1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus in bihar army handed over bihata esic hospital 15 doctors commanded asj

Coronavirus in Bihar : सेना के हवाले हुआ बिहटा का ESIC अस्पताल, 15 डॉक्टरों ने संभाली कमान

राज्य में कोरोना महामारी की दूसरी लहर काफी भयावह होती जा रही है. हर दिन कोविड मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. ऐसे में बिहटा प्रखंड के सिकंदरपुर स्थित इएसआइसी अस्पताल को अब सेना के डाक्टरों के हवाले कर दिया गया है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बिहटा का इएसआइ अस्पताल
बिहटा का इएसआइ अस्पताल
फाइल फोटो

बिहटा. राज्य में कोरोना महामारी की दूसरी लहर काफी भयावह होती जा रही है. हर दिन कोविड मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. ऐसे में बिहटा प्रखंड के सिकंदरपुर स्थित इएसआइसी अस्पताल को अब सेना के डाक्टरों के हवाले कर दिया गया है. 23 दिन पहले कोविड डेडिकेटेड अस्पताल की घोषणा के बाद भी यहां बेहतर तरीके से इलाज शुरू नहीं होने के कारण मरीजाें को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था.

शुक्रवार को इएसआइसी अस्पताल में डॉक्टर सहित वरीय अधिकारी व आर्मी डॉक्टरों की बैठक हुई. इसके बाद यह बातें सामने आयी कि यहां पहले फेज में 100 बेड आइसीयू के साथ फिलहाल कोविड वार्ड शुरू किया जायेगा. इसमें 25 बेड पर क्रिटिकल मरीजों के लिए वेंटिलेटर भी होगा. वहीं आर्मी के नोडल अधिकारी डॉ अर्णव ने बताया कि शुक्रवार से सेना के 15 डॉक्टर सहित 50 नर्सिंग स्टाफ के कमान संभाल ली है.

100 वार्ड बॉय के लिए राज्य सरकार से सहयोग मांगी गयी है. राज्य सरकार ने सभी की प्रतिनियुक्ति कर दी है. वहीं दो चार दिन के अंदर 25 वेंटिलेटर बेड के साथ पूर्ण डॉक्टर की व्यवस्था कर दी जायेगी. डीआरडीओ के तरफ से पिछले साल एक ही बार में 500 बेडों को शुरू किया गया था, जिसे कोरोना मरीज के इलाज में कोई बाधा उत्पन्न नहीं हुई थी. लेकिन इस बार लगातार कभी 50 तो कभी 100 बेड बढ़ाया जा रहा है.

संस्थान के सुपरिटेंडेंट मनमोहन मिश्र ने बताया कि अस्पताल में वेंटिलेटर नहीं होने के कारण मरीज को बड़ी परेशानी होती थी. लेकिन सेना के द्वारा कमान संभालने के बाद मरीजों के लिए आशा की किरण खिली है. जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि इएसआइसी अस्पताल को 500 बेड करना है. यह सब आर्मी के डॉक्टर के हाथ में सौंपी गयी है. आर्मी ने इएसआइसी अस्पताल को हैंड ओवर कर लिया है.

जल्द ही 500 बेड संचालित करेगी. साथ ही सभी आर्मी के डॉक्टरों के रहने की व्यवस्था कॉलेज के वार्ड में की गयी है. इस मौके पर पूर्व जिलाधिकारी कुमार रवि, सेना के अधिकारी आर अग्रवाल, दानापुर डीसीएलआर रवि रंजन, डॉ कृष्ण कुमार ने सभी अधिकारियों के साथ बैठक कर सभी डॉक्टर और अधिकारियों को आदेश दिया कि जल्द ही सभी सुविधाओं से लैस कर कोरोना मरीजों को सुविधा उपलब्ध करायी जाये.

बनाया गया कंट्रोल रूम, पुलिस बल की हुई तैनाती

इएसआइसी बिहटा कोविड अस्पताल में मरीजों के समुचित इलाज की व्यवस्था को लेकर कंट्रोल रूम बना दिया गया है़ इसके साथ ही यहां तीन पालियों में मजिस्ट्रेट व पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है. यह कंट्रोल रूम 24 घंटे कार्यरत रहेगा.

इस कंट्रोल रूम में बिहार प्रशासनिक सेवा के पदाधिकारियों की भी तैनाती की गयी है, ताकि कंट्रोल रूम में हो रहे कार्य की हमेशा मॉनिटरिंग हो सके. कंट्रोल रूम में कार्यरत पदाधिकारियों व कर्मियों को आने वाले शिकायत को रजिस्टर में नोट करने और उसका समाधान करने का निर्देश दिया गया है.

  • वरीय उप समाहर्ता अशोक कुमार तिवारी 9984780000

  • राकेश रंजन-कृषि समन्वयक-9835886017

  • सामंत-कृषि समन्वयक-8936873367

  • सौरभ कुमार-कृषि समन्वयक-7004913074

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें