1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. jdu maheshwar hazari elected deputy speaker of legislative assembly ljp mla also got vote asj

जदयू के महेश्वर हजारी विधानसभा के उपाध्यक्ष निर्वाचित, लोजपा विधायक का भी मिला वोट

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीएम नीतीश के दायें बैठे महेश्वर हजारी
सीएम नीतीश के दायें बैठे महेश्वर हजारी
फाइल

पटना. जदयू के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री महेश्वर हजारी विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गये हैं. विधानसभा में बुधवार को हुई वोटिंग में उनके पक्ष में 124 सदस्यों ने वोट किया, जबकि इस दौरान सदन से विपक्ष के सभी सदस्य गैरहाजिर रहे. विपक्ष के उम्मीदवार भूदेव चौधरी को एक मत भी नहीं मिला.

शुरू में विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने ध्वनिमत से श्री हजारी के पक्ष में बहुमत होने की घोषणा की. लेकिन, संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी के आग्रह पर वोटिंग कराने का फैसला लिया गया.

वोटिंग के दौरान विपक्षी सदस्य सदन से अनुपस्थित रहे, जबकि महेश्वर हजारी के पक्ष में 124 विधायक खड़े हुए. उपाध्यक्ष का कार्यकाल 17वीं विधानसभा के पूरे समय तक के लिए होगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा उपाध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद महेश्वर हजारी को बधाई दी.

सीएम ने कहा, विपक्ष को मालूम है कि उनके पास बहुमत नहीं

सीएम ने कहा कि विपक्ष को मालूम है कि उनके पास बहुमत नहीं है. उन्होंने आश्चर्य व्यक्त किया और कहा कि जब दूसरे (विपक्ष के प्रत्याशी भूदेव चौधरी) ने नामांकन किया था तो सदन में उनको उपस्थित रहना चाहिए. किसी का नाम लिये बगैर मुख्यमंत्री ने कहा कि पता नहीं कि कुछ लोगों के मन में क्या आता है और कौन लोग उनके एडवाइजर है? सदन में उनको अपनी बात रखनी चाहिए.

उन्होंने महेश्वर हजारी को फिर से बधाई देते हुए कहा कि वह राजनीति में सदैव सक्रिय रहे हैं. कई बार मंत्री पद की जिम्मेदारी निभायी है. उपाध्यक्ष के रूप में वह सभी सदस्यों का ध्यान रखते हुए काम करेंगे. उनके पक्ष में 124 सदस्यों ने विश्वास व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री ने बताया कि तीन सदस्य विभिन्न कारणों से उपाध्यक्ष के निर्वाचन में अनुपस्थित हैं.

सत्ता पक्ष के तीन सदस्य मतदान में नहीं हुए शामिल

विधानसभा उपाध्यक्ष के निर्वाचन में सत्ता पक्ष के तीन सदस्यों ने भाग नहीं लिया. इनमें श्रेयसी सिंह, सहकारिता मंत्री सुभाष सिंह और एक अन्य शामिल हैं. इधर विधानसभा उपाध्यक्ष के लिए मतदान शुरू होते ही सदन से छह मंत्री स्वत: बाहर चले गये. इनमें भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम, पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री मुकेश सहनी, पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय झा और लघु जल संसाधन व एससी-एसटी मंत्री संतोष कुमार सुमन शामिल थे. ये सभी मंत्री विधान परिषद के सदस्य होने के कारण विधानसभा उपाध्यक्ष के निर्वाचन में भाग नहीं ले सकते थे.

हजारी के पक्ष में वोट करने वाले लोजपा विधायक को नोटिस

लोजपा ने अपने इकलौते विधायक राजकुमार सिंह को विधानसभा में उपाध्यक्ष के लिए हुए चुनाव में जदयू उम्मीदवार महेश्वर हजारी के पक्ष में वोट करने को लेकर नोटिस जारी किया है. पार्टी के प्रधान महासचिव अब्दुल खालिक ने श्री सिंह को पार्टी से बिना परामर्श किये जदयू उम्मीदवार को वोट करने पर जल्द जवाब देने को कहा है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें