1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. coronavirus in bihar 72 new corona patients found in bihar only 9 infected found in patna asj

बिहार में मिले कोरोना के 72 नये मरीज, पटना में मिले महज 9 संक्रमित

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
प्रभात खबर

पटना. राज्य के 13 जिलों में नये कोरोना संक्रमित नहीं पाये गये हैं. राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान कुल 72 नये संक्रमित मिले हैं. अररिया, बांका, बेगूसराय, पूर्वी चंपारण, गया, जमुई, मधेपुरा, समस्तीपुर और पश्चिम चंपारण जिले में एक-एक संक्रमित पाये गये हैं.

साथ ही भागलपुर में दो, भोजपुर में तीन, दरभंगा में सात, गोपालगंज व कटिहार में दो-दो, खगड़िया में चार, किशनगंज में सात, मधुबनी में चार, मुंगेर में दो, मुजफ्फरपुर में चार, नालंदा में दो, पटना में नौ, पूर्णिया में दो, सहरसा में पांच नये संक्रमित पाये गये.

राज्य में 3.27 लाख लोगों का हुआ टीकाकरण

राज्य में सोमवार को कुल तीन लाख 27 हजार से अधिक लोगों को कोरोना का टीका दिया गया. पटना में 24061 लोगों को, कटिहार जिले में 17961 लोगों को, सीतामढ़ी जिले में 16529, मुजफ्फरपुर जिले में 16080 लोगों को जबकि पश्चिम चंपारण जिले में 16044 लोगों को टीका दिया गया.

आज शहर के सिर्फ सात सेंटरों पर होगा वैक्सीनेशन

पटना में वैक्सीन की कमी दूर होती नहीं दिख रही है. सोमवार को उपलब्ध ज्यादातर वैक्सीन लोगों को लगायी जा चुकी है और इसी दिन शाम में पटना को मिलने वाली वैक्सीन की नयी खेप मिली नहीं. इसके कारण अब मंगलवार को पटना के ज्यादातर सेंटर बंद रहेंगे. जिले में शहरी क्षेत्र के सिर्फ सात सेंटरों पर वैक्सीन लगायी जायेगी.

शहरी क्षेत्र के ही 38 सेंटर और सभी टीका एक्सप्रेस भी बंद रहेंगी. पटना के जिन सेंटरों में आज वैक्सीन लगेगी, उसमें आइजीआइएमएस, रामदेव महतो सामुदायिक भवन, एसके मेमोरियल हॉल, पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कांप्लेक्स, पाटलिपुत्र अशोक होटल, पॉलिटेक्निक कॉलेज पाटलिपुत्र और पटना वीमेंस कॉलेज सेंटर शामिल हैं.

पटना में लगातार कोरोना वैक्सीनेशन अभियान धीमा पड़ने से लक्ष्य के मुताबिक सफलता हासिल नहीं हो पा रही है. वैक्सीन की कमी का सबसे बुरा प्रभाव ग्रामीण इलाकों पर हो रहा है. वहां वैक्सीनेशन आये दिन बंद रह रहा है.

ब्लैक फंगस का केस नहीं

कोरोना के केस कम होने के बाद अब पटना में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या में भी गिरावट देखी जा रही है. इसका सबसे बड़ा सबूत आइजीआइएमएस है, जहां लगातार ब्लैक फंगस के मरीज कम हो रहे हैं. नये आने वाले मरीजों की संख्या भी कम हुई है.

सोमवार को यहां ब्लैक फंगस का कोई भी नया केस नहीं आया है. पांच दिन के बाद ऐसा हुआ है कि कोई नया केस नहीं आया है. साथ ही किसी की भी मौत नहीं हुई है.

Posted by Ashish Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें