1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. it is difficult to come to patna from delhi in dussehra air tickets on the sky long waiting in train tickets asj

दशहरे में दिल्ली से पटना आना हो रहा मुश्किल, विमान टिकट आसमान पर, रेल टिकट में लंबी वेंटिग

दशहरा आने में अब एक माह से कम का समय बचा है. लेकिन, इस बार अन्य वर्षों की तरह दुर्गापूजा के दौरान देश के विभिन्न महानगरों से पटना आने के विमान किराये में कंपनियों ने कोई वृद्धि नहीं की है. यह अपने न्यूनतम मूल्य (बेस प्राइस) पर ही है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ट्रेन और हजाज
ट्रेन और हजाज
फाइल

पटना. दशहरा आने में अब एक माह से कम का समय बचा है. लेकिन, इस बार अन्य वर्षों की तरह दुर्गापूजा के दौरान देश के विभिन्न महानगरों से पटना आने के विमान किराये में कंपनियों ने कोई वृद्धि नहीं की है. यह अपने न्यूनतम मूल्य (बेस प्राइस) पर ही है. कोलकाता को जरूर इसका अपवाद कहा जा सकता है, जहां से दशहरे में पटना आने का हवाई किराया न केवल सामान्य दिनों से अधिक है, बल्कि दिल्ली से भी आगे निकल चुका है.

दो वर्ष पहले की दुर्गापूजा से तुलना करें, जब कोरोना का असर नहीं था, तो उन दिनों पूजा शुरू होने के एक महीना पहले से ही सप्तमी और अष्टमी के दिन दिल्ली से पटना आने का हवाई किराया बढ़ कर आठ से 10 हजार रुपये के बीच पहुंच जाता था, जो अभी इसके चौथाई के स्तर पर बना हुआ है. मुंबई और बेंगलुरु का हवाई किराया भी बेस प्राइस से दो से तीन गुना तक हो जाता था, जो अभी बेस प्राइस पर ही बना हुआ है.

सप्तमी व अष्टमी को पटना आने का हवाई किराया

शहर 12 अक्तूबर 13 अक्तूबर

  1. दिल्ली ~2190 ~2190

  2. मुंबई ~3873 ~3873

  3. कोलकाता ~2389 ~2389

  4. बेंगलुरु ~3641 ~3641

  5. चेन्नई ~3723 ~3723

  6. हैदराबाद ~2979 ~3610

इधर, ट्रेनों में अभी से वेटिंग शुरू

कोरोना संक्रमण का असर कम होने के बाद अब दुर्गापूजा मनाने के लिए बिहार के लोग घर लौटने की तैयारी में हैं. उन्होंने अभी से ट्रेनों में बुकिंग शुरू कर दी है. इसका परिणाम है कि एक माह पहले ही कई ट्रेनों में अब वेटिंग शुरू हो गयी है. फिलहाल सबसे अधिक नयी दिल्ली से आनेवाली ट्रेनों में वेटिंग है.

दिल्ली से आने वाली संपूर्ण क्रांति, श्रमजीवी एक्सप्रेस, ब्रह्मपुत्र मेल, विक्रमशीला एक्सप्रेस आदि महत्वपूर्ण ट्रेनों में सीटें फुल हो गयी हैं. हालांकि, मुंबई से आनेवाली ट्रेनों में वेटिंग कम है. सात से 14 अक्तूबर के बीच अधिकतर ट्रेनों में स्लीपर में वेटिंग अधिक है, जबकि एसी में भी वेटिंग चल रही है.

महत्वपूर्ण ट्रेनों में सीटें फुल

नयी दिल्ली से पटना के लिए 02394 संपूर्ण क्रांति में सात से 14 अक्तूबर के बीच सेकेंड सीटिंग में सीटें उपलब्ध हैं. वहीं, स्लीपर में सात अक्तूबर को आरएसी 53, आठ को वेटिंग 47, नौ को 55, 10 को 52, 11 को 37, 12 को 54, 13 अक्तूबर को 35 वेटिंग है.

02392 श्रमजीवी एक्सप्रेस में 10 अक्तूबर को 23, 11 को चार व 12 को सात वेटिंग है. 02368 विक्रमशीला एक्सप्रेस में 10 से 12 अक्तूबर के बीच सेकेंड सीटिंग में भी वेटिंग है. स्लीपर में सात अक्तूबर को 33, आठ को 42, नौ को 99, 10 111, 11 को 102 वेटिंग है. थर्ड एसी में नौ अक्तूबर को 51, 10 को 51, 11 को 16, 12 अक्तूबर को 13 वेटिंग है.

एसी सेंकेंड व फर्स्ट में वेटिंग चल रही है. 02554 वैशाली एक्सप्रेस में सात अक्तूबर को 42, आठ को 50, नौ को 68, 10 को 88, 11 को 30 व 12 अक्तूबर को 43 वेटिंग है. वहीं, थर्ड एसी में आठ को 21, नौ को 20, 10 को 20, 11 को दो, एसी सेकेंड में आठ को नौ, व नौ को दो वेटिंग है. 05910 अवध-आसाम एक्सप्रेस में सात को 17, आठ को 26, नौ को 26, 10 को 26, 11 को 32, 12 अक्तूबर को 16 वेटिंग है.

मुंबई की ट्रेनों में वेटिंग कम

मुंबई से आनेवाली ट्रेनों में वेटिंग कम है. लोकमान्य तिलक टर्मिनल से भागलपुर जानेवाली ट्रेन में स्लीपर में सात को 22, 10 को 42, 12 को 32, 14 अक्तूबर को 10 वेटिंग है. थर्ड एसी में सात को दो, 10 को पांच, 12 को नौ व 14 को पांच, सेकेंड एसी में सात को दो, 10 को छह, 12 को छह व 14 को एक वेटिंग है. वहीं 03202 एलटीटी-पटना, 02141 एलटीटी-पाटलिपुत्र में सीटें उपलब्ध हैं.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें