1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. lara seva sansthan owner nand kishore car stopped after being pushed in harnichak then shot rdy

Bihar News: हरनीचक में धक्का मार कर लारा सेवा संस्थान के मालिक नंद किशोर की रुकवायी कार, फिर मार दी गोली

मुन्ना जी को गोली मारने वाले अपराधी उनके घर के पास से ही पीछा कर रहे थे. अनुसंधान के क्रम में पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि जिस समय अपराधियों ने राजद नेता को गोलियां मारीं, उसी समय बिजली आपूर्ति बंद हो गयी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
घटना की जांच करती पुलिस
घटना की जांच करती पुलिस
प्रभात खबर

पटना में शुक्रवार की सुबह मैरेज हॉल कारोबारी और टैंकर से जल सप्लाइ के लिए मशहूर लारा सेवा संस्थान (लालू राबड़ी सेवा संस्थान) के मालिक नंद किशोर उर्फ मुन्ना जी को अपराधियों ने गोली मार दी. घटना बेऊर थाने के हरनीचक में लारा सेवा संस्थान के मालिक के मैरेज हॉल के पास हुई. नंद किशोर अपने कार से जा रहे थे, तभी एक बाइक पर सवार दो अपराधियों ने नंद किशोर की कार को पहले धक्का मारा, फिर कार रुकते ही नजदीक से उनके चेहरे और पेट में दनादन दो गोलियां उतार दीं.

वारदात को अंजाम देकर अपराधी तेजी से बाइपास की ओर फरार हो गये. परिजन मैरिज हॉल कारोबारी को पारस अस्पताल ले गये, जहां उनकी हालत नाजुक है. वारदात की सूचना मिलते ही मौके पर पटना सिटी एसपी, पश्चिमी एसपी दानापुर बेऊर थाना के ट्रेनी डीएसपी दल-बल के साथ पहुंचे और आसपास में रहे लोगों से पूछताछ की. सीसीटीवी फुटेज के सहारे अपराधियों का पता लगाने में जुट गये. वारदात के घंटों बाद तक पुलिस घटना के कारणों का पता नहीं लगा पायी है.

मुन्ना जी को गोली मारने वाले अपराधी उनके घर के पास से ही पीछा कर रहे थे. अनुसंधान के क्रम में पुलिस को यह भी जानकारी मिली है कि जिस समय अपराधियों ने राजद नेता को गोलियां मारीं, उसी समय बिजली आपूर्ति बंद हो गयी, वरना वारदात की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाती. इस संबंध में बेऊर के प्रशिक्षु डीएसपी पी त्रिपाठी ने बताया कि नंद किशोर का इलाज चल रहा है. पुलिस बयान का इंतजार कररही है. दो बिंदुओं पर छानबीन की जा रही है. बताया जाता है कि उनकी कोई दुश्मनी नहीं थी.

वहीं पुलिस को परिजन भी अब तक कुछ नहीं बता पा रहे हैं. बेऊर थाना के थानेदार सह ट्रेनी डीएसपी प्रांजल त्रिपाठी ने बताया कि घटना के कारणों का पता लगाया जा रहा है. जानकारी के अनुसार इससे पूर्व में नंदकिशोर पर जानलेवा हमला हो चुका है. लेकिन वे बाल- बाल बच गये थे. गोली चलाने की वजह उस वक्त भी साफ नहीं हो पायी थी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें