1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. jdu national executive meeting is likely on 31st rcp said if the party says leave the post of president asj

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 31 को संभावित, आरसीपी बोले- पार्टी कहेगी तो अध्यक्ष पद छोड़ देंगे

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
 जदयू के अध्यक्ष आरसीपी सिंह
जदयू के अध्यक्ष आरसीपी सिंह
File

पटना. 31 जुलाई को दिल्ली में जदयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने की संभावना है. इसमें सीएम नीतीश कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह, संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, ललन सिंह सहित सभी प्रमुख नेताओं के शामिल होंगे. इस बैठक में नये राष्ट्रीय अध्यक्ष के बारे में निर्णय हो सकता है.

इधर रविवार को जदयू प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को वर्चुअली संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि संगठन है, तभी पार्टी है. भले ही दिल्ली में दायित्व मिला हो, लेकिन वह संगठन की मजबूती के लिए काम करते रहेंगे. पार्टी तय करेगी, तो यह जिम्मेदारी किसी मजबूत साथी को भी दूंगा.

इससे पूर्व बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जदयू के पदाधिकारियों को लोगों के बीच जाने और कमियों की जानकारी लेकर तत्काल सूचना देने का निर्देश दिया है. इसका मकसद समस्याओं के समाधान का प्रयास करना है. उन्होंने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होने पर बधाई दी. साथ ही कहा कि उनके पास काफी अनुभव है. हमें विश्वास है कि आरसीपी सिंह बहुत अच्छा काम करेंगे.

उन्होंने जदयू संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के काम की भी तारीफ की. वहीं लालू प्रसाद का नाम लिये बिना नीतीश कुमार कहा कि हमसे पहले जो थे, उन्होंने क्या किया? जब उन्हें मौका मिला, तो अपनी जगह उन्होंने पत्नी को बना दिया, लेकिन महिलाओं के लिए क्या किया? मुख्यमंत्री रविवार को जदयू प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक को वर्चुअली संबोधित कर रहे थे.

नीतीश कुमार ने पार्टी की प्रदेश कमेटी में एक तिहाई से ज्यादा महिलाओं को स्थान देने के लिए प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा को बधाई दी. उन्होंने कहा कि कुछ लोग अपनी पब्लिसिटी के लिए हम पर बोलते रहते हैं. उनके पास न तो कोई तथ्य होता है, न किसी बात की जानकारी होती है. राजनीति हमलोगों के लिए सेवा का जरिया है. लोगों की सेवा करना ही हमारा धर्म है. हमारी सरकार ने हर क्षेत्र में काम किया है.

हर क्षेत्र में हुआ काम

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी काम करते हुए हमने कभी किसी के साथ भेदभाव नहीं किया. हर क्षेत्र, हर इलाका, हर जाति, हर वर्ग, हर समुदाय के लिए एक समान काम किया. महिलाओं को हमने हर तरह से सबल बनाया. आज पुलिस बल में जितनी महिलाएं हमारे यहां हैं, उतनी कहीं नहीं. जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम को भी फिर से शुरू किया गया है, ताकि लोगों की परेशानियों से हम वाकिफ होते रहे.

एंटी सोशल हो गया है सोशल मीडिया

सीएम ने कहा कि सोशल मीडिया एंटी सोशल हो गया है. नयी पीढ़ी के लोग इसका ध्यान रखें और नयी तकनीक से लोगों तक अपनी बात पहुंचाएं. कोरोना की संभावित तीसरी लहर को लेकर उन्होंने कहा कि इसको लेकर सचेत रहें और लोगों को जागरूक करते रहें.

ये रहे शामिल

जदयू मुख्यालय के कर्पूरी सभागार में प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा की अध्यक्षता में इस बैठक का आयोजन हुआ. इसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह और सूचना एवं जनसंपर्क सह जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा ने जूम एप के माध्यम से संबोधित किया.

वहीं, केंद्रीय संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा, राज्यसभा सदस्य बशिष्ठ नारायण सिंह, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी और पूर्व मंत्री व प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मेश्वर राय ने बैठक को कर्पूरी सभागार में उपस्थित होकर संबोधित किया.

महिला अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ (दक्षिण बिहार) की प्रदेश अध्यक्ष अंजुम आरा ने धन्यवाद ज्ञापन किया. इस दौरान मंच पर विधान पार्षद संजय गांधी, ललन सर्राफ, प्रदेश महासचिव अनिल कुमार, चंदन सिंह और जदयू मीडिया सेल के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अमरदीप मौजूद रहे. बैठक में सभी प्रदेश उपाध्यक्ष, प्रदेश महासचिव, प्रदेश सचिव, प्रकोष्ठों के प्रदेश अध्यक्ष एवं प्रभारी, प्रदेश प्रवक्ता और प्रदेश कोषाध्यक्ष शामिल हुए.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें