रबंधन और निगरानी में भी सहायक होगी.

पेपरलेस और त्चरित गति से होगा कामकाज

इस नयी तकनीक के माध्यम से परियोजनाओं का निरीक्षण करने वाले अभियंता कार्यस्थल का फोटो सहित रिपोर्ट वामिस ऐप पर भेज देंगे. इस रिपोर्ट को देख कर वरीय पदाधिकारी यह तय कर सकेंगे कि परियोजनाओं का काम कितना और क्यों अधूरा है. साथ ही परियोजनाओं के बारे में त्वरित निर्णय लिया जा सकेगा. इससे पेपरलेस तरीके से तेजी से कामकाज हो सकेगा.

मुख्य बातें

  • जल संसाधन, लघु जल संसाधन, पीएचइडी, ग्रामीण कार्य और पथ निर्माण विभाग में एक जुलाई से कामकाज की होगी शुरुआत

  • राज्यभर के अधिकारी विभिन्न योजनाओं के स्थल निरीक्षण के दौरान कार्यस्थल से ही परियोजनाओं के संबंध में जरूरी सूचनाओं को अपलोड करेंगे

Prabhat Khabar App: देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, क्रिकेट की ताजा खबरे पढे यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए प्रभात खबर ऐप.

FOLLOW US ON SOCIAL MEDIA
Facebook
Twitter
Instagram
YOUTUBE

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें