1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus in bihar the second wave of corona in bihar wreaks havoc 14 patients died including director of panchayati raj department asj

Coronavirus in Bihar : बिहार में कोरोना की दूसरी लहर का कहर, पंचायती राज विभाग के निदेशक समेत 14 मरीजों की मौत

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ज्यादा खतरना है कोरोना की यह नयी लहर
ज्यादा खतरना है कोरोना की यह नयी लहर
फाइल

पटना. कोरोना से संक्रमित पंचायती राज विभाग के निदेशक विजय रंजन का मंगलवार को पटना एम्स में निधन हो गया. वह 59 वर्ष के थे. एम्स के कोविड नोडल पदाधिकारी डॉ संजीव कुमार ने बताया कि जांच में कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद उन्हें यहां भर्ती कराया गया था.

डॉक्टरों के मुताबिक उन्हें सांस लेने में परेशानी के साथ ही अन्य तरह की दिक्कतें भी हो रही थीं. उन्हें आइसीयू में रखा गया था. स्वास्थ्य में सुधार नहीं हो रहा था और लगातार ऑक्सीजन का लेवल भी कम होने लगा, जिससे बाद में मौत हो गयी.

इसी साल ही होने वाले थे सेवानिवृत्त

विजय रंजन बिहार प्रशासनिक सेवा के अधिकारी से आइएएस अधिकारी के रूप में प्रमोट हुए थे. पंचायती राज के निदेशक बनने से पूर्व वह बेगूसराय जिले के बछवारा व कुरडेग में बीडीओ, बेतिया, कुर्साकांटा व घोसवारी में सीओ के अलावा हाजीपुर के कार्यकारी मजिस्ट्रेट समेत कई बड़े पदों पर कार्य कर चुके थे.

इसी साल के दिसंबर में वह रिटायर होने वाले थे. उनके निधन पर बिहार आइएएस एसोसिएशन की ओर से शोक व्यक्त किया गया व दिवंगत आत्मा की शांति की कामना की गयी. मालूम हो कि सोमवार को ब्लॉक पंचायती राज पदाधिकारी प्रियरंजन का मौत भी एम्स में कोरोना से हो गयी थी.

विशाली के डीआइओ की पटना एम्स में कोरोना से मौत

वैशाली जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी (डीआइओ) डॉ ललन कुमार राय की मंगलवार को कोरोना संक्रमण से मौत हो गयी. पटना एम्स में उनका इलाज चल रहा था. चार अप्रैल को वह कोरोना संक्रमित हो गये थे. तबीयत ज्यादा खराब होने पर उन्हें पटना एम्स में भर्ती कराया गया था.

कोरोना से मौत के आंकड़ों में उछाल

पटना जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति बिगड़ती जा रही है. नये संक्रमितों की संख्या बढ़ने के साथ कोरोना से मौत के आंकड़ों में भी उछाल आ रहा है. मंगलवार को कोरोना से पीएमसीएच में सात मरीजों समेत 14 की मौत हो गयी.

पीएमसीएच में मरने वाले लोगों में पटना की 50 वर्षीय शैल देवी, 85 साल की मोहनी देवी, मुंगेर निवासी 61 साल के भानु प्रसाद, सीवान के 65 साल के चंद्रशेखर पाठ, रानी चक्रवर्ती, गया के 45 साल के विजय राम और नवादा जिले के 56 वर्षीय संतोष कुमारी शामिल हैं. इसी के साथ यह इस साल में अभी तक एक दिन में सबसे अधिक लोगों की मौत का आंकड़ा है. इससे पहले शनिवार को सबसे अधिक पांच मरीजों ने कोरोना से जान गंवायी थी.

एम्स में दो और की गयी जान

पटना एम्स में मंगलवार को दो व्यक्तियों की मौत कोरोना से हो गयी जबकि 17 नये मरीजों को एडमिट किया गया है. जिनकी जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है. एम्स कोरोना नोडल आॅफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक एम्स में पटना पीसी काॅलोनी कंकड़बाग के 59 वर्षीय विजय रंजन, किदवईपुरी के 84 वर्षीय कृष्ण चंद्र सिन्हा की मौत हो गयी है.

वहीं मंगलवार को एम्स के आइसोलेशन वार्ड में 17 नये मरीजों की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव जिन्हें भर्ती किया गया है. जिनमें पटना, सारण के मरीज शामिल हैं. इसके अलावा एम्स में नौ लोगों ने कोरोना को मात दे दी जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया, वहीं कुल 112 मरीज एडमिट हुए.

कोरोना से चार लोगों की मौत

एनएमसीएच में कोरोना से चार और की मौत हो गयी. मृतकों में लोहिया नगर बेगूसराय निवासी शिवदेव सिंह, 78 वर्षीय चंदर सिंह, पंचरूखी सिवान निवासी 70 वर्षीय नागेंद्र साह और इस्लामपुर नालंदा निवासी 75 वर्षीय फूलवासों देवी शामिल हैं. अस्पताल में अब तक 230 मरीजों की मौत हो चुकी है. वहीं, एनएमसीएच व श्री गुरु गोबिंद सिंह अस्पताल में कोरोना सैंपल की हुई जांच में 76 संक्रमित मरीज मिले हैं.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें