1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. lalan became the president by the wishes of everyone said nitish there is no difference in the party asj

चौटाला से मिले नीतीश, बोले- पार्टी में कोई मतभेद नहीं, सभी की इच्छा से ललन बने अध्यक्ष

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह पार्टी के सभी लोगों की इच्छा से राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं. पार्टी में किसी तरह का कोई मतभेद नहीं है. पार्टी पूरी तरह एकजुट है. जदयू में सभी जातियों और सभी धर्मों के लोग हैं. यह किसी जाति विशेष की पार्टी नहीं है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
pti

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह पार्टी के सभी लोगों की इच्छा से राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं. पार्टी में किसी तरह का कोई मतभेद नहीं है. पार्टी पूरी तरह एकजुट है. जदयू में सभी जातियों और सभी धर्मों के लोग हैं. यह किसी जाति विशेष की पार्टी नहीं है.

उपेंद्र कुशवाहा द्वारा उन्हें पीएम मैटेरियल बताने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोगों की इन सब चीजों में कोई दिलचस्पी नहीं है. साथ ही जातिगत जनगणना के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हम इस संबंध में प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर मिलने का समय मांगेंगे.

मुख्यमंत्री रविवार देर शाम नयी दिल्ली से पटना पहुंचने के बाद एयरपोर्ट पर संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे. वह जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए शुक्रवार की देर शाम को नयी दिल्ली पहुंचे थे.

नीतीश कुमार ने कहा कि शनिवार को जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जदयू के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने ललन सिंह को नया राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का प्रस्ताव दिया. राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से इसे पारित किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि सात महीने पहले आरसीपी सिंह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे.

केंद्र में मंत्री बनने के बाद उनकी इच्छा थी कि उनकी जगह पर ललन सिंह पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने. पार्टी के सभी लोगों की भी यही इच्छा थी. राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने एकमत से उन्हें राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी.

पार्टी में कोई मतभेद नहीं

मुख्यमंत्री ने कहा कि ललन सिंह का इस पार्टी से काफी पुराना रिश्ता रहा है. जब से यह पार्टी बनी है, तभी से उनका इस पार्टी से संबंध रहा है. ललन सिंह काे राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाने का पार्टी का निर्णय अच्छा है.

उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में सभी लोगों ने ललन सिंह को अध्यक्ष बनाने के प्रस्ताव का समर्थन किया है. उपेंद्र कुशवाहा ने भी अपने भाषण में इसका समर्थन किया.

जातिगत जनगणना होनी चाहिए

जातिगत जनगणना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि शनिवार को जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने भी प्रस्ताव पास कर जातिगत जनगणना कराने की मांग की है. हम इस बात को पहले से ही रखते रहे हैं. जातिगत जनगणना की मांग को बिहार विधानमंडल से दो बार सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास कर केंद्र सरकार को भेजा गया है. हमलोगों की इच्छा है कि जातिगत जनगणना होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों के नेताओं के साथ मुलाकात में जातिगत जनगणना को लेकर जो बातें सामने आयी हैं, उनको लेकर हम प्रधानमंत्री को पत्र लिखेंगे. विपक्षी दलों की राय से हम सब लोग सहमत हैं. पीएम से मिलने के लिए जाने वाले सभी पार्टियों से लोगों के नाम सोमवार को सभी से बातचीत के बाद तय करेंगे.

चौटाला से पुराना रिश्ता

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला से मुलाकात को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि ओमप्रकाश चौटाला से हमलोगों का पुराना रिश्ता है. हमने उनसे मुलाकात कर उन्हें बधाई दी है.

पहले हमलोगों की हमेशा मुलाकात होती रही है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हरियाणा के पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला से रविवार की दोपहर उनके गुरुग्राम स्थित आवास में शिष्टाचार मुलाकात की और एक साथ भोजन किया.

उन्होंने कहा कि इस मुलाकात के दौरान कोई राजनीतिक चर्चा नहीं हुई. साथ ही इस मुलाकात का कोई राजनीतिक मतलब भी नहीं है. इस मुलाकात के दौरान जदयू के राष्ट्रीय महासचिव केसी त्यागी भी मौजूद रहे.

देर शाम पटना लौटे सीएम

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए शुक्रवार शाम को नयी दिल्ली पहुंचे थे. शनिवार को जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के बाद उन्होंने रविवार दोपहर में ओम प्रकाश चौटाला से मुलाकात की.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें