1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus in bihar non covid hospitals in bihar are not getting oxygen ima writes to cm seeking help asj

बिहार में नॉन कोविड अस्पतालों को नहीं मिल रहा ऑक्सीजन, IMA ने सीएम को पत्र लिख मांगी मदद

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ऑक्सीजन
ऑक्सीजन
फाइल फोटो.

साकिब, पटना . जिले के नाॅन कोविड अस्पतालों में आॅक्सीजन की आपूर्ति बाधित हुई है. पटना के 90 अस्पतालों को प्रशासन ने कोविड अस्पताल घोषित कर दिया है. इनमें प्राथमिकता के आधार पर आॅक्सीजन की आपूर्ति करवायी जा रही है. लेकिन इसके बाद बचे नाॅन कोविड अस्पतालों के डाॅक्टर आरोप लगा रहे हैं कि उनके यहां आॅक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो रही है.

जिले के एक प्रख्यात हड्डी रोग विशेषज्ञ के अस्पताल में सारे आॅपरेशन आॅक्सीजन नहीं रहने के कारण बंद कर दिये गये हैं. यही हाल कई दूसरे सर्जनों और अन्य नाॅन कोविड अस्पतालों का है. यहां के डाॅक्टर आरोप लगा रहे हैं कि काफी प्रयास के बाद भी आॅक्सीजन नहीं मिल पा रहा है. ऐसे में नाॅन कोविड मरीजों का इलाज प्रभावित हो रहा है.

आइएमए बिहार के सचिव और सर्जन डाॅ सुनील कुमार सिंह ने कहा कि पटना में 90 कोविड अस्पतालों के अलावा अन्य नाॅन कोविड अस्पतालों को आॅक्सीजन नहीं मिल पा रहा है. केयर अस्पताल नया टोला कुम्हरार जो कि मेरा है, उसमें ही आॅक्सीजन के अभाव में आॅपरेशन बाधित हो रहा है. सिविल सर्जन से लेकर कई वरीय पदाधिकारियों तक गुहार लगा चुका हूं, लेकिन कोई फायदा नहीं हो रहा है.

बंद करना पड़ा अस्पताल

पेडियाट्रिक्स सर्जन, पटना डाॅ अरुण कुमार ने कहा कि मेरे अस्पताल में छोटे बच्चों का आॅपरेशन होता है. अस्पताल में बच्चों के लिए तीन वेंटिलेटर भी हैं. लगातार कई दिन की कोशिशों के बाद भी जब मेरे अस्पताल को आॅक्सीजन नहीं मिल पाया, तो मजबूरन मुझे अस्पताल को बंद करना पड़ा है. ऐसे में अगर किसी नवजात की मौत इलाज के अभाव में हो जाती है, तो इसका जिम्मेदार कौन होगा.

मुजफ्फरपुर से मंगवाना पड़ा ऑक्सीजन सिलिंडर

सर्जन व आइएमए के नेशनल प्रेसिडेंट डाॅ सहजानंद प्रसाद सिंह ने कहा कि जिले में नाॅन कोविड अस्पतालों को आॅक्सीजन मिलने में परेशानी हो रही है. मेरे अस्पताल सहज सर्जरी में मंगलवार को भी पांच सर्जरी हुई हैं. लेकिन पटना में आॅक्सीजन नहीं मिल पा रहा है. ऐसे में मुजफ्फरपुर से आॅक्सीजन सिलिंडर मंगवाना पड़ा है.

कार्डियक बीमारियों से हो रहीं ज्यादा मौतें

जीवक हार्ट अस्पताल के हार्ट सर्जन, डाॅ अजीत प्रधान ने कहा कि आॅक्सीजन की अनिश्चित स्थिति को देखते हुए मुझे मजबूरन अपने यहां हार्ट की प्लांड सर्जरी को बंद करना पड़ा है. इसे रोक नहीं सकते क्योंकि रिसर्च कहती है कि आज भी लोगों की मौत का सबसे बड़ा कारण कार्डियक बीमारियां हैं.

आइएमए ने सीएम को पत्र लिख मांगी मदद

जिले के अस्पतालों में आॅक्सीजन की कमी को देखते हुए अब आइएमए बिहार ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिख कर मदद की गुहार लगायी है. आइएमए बिहार की ओर से उन्हें लिखे पत्र में कहा गया है कि आॅक्सीजन के अभाव में अधिकांश निजी अस्पतालों के बंद होने की संभावना है.

इसमें आइएमए बिहार ने कहा है कि नाॅन कोविड गंभीर मरीजों की संख्या भी काफी अधिक है, जिनकी आॅक्सीजन एवं समुचित इलाज के अभाव में मौत हो सकती है. इसमें आरोप लगाया गया है कि प्रशासन द्वारा गिने-चुने अस्पतालों को आॅक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है जो कि एक गंभीर विषय है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें