1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. dgp showed strong attitude against crime dsp and sho be out of patna if crime is not controlled rdy

DGP ने अपराध के खिलाफ दिखाए कड़े तेवर, 'क्राइम कंट्रोल नहीं हुआ तो पटना से बाहर होंगे DSP व थानाध्यक्ष'

DGP ने वरीय पुलिस अधिकारियों एडीजी, आइजी, डीआइजी व एसएसपी को टास्क सौंपा और उन्हें अपने एक्सपीरियंस को अधीनस्थों को शेयर करने का निर्देश दिया. इसके ही उनकी समस्याओं व कमियों की पहचान कर निदान करने को भी कहा.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पटना एसएसपी ऑफिस पहुंचे डीजीपी
पटना एसएसपी ऑफिस पहुंचे डीजीपी
प्रभात खबर

पटना. डीजीपी एसके सिंघल पटना जिले के क्राइम कंट्रोल व लॉ एंड ऑर्डर की समीक्षा करने के लिए एसएसपी ऑफिस पहुंच गये. पांच बजे शाम से लेकर नौ बजे रात तक चार घंटे तक हुई मैराथन बैठक में डीजीपी ने पाया कि जिले के कई थानों में क्राइम का ग्राफ बढ़ा है और अनुमंडल स्तर पर कई केस लंबित हैं. इस पर डीजीपी ने संबंधित डीएसपी व थानाध्यक्षों को स्पष्ट कर दिया कि अगर क्राइम कंट्रोल नहीं हुआ और लंबित केसों का निष्पादन नहीं हुआ तो उन्हें पटना जिले से बाहर भेज दिया जायेगा. इसके साथ ही डीजीपी ने यहां तक कहा कि अगर कोई मदद चाहिए तो हम करने को तैयार है, लेकिन उन्हें बेहतर काम करना होगा. बैठक में उन्होंने वरीय पुलिस अधिकारियों एडीजी, आइजी, डीआइजी व एसएसपी को टास्क सौंपा और उन्हें अपने एक्सपीरियंस को अधीनस्थों को शेयर करने का निर्देश दिया. इसके ही उनकी समस्याओं व कमियों की पहचान कर निदान करने को भी कहा.

बेहतर पुलिसिंग के लिए अधिकारियों को मॉनीटरिंग का निर्देश

एक सवाल के जवाब में डीजीपी ने हर जिलों में जाकर थानों का निरीक्षण करने और सभी थानाध्यक्षों के साथ बैठक करने का उद्देश्य बताते हुए कि इसका सबसे बड़ा मकसद अधिकारी से लेकर जवान तक की एक-एक बातों को सुनना और उनकी तमाम समस्याओं को हल करना है. सभी के साथ संवाद स्थापित करना भी महत्वपूर्ण उद्देश्य है. इसके साथ ही हमको उनसे जो काम कराना है, उसके संबंध में भी उन्हें साफ-साफ बताना कि ये-ये काम आपको किसी भी हालत में करना है.

सभी अधिकारियों को भी लगातार मॉनीटरिंग करने निर्देश

उन्हें अपने मान-सम्मान के साथ ही सरकार का नाम ऊंचा करने के लिए उन्हें मेहनत से काम करना है. उन्होंने कहा कि हमारे लोग अपना काम कर रहे हैं, लेकिन इस दौरान कुछ कमियां भी छोड़ रहे हैं. उनकी कमियों की पहचान कर उनके जेहन में उतारा गया है और उन्हें बताया गया है कि ये जो कमियां हैं, उन्हें तुरंत दूर करें. उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों को भी लगातार मॉनीटरिंग करने को कहा गया है ताकि बेहतर पुलिसिंग हो सके. डीजीपी के साथ बैठक में एडीजी मुख्यालय जेएस गंगवार, रेंज आइजी राकेश राठी, एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो, सभी सिटी एसपी, डीएसपी व थानाध्यक्ष मौजूद थे.

फरार अपराधियों की गिरफ्तारी का निर्देश

इधर, डीजीपी के जाने के बाद उनके दिये गये निर्देश को अमलीजामा पहनाने के लिए एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो ने सभी सिटी एसपी, डीएसपी व थानाध्यक्ष के साथ बैठक की. इस दौरान उन्होंने उन थानाध्यक्षों को फरार अपराधियों की गिरफ्तारी, वारंट का निष्पादन करने का निर्देश दिया, जहां अपराध का ग्राफ बढ़ा हुआ है. सूत्रों का कहना है कि अधिकांश पटनासिटी इलाके के थाने हैं, जहां हाल के दिनों में अपराध की घटनाएं अधिक हुई हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें